fbpx
Now Reading:
बिहार में मौत पर सियासत, नेता ‘4G’ और बारिश में ढूंढ रहे हैं इलाज का फ़ॉर्मूला

बिहार में मौत पर सियासत, नेता ‘4G’ और बारिश में ढूंढ रहे हैं इलाज का फ़ॉर्मूला

एक तरफ में चमकी बुखार से 108 बच्चों की मौत हो चुकी है तो वहीं दूसरी तरफ इस मुद्दे को लेकर जम कर राजनीति हो रही है. ऐसे में सियासी दलों की बेतुकी बयानबाजी का भी दौर लगातार जारी है. ताजा मामला बीजेपी सांसद अजय निषाद से जुड़ा हुआ है. उन्होंने चमकी बुखार के लिए 4जी को जिम्मेदार ठहराया है. बिहार के मुजफ्फरपुर से सांसद अजय निषाद का कहना है कि गांव, गर्मी, गरीबी और गंदगी चमकी बुखार की सबसे बड़ी वजह है. बीजेपी सांसद ने कहा कि जो भी इलाज के लिए मरीज आते हैं, वह गरीब तबके से होते हैं. ज्यादार अनुसूचित जाति के होते हैं. उनका रहन-सहन का स्तर बहुत नीचे है. उसको भी ऊपर उठाने की जरूरत है.’

तो वहीं जेडीयू सांसद  दिनेश चंद्र यादव ने कहा कि गर्मी के मौसम में  बच्चे बीमार पड़ जाते हैं और मौत के आंकड़े बढ़ जाते हैं,लेकिन बारिश शुरू होते ही यह बंद हो जाएगा.दिनेश चंद्र यादव ने बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के मैच का स्कोर पूछने पर खड़े हुए विवाद पर न सिर्फ मंगल पांडे का बचाव किया बल्कि सफाई देते भी नज़र आये. उन्होंने कहा कि मैच भारत-पाकिस्तान के बीच था ऐसे में जाहिर कि हर कोई इसे लेकर उत्सुक रहेगा.

गौरतलब है कि बिहार में अब तक एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम 108 बच्चों की मौत हो चुकी है. आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर का दौरा किया. उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के साथ नीतीश कुमार ने श्री कृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पहुंच कर बच्चों और उनके परिजनों से मुलाकात की. हालांकि इस दौरान उन्हें विरोध प्रदर्शन का भी सामना करना पड़ा.

Related Post:  नितीश का बिहार फिर हुआ शर्मसार- 80 साल की बुजुर्ग महिला से रेप, विरोध पर जान से मारने की धमकी दी
Input your search keywords and press Enter.