fbpx
Now Reading:
श्रीलंका ब्लास्ट: तमिलनाडु में 7 जगह छापे, आईएस मॉड्यूल का सरगना हिरासत में लिया गया

श्रीलंका ब्लास्ट: तमिलनाडु में 7 जगह छापे, आईएस मॉड्यूल का सरगना हिरासत में लिया गया

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने ईस्टर के दिन श्रीलंका में हुए सीरियल धमाकों के मामले में IS कोयम्बटूर मॉड्यूल के कथित कनेक्शन को लेकर बड़ी कार्रवाई की. एनआईए ने बुधवार को तमिलनाडु में IS कोयम्बटूर के 7 ठिकानों पर छापा मारा. NIA इस बात की जांच करना चाहता है कि क्या भारतीय संदिग्ध और लंका के आतंकियों या उनके हैंडलर में कोई संबंध है. बता दें कि ईस्टर के दिन श्रीलंका में हुए सीरियल बम धमाकों में कम से कम 250 लोगों की मौत हो गई थी.

इंस्पेक्टर जनरल के नेतृत्व में एनआईए की टीम पिछले महीने श्रीलंका धमाकों में कथित IS कोयम्बटूर के कनेक्शन की जांच के लिए कोलंबो गई थी. अधिकारियों के मुताबिक, श्रीलंका धमाकों के मामले में IS कोयम्बटूर मॉड्यूल के खिलाफ भी अलग से एफआईआर दर्ज की गई है. एनआईए टीम का ये दौरा धमाकों की जांच में श्रीलंका की मदद के लिए नहीं हुआ था, बल्कि टीम ये देखने के लिए कोलंबो गई थी कि क्या वहां ऐसे कोई सबूत मिल सकते हैं, जिससे IS कोयम्बटूर का कनेक्शन साबित हो सके.

Related Post:  डीके शिवकुमार फिर बने कांग्रेस के संकटमोचक, मुलाकात के बाद कांग्रेस के बागी विधायक के तेवर हुए नरम

नाम न उजागर करने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया, ‘इस्लामिक स्टेट कोयम्बटूर मॉड्यूल की जांच करते हुए, हम लंका धमाकों के साजिशकर्ता जाहरान हाशिम पर अटके. हमें पता चला है कि उसके बहुत से वीडियो का इस्तेमाल लोगों को गुमराह करने के लिए किया गया है. किसी बड़ी साजिश की जांच करने के लिए हम मॉड्यूल के छोटे सहयोगियों से पूछताछ करते हैं.’

केरल मॉड्यूल भी जांच के दायरे में
श्रीलंका में हुए धमाकों केरल मॉड्यूल का नाम भी सामने आया है. आईएस केरल मॉड्यूल में 21 युवा शामिल हैं, जो जून 2016 में वैश्विक प्रतिबंधित आतंकी संगठन के लिए लड़ने अफगानिस्तान गए थे. इससे पहले साल में ये लोग कुरआन पर एक कोर्स अटेंड करने गए थे. इसमें एक अश्फाक मजीद भी शामिल था, जिसके पिता मुंबई में एक मोटेल चलाते हैं.

Related Post:  जाकिर नाइक ने हिंदुओं पर दिया भड़काऊ बयान, मलेशियाई सरकार ले सकती हैं ये एक्शन

जनवरी में 8 जगहों पर हुई थी छापेमारी
तमिलनाडु के तीन जिलों में 8 अलग-अलग जगहों पर 8 जनवरी को 8 संदिग्धों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. संदिग्धों पर आरोप लगाए गए थे कि वे हिंदुस्तान में हमले को लेकर आईएस के साथ कोई बड़ी साजिश रच रहे हैं. इसके लिए उन्होंने जेल से रिहा हुए लोगों को जिहादी बनाने की तैयारी की थी. जिन लोगों के खिलाफ छापेमारी हुई है उनके नाम हैं-शेख दाऊद, मोहम्मद रियाज, सादिक, मुबरिस अहमद, रिजवान और हमीद अकबर. इन आरोपियों के खिलाफ उनके रामनाथपुरम्, सलेम और चिदंबरम स्थित ठिकानों पर छापे मारे गए.

Related Post:  टेरर फंडिंग मामले में अलगाववादी नेता मसरत आलम, शब्‍बीर शाह और आसिया अंद्राबी न्यायिक हिरासत में भेजे गए

एनआईए सूत्रों की मानें तो जिन आरोपियों के खिलाफ छापेमारी हुई है, उनमें कई लोगों को जांच एजेंसी ने पूछताछ के लिए समन जारी किया था, लेकिन वे हाजिर नहीं हुए. बीते 2 मई को एनआईए ने तमिलनाडु स्थित पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के 8 ठिकानों और तौहीद जमात के 3 स्थानों पर छापे मारे थे.

Input your search keywords and press Enter.