fbpx
Now Reading:
नीरव मोदी और विजय माल्या के लिए मुम्बई की जेल में तैयारियां पूरी, जेल के कमरे में मिलेंगी ये सभी सुविधाएं

नीरव मोदी और विजय माल्या के लिए मुम्बई की जेल में तैयारियां पूरी, जेल के कमरे में मिलेंगी ये सभी सुविधाएं

मुम्बई की आर्थर रोड जेल के अधिकारियों ने दो अरब डॉलर के पीएनबी धोखाधड़ी और धनशोधन के मामले में भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को ब्रिटेन से प्रत्यर्पित किये जाने की सूरत में उसे ‘बैरक संख्या-12’ में रखने की तैयारी कर ली है। गृह विभाग के एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने कहा कि जेल विभाग ने पिछले सप्ताह राज्य के गृह विभाग को आर्थर रोड जेल की स्थिति और नीरव मोदी के बैरक में रखे जाने की सूरत में वहां मुहैया कराई जा सकने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि केन्द्र ने भी हाल ही में राज्य सरकार से यह जानकारी मांगी थी।

मोदी को 19 मार्च को लंदन में स्कॉटलैंड यार्ड के अधिकारियों ने गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल उसे भारत को प्रत्यर्पित करने की तैयारी चल रही है। ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत ने पिछले महीने मोदी की जमानत खारिज कर दी थी। वह इंग्लैंड की एक जेल में बंद है। अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार ने हाल ही में पत्र लिखकर केंद्र को उन सुविधाओं के बारे में आश्वासन दिया है जो जेल में उपलब्ध कराई जा सकती हैं।

Related Post:  भगोड़े नीरव मोदी को बड़ा झटका, लंदन की अदालत में जमानत याचिका खारिज

राज्य सरकार ने पिछले साल शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण के संबंध में केंद्र को ऐसा ही आश्वासन पत्र भेजा था। 9,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोप में भारत में वांछित माल्या फिलहाल ब्रिटेन में है। पत्र केअनुसार अगर मोदी को प्रत्यर्पित किया गया तो उसे आर्थर रोड जेल की बैरक संख्या 12 के दो में से एक कमरे रखा जाएगा।

उन्होंने कहा कि फिलहाल एक कमरे में तीन कैदियों को रखा गया है और एक कमरा खाली है। उन्होंने बताया कि अगर मोदी और माल्या को प्रत्यर्पित किया गया तो उन्हें इसी कमरे में रखा जाएगा, जिसमें तीन पंखे, छह ट्यूब लाइट और दो खिड़कियां हैं। अधिकारी ने कहा कि जेल विभाग ने यह आश्वासन भी दिया कि मोदी को एक ऐसे सेल में रखा जाएगा, जहां अन्य कैदियों की संख्या तीन से अधिक नहीं है।

Related Post:  नीरव मोदी की बढ़ी मुश्किलें, स्विट्जरलैंड में 4 बैंक अकाउंट हुए सीज

उन्होंने कहा कि अगर उन्हें इस बैरक में रखा गया तो उन्हें तीन वर्ग मीटर का निजी स्थान मिल सकता है। इसके अलावा उन्हें एक सूती चटाई, तकिया, बेडशीट और कंबल दिया जाएगा।अधिकारी ने कहा कि उन्हें व्यायाम और मनोरंजन के लिये उचित समय के लिये सेल से बाहर आने की अनुमति दी जाएगी, जो एक दिन में एक घंटे से ज्यादा नहीं होगी।

जेल विभाग ने यह भी आश्वासन दिया कि उन्हें पर्याप्त रोशनी, वेंटिलेशन और निजी सामान के लिए पर्याप्त भंडारण मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि मोदी को प्रतिदिन स्वच्छ पेयजल, रात-दिन चिकित्सा सुविधाएं मिलेंगी। साथ ही शौचालय और धोने की सुविधाएं भी दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि ऐसी सभी सुविधाएं बिना किसी भेदभाव के दी जाएंगी।

Related Post:  Live Update : निर्मला सीतारामण ने राज्यसभा में पेश किया आर्थिक सर्वेक्षण, कल पेश होगा बजट

अधिकारी ने कहा, “चूंकि बैरक अत्यधिक सुरक्षित है और वहां तैनात पुलिसकर्मियों को किसी भी स्थिति को संभालने के लिए अच्छी तरह से प्रशिक्षित किया गया है, लिहाजा वहां यातना या गलत व्यवहार की कोई घटना नहीं हुई है।”

Input your search keywords and press Enter.