fbpx
Now Reading:
बिहार में 106 बच्‍चों की मौत के बाद जागी सरकार, केंद्रीय मंत्री पहुंचे तो नीतीश ने भी की घोषणा
Full Article 3 minutes read

बिहार में 106 बच्‍चों की मौत के बाद जागी सरकार, केंद्रीय मंत्री पहुंचे तो नीतीश ने भी की घोषणा

बिहार में AES (Acute Encephalitis Syndrome ) बीमारी से मासूमों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सरकारी आंकड़ो के अनुसार अब तक AES से 106 बच्चों की मौत हो गई है। जिसके बाद आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन हालात का जायजा लेने मुजफ्फरपुर पहुंच गए हैं। जहां पहुंच डॉ हर्षवर्धन बिमार बच्चों और उनके परिजनों से मुलाकात कर रहे ।

उनके साथ केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय स्वास्थ्य विभाग के सचिव संजय कुमार सहित स्वास्थ्य विभाग के सभी आला अधिकारी मौजूद हैं।

इस साल भी गर्मियों में एईएस के कारण उत्‍तर बिहार में 106 बच्चों की मौत हो चुकी है। इस बीमारी से मौत का आंकड़ा साल 2014 की 86 मौतों को पार कर चुका है। एईएस से सर्वाधिक मौत की बात करें तो एक दशक के दौरान साल 2012 में 120 मौत का रिकार्ड है। इस बीच इलाज में लापरवाही के आरोप भी लगे हैं। बिहार के एक मंत्री ने भी कहा है कि जैसे हालात हैं, उसके अनुसार इलाज की व्‍यवस्‍था नहीं हो सकी है।

एईएस से मौतों के कारण अब मुजफ्फरपुर से पटना-दिल्‍ली तक हाहाकर मच गया है। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन आज बीमारी की स्थिति का जायजा लेने आज मुजफ्फरपुर पहुंचे हैं। इसके पहले पटना पहुंचने पर आज सुबह उन्‍हें पप्‍पू यादव की जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए। पटना में डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि जब तक वे स्थिति का जायजा नहीं ले लेते, कुछ नहीं कह सकत‍े। उन्‍होंने मुजफ्फरपुर से लौटने के बाद इस बाबत बताने का वादा किया।

उत्‍तर बिहार के सबसे बड़े अस्‍पताल श्रीकृष्‍ण मेडिकल कॉलेज व अस्‍पताल (एसकेएमसीएच) में बीमार बच्‍चों की संख्‍या बढ़ती जा रही है। साथ ही बढ़ता जा रहा है मौत का आंकड़ा। उत्‍तर बिहार में एईएस अपने भयावह रूप में आ चुका है। इस मौसम में अब तक 106 बच्‍चों की मौत हो चुकी है।

शनिवार को एसकेएमसीएच में 16 और केजरीवाल अस्पताल में दो बच्चों की मौत हो गई। दोनों अस्पतालों में 64 बच्चों को भर्ती कराया गया है। श‍निवार को एसकेएमसीएच में 38 और केजरीवाल अस्पताल में 26 बच्चों को लाया गया।

मुजफ्फरपुर सदर अस्पताल भी में एक बच्चे का इलाज किया जा रहा है। शनिवार को पूर्व चंपारण में दो और वैशाली में एक बच्चे की मौत हो गई। पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, सीतामढ़ी आदि उत्‍तर बिहार के कई अन्‍य जिलों में भी बीमारी का फैलाव देखा जा रहा है।

Input your search keywords and press Enter.