fbpx
Now Reading:
पेटीएम मॉल में हुआ 10 करोड़ से ज्यादा का कैशबैक फ्रॉड, कंपनी ने की कई कर्मचारियों की छुट्टी

पेटीएम मॉल में हुआ 10 करोड़ से ज्यादा का कैशबैक फ्रॉड, कंपनी ने की कई कर्मचारियों की छुट्टी

ऑनलाइन पेमेंट कंपनी पेटीएम एक बार फिर सुर्ख़ियों में है. वजह है पेटीएम मॉल की ओर से ग्राहकों को दिए जाने वाले कैशबैक में 10 करोड़ रुपये से ज्यादा की धोखाधड़ी. मामले का खुलासा होते ही कंपनी ने कई कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है और सैकड़ों की संख्या में  वेंडर्स को अपने प्लैटफार्म से हटा दिया है. मामले का खुलासा उस समय हुआ जब कंपनी ने छोटे दुकानदारों और वेंडर्स को मिले कुल कैशबैक जांच की है जिसके बाद यह धोखाधड़ी सामने आई.

पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने इस मामले को लेकर कहा कि पिछले कुछ समय से देखने में आ रहा था कि कैशबैक के नाम पर खासी मोटी रकम जा रही है. जिसके बाद कंपनी को थोड़ा शक हुआ. इसी शक की बिना पर कंपनी ने मामले की जांच की. जिसमें सामने आया कि कंपनी के ही कुछ कर्मचारी कैशबैक के नाम पर तय रकम से ज्यादा का भुगतान वेंडर को कर रहे थे. जिसके बाद पेटीएम ने इस फ्रॉड में शामिल कई कर्मचारियों को हटा दिया है. इसके साथ ही कंपनी ने फ्रॉड में शामिल वेंडरों को हटाने की कार्रवाई भी शुरु कर दी है. बताया जा रहा है कि पेटीएम अब नए सिरे से वेंडर्स को अपने प्लेटफार्म से जोड़ेगा. इस दौरान यह ध्यान भी रखा जायेगा कि वेंडर ब्रांडेड हों.

विजय शेखर शर्मा का कहना है कि ऐसे कड़े कदमों से विक्रेताओं की संख्या तो कम हुई है, लेकिन इससे हमारे उपभोक्ताओं को बेहतर पारिस्थितिकी तंत्र मिल सकेगा. हालांकि कुछ खबरों में कहा गया है कि अलीबाबा समर्थित कंपनी के कुछ कर्मचारियों ने तीसरे पक्ष के वेंडरों के साथ सांठगाठ कर फर्जी ऑर्डर के जरिए कैशबैक को इधर-उधर किया. चौथी दुनिया इसकी पुष्टि नहीं करता.

आपको बता दें कि अप्रैल, 2017 में  विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम मॉल की स्थापना की थी. पेटीएम मॉल ने अलीबाबा, सॉफ्टबैंक और एसएआईएफ पार्टनर्स से 650 मिलियन डॉलर यानी करीब साढ़े 45,000 करोड़ रुपए जुटाए हैं. अलीबाबा ग्रुप की कंपनी एंट फाइनेंशियल की पेटीएम मॉल में 42 फीसदी हिस्सेदारी है. इसके अलवा अलीबाबा पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन-91 कम्युनिकेशंस में बड़ी स्टेक होल्डर है.

Input your search keywords and press Enter.