fbpx
Now Reading:
पंजाब: दो पाकिस्तानी ड्रोन बरामद, हथियारों को पहुंचाने के लिए किया गया था इस्तेमाल
Full Article 3 minutes read

पंजाब: दो पाकिस्तानी ड्रोन बरामद, हथियारों को पहुंचाने के लिए किया गया था इस्तेमाल

चंडीगढ़: पंजाब सरकार ने कहा है कि अभी तक दो ड्रोन बरामद किए गये हैं जिनका इस्तेमाल पाकिस्तान से हथियारों को यहां पहुंचाने के लिए किया गया था. अमृतसर में डीएसपी काउंटर इंटेलिजेंस बलबीर सिंह ने कहा, ”22 सितंबर को, खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स के 4 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया था. पूछताछ के दौरान आतंकवादियों ने बताया कि 2 पाकिस्तानी ड्रोन अमृतसर जिले में क्रैश हो गए, ड्रोन के कुछ हिस्सों को बरामद किया गया. ड्रोन की क्षमता 5-6 किलोग्राम थी.

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि एक ड्रोन पिछले महीने बरामद किया गया था जबकि अन्य को तरन तारन के झाबल कस्बे से तीन दिन पहले जली हुई स्थिति में बरामद किया गया. हालांकि अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले शुक्रवार दोपहर अमृतसर में बरामद वस्तु समर्सिबल मोटर का एक पुर्जा निकली. इसके बारे में पुलिस का दावा था कि यह एक ड्रोन है.

प्रवक्ता ने कहा कि पुलिस ने अमृतसर में भारत-पाक सीमा से महज डेढ़ किलोमीटर दूर मोहावा गांव में 13 अगस्त को दुर्घटनाग्रस्त हुए ‘हेक्साकोप्टर ड्रोन’ की बरामदगी के बाद सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गयी थी. यह बरामदगी अमृतसर (ग्रामीण) पुलिस को आई एक अज्ञात फोन काल के बाद हुई जिसमें जानकारी दी गयी कि मोहावा गांव के धान के खेतों में पंखे जैसी कोई चीज दिखायी दी है.

प्रवक्ता ने बताया कि जांच में पाया गया कि बरामद किए गए ड्रोन का मॉडल ‘यू10 केवी100-यू’ था और इसकी डिजाइन और निर्माण चीनी कंपनी टी मोटर्स ने किया था. हेक्साकॉप्टर में ईंट के आकार की चार बैटरियां भी लगी हुईं मिलीं. जांच में सामने आया कि इस तरह के हेक्साकॉप्टर ड्रोन में 21 किलोग्राम की पेलोड क्षमता होती है और अलग अलग पुर्जों को जोड़कर बनाया गया हो सकता है.

बाद में इसकी तकनीकी जांच करने पर पाया गया कि क्रैश लैंडिंग की वजह से 20 से 25 किलोग्राम का यह ड्रोन क्षतिग्रस्त हो गया था. ड्रोन के ब्योरों को तत्काल केंद्र सरकार के साथ साझा किया गया ताकि संबंधित केंद्रीय एजेंसियों से विस्तार से तकनीकी जांच कराने की अनुमति मिल सके.

राज्य सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के समक्ष भारत-पाक सीमा से होकर बड़े आकार के ड्रोनों की आवाजाही पर चिंता जाहिर की. पंजाब में हथियार गिराने के लिए पाकिस्तान द्वारा चीनी ड्रोनों के इस्तेमाल पर गंभीर संज्ञान लेते हुए सेना और बीएसएफ ने बृहस्पतिवार को पूरी भारत-पाकिस्तान सीमा और नियंत्रण रेखा पर अलर्ट घोषित किया था.

Input your search keywords and press Enter.