fbpx
Now Reading:
यूपी: योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘कांग्रेस के नामदार राहुल गांधी नहीं ‘राउल विंसी’ हैं

यूपी: योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘कांग्रेस के नामदार राहुल गांधी नहीं ‘राउल विंसी’ हैं

rahul gandhi is rahul vinci yogi

कानपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जोरदार हमला बोलते हुए रविवार को कहा कि अपने छद्म नाम से देश को बेवकूफ बनाने वाले ‘राउल विंसी’ के इस छल को देश कभी स्वीकार नहीं करेगा.

योगी ने अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र के तहत कानपुर देहात के घाटमपुर में आयोजित चुनावी सभा में कहा. ‘कांग्रेस के जिस नामदार को आप राहुल गांधी के तौर पर जानते हैं, उसका वास्तविक नाम तो राहुल गांधी है ही नहीं. देश राहुल गांधी के नाम पर बेवकूफ बनता था. उसका नाम तो राउल विंसी है. मुझे आश्चर्य होता है देश के आंखों में धूल झोंकने का कितना बड़ा पाप कांग्रेस कर रही है. राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा का वास्तविक नाम देश की जनता के सामने आना ही चाहिये.’

योगी ने कहा, ‘ब्रिटेन और इटली जाकर खुद को राउल विंसी कहेंगे और भारत में आकर छद्म नाम से राहुल गांधी बन जाएंगे. इनके पूर्वज कहते थे कि वे ‘एक्सीडेंटल हिन्दू’ हैं, और यहां पर खुद को हिन्दू दिखाने का काम करोगे। यह सब नहीं चल पायेगा। देश इसको स्वीकार नहीं करेगा.’ योगी ने जनता से कहा कि बहकावे में आने की आवश्यकता नहीं है. अगर कोई आपको बहकाने का प्रयास कर रहा है तो उसके वास्तविक कागजात चेक करो. कांग्रेस कब तक भारत की एकता और अखण्डता से खिलवाड़ करेगी?

Related Post:  UP: चौकीदारों की पार्टी में BJP प्रत्याशी साक्षी महाराज पर सर्वाधिक गंभीर आपराधिक धाराएं

मुख्यमंत्री ने हरदोई में कहा कि रामजन्मभूमि, रामपुर के सीआरपीएफ कैम्प और काशी में संकटमोचन मंदिर पर आतंकवादी हमले के वक्त प्रदेश में सपा की सरकार थी. रामजन्मभूमि पर हमला करने वाले दहशतगर्द सपा का झंडा लेकर गये थे और जब सपा की 2012 में सरकार आयी तो उन्होंने सबसे पहला फैसला आतंकवादियों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने का लिया था.

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस, सपा और बसपा, जिनकी सरकार में आतंकवाद को प्रेरित करने के लिये होड़ लगी रहती थी, एक दूसरे को नीचा दिखाने के लिये आतंकवादियों को देश में प्रश्रय देते थे, उनके मुकदमों को वापस लेते थे, क्या उन लोगों से उम्मीद करते हैं कि वे आतंकवाद का मुकाबला करेंगे? आज हमारे सैनिक दुश्मन देश की सीमा में घुसकर आतंकवाद की कमर तोड़ रहे हैं. ऐसा इसलिये है क्योंकि देश के पास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूप में दुनिया का सबसे शक्तिशाली नेता है.

Related Post:  उत्तर प्रदेश के बलिया में कार्टून दिखाने के नाम पर दस साल की बच्ची के साथ रेप, आरोपी गिरफ्तार

योगी ने कहा कि जब मैंने बजरंग बली का नाम लिया तो सपा, बसपा और कांग्रेस में इतनी चिल्लाहट हो गयी. भगवान इन हरिद्रोहियों को सद्बुद्धि दे दे. जो लोग कल तक कहते थे कि हम राम और कृष्ण पर विश्वास नहीं करते. वे अब बजरंग बली की ताकत देखकर कहने लगे हैं कि हम भी तो बजरंग बली के भक्त हैं.

उन्होंने कहा ‘मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि क्या देश के अंदर रामद्रोही सरकार होनी चाहिये… क्या कृष्णद्रोही सरकार होनी चाहिये. हिन्दुओं को आतंकवादी ठहराने वाली सरकार होनी चाहिये. बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर का अपमान करने वाली सरकार होनी चाहिये? सपा, बसपा और कांग्रेस तो यही काम कर रही हैं.’ मुख्यमंत्री ने रामपुर की जनसभा में इस सीट से बीजेपी उम्मीदवार जया प्रदा पर विवादित टिप्पणी करने वाले सपा प्रत्याशी आजम खान को ‘कलंक’ बताया.

Related Post:  क़ौमी एकता: मुस्लिम परिवार ने कर्मचारी के लिए निभाई तेरहवीं की रस्म, ब्राह्मण भोज में शामिल हुए हजारों लोग

उन्होंने कहा ‘यह अकेली जया प्रदा की बात नहीं है. आजम खान ने पूरी नारी जाति का अपमान किया है और रामपुर इसका जोरदार जवाब देगा. यह रामपुर के कलंक को हमेशा के लिये राजनीति से बेदखल करने का काम भी करेगा. रामपुर को एक बार फिर रामपुर के अनुरूप ही बनाना है.’ योगी ने लखीमपुर खीरी के निघासन में कहा कि यह देश मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहता है. पूरे देश के हर देशभक्त नागरिक के मन में बस मोदी का ही नाम है.

Input your search keywords and press Enter.