fbpx
Now Reading:
जयपुर का सीरियल रेपिस्ट जीवाणु गिरफ्तार, मासूम बच्चियां को बनाता है हवस का शिकार

जयपुर का सीरियल रेपिस्ट जीवाणु गिरफ्तार, मासूम बच्चियां को बनाता है हवस का शिकार

पुलिस ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए सीरियल रेपिस्ट जीवाणु उर्फ सिकंदर को धर दबोचा है. जो जयपुर में 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म करने के बाद कोटा में छिपा हुआ था. सिकंदर इससे पहले भी 2014 और 2015 में छोटी बच्चियों से दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार हो चुका है जो फ़िलहाल जमानत पर है. बीते 22 जून और 1 जुलाई को भी इसने जयपुर में 2 छोटी बच्चियों के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था.

बताया जाता है कि जीवाणु उर्फ सिकंदर की वजह से जयपुर शहर में बीते 5 दिनों से तनाव व्याप्त था. हालत इतने बत्तर थे कि पुराने शहर में इंटरनेट सेवाएं तक बंद करनी पड़ गई थीं. दरअसल सिंकदर की पहचान उस सीसीटीवी फुटेज से हुई जिसमें वह बच्ची को मोटरसाइकिल पर बैठाकर ले जाते हुए नजर आ रहा था. जिसके बाद जयपुर पुलिस ने अपराधियों की सूची खंगालने शुरू की तो सिकंदर का पता चला. दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने के लिए सिकंदर मासूम बच्चियों को बहला फुसलाकर सूनसान जगह पर ले जाता और दुष्कर्म करके वहीं छोड़ देता.

Related Post:  चूड़ी और मंगलसूत्र पहनकर बच्चे ने लगाई फांसी, वजह जानकार रह जाएंगे हैरान

मिली जानकारी के मुताबिक सिंकदर ने साल 2001 में पहली बार दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था. तब नाबालिग होने की वजह से वह छूट गया था. तो वहीं साल 2014 में भी एक छोटी बच्ची के साथ दुष्कर्म औइर फिर उसकी हत्या के मामले में उसे आजीवन कारावास की सजा मिली थी, लेकिन 2015 में उसे जमानत मिल गई.

पुलिस की पूछताछ में सिकंदर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है कि उसने ही 1 जुलाई और 22 जून को जयपुर के शास्त्रीनगर इलाके में 7 साल और 4 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था. साल 2015 में जमानत पर बाहर आने के बाद उसने भट्टा बस्ती इलाके में दो बच्चों से छेड़छाड़ की थी, तब पुलिस ने उसे गिरफ्तार भी किया था, लेकिन वो पुलिसकर्मियों पर सरिए से हमला कर भाग निकला था. सिकंदर पर 12 मामले दर्ज हैं और वह 6 बार जेल जा चुका है.

Related Post:  अलवर मॉब लिंचिंग: पहलू खान की हत्या के मामले में कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को किया बरी

गौरतलब है कि जयपुर में सिकंदर के चलते जयपुर में बढ़ रहे सांप्रदायिक तनाव को देखते हुए पुलिस ने 400 पुलिसकर्मियों की 20 टीमें बनाई थीं. पुलिस उसके मोबाइल नंबर की लोकेशन को खंगालते हुएकोटा तक पहुंची. जहां बीते शनिवार की शाम 5:00 बजे जब वह कोटा में भीमगंज में बाबू चाय वाले की दूकान पर चाय पी रहा था तभी पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

1 comment

  • arunesh

    […] post जयपुर का सीरियल &#2352… appeared first on Hindi News, हिंदी […]

Input your search keywords and press Enter.