fbpx
Now Reading:
पटना: बाहर जलती थी अगरबत्ती अंदर होता था सेक्स का व्यापार, पुलिस ने पति-पत्नी को किया गिरफ्तार
Full Article 2 minutes read

पटना: बाहर जलती थी अगरबत्ती अंदर होता था सेक्स का व्यापार, पुलिस ने पति-पत्नी को किया गिरफ्तार

बिहार पुलिस ने एक ऑनलाइन सेक्स रैकेट चलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है.राजधानी पटना के सबसे पॉश इलाके पाटलिपुत्र कॉलोनी में चलने वाले एक हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है. यह सेक्स रैकेट व्हाट्सएप के जरिए चलाया जा रहा था. यहां विदेशी लड़कियों को भी बुलाया जाता था. इस मामले में पुलिस ने पति-पत्नी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

पाटलिपुत्र थाने की पुलिस ने नेहरूनगर के ग्रैंड अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर डी-8 में चल रहे सेक्स रैकेट की संचालिका रानी थापा, उसके पति सुजीत कुमार, ग्राहक सुनील कुमार को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है. इसके साथ ही फ्लैट पर जिस्मफरोशी के धंधे के लिए लायी गयी एक युवती को पुलिस ने मुक्त भी कराया है.

Related Post:  बिहार में जंगलराज कायम मधुबनी में पत्रकार को सरेआम मारी गोली, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

जानकारी देते हुए थानेदार कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि यह पता लगाया जा रहा है कि यह फ्लैट किसका है. पुलिस को जब इस बात की जानकारी मिली कि ग्रैंड अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर डी-8 से सेक्स रैकेट संचालित किया जाता है. व्हाट्सएप के जरिए लड़कियों की तस्वीरें ग्राहकों को भेजा करते थे और इसी फ्लैट में ग्राहकों को बुलाया जाता था.

सोमवार की रात पुलिस ने फ्लैट में छापेमारी की और सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया. इस फ्लैट से पुलिस ने मुख्य आरोपी संजीत कुमार, उसकी पत्नी रानी थापा और सुनील कुमार नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया.सभी आरोपियों को आज कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया. पूछताछ के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि संजीत कुमार पटना का निवासी है जबकि उसकी पत्नी रानी थापा बोकारो की रहने वाली है.

Related Post:  शिक्षक को मारी गोली और हुआ मॉब लिचिंग का शिकार, भीड़ ने पीट-पीटकर ली जान

सुनील कुमार भी बोकारो का रहने वाला है.आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह इस फ्लैट से पिछले 5 साल से सेक्स रैकेट चला रहे थे. ग्राहकों से एक घंटे के बदले 5 हजार और 2 घंटे के लिए दस हजार वसूले जाते थे. आरोपियों ने बताया कि ग्राहकों की डिमांड पर दिल्ली, कोलकाता, नेपाल और बांग्लादेश से भी लड़कियां बुलाई जाती थीं.

Input your search keywords and press Enter.