fbpx
Now Reading:
भाजपा चौकीदार जीतू वाघानी का बेटा परीक्षा में नकल करता पकड़ाया, 27 पर्चियों भी बरामद

भाजपा चौकीदार जीतू वाघानी का बेटा परीक्षा में नकल करता पकड़ाया, 27 पर्चियों भी बरामद

Gujarat BJP chief Jitu Vaghani’s son caught cheating in college exams

गुजरात: खुद को देश का चौकीदार बताने वाली पार्टी बीजेपी के लिए शर्मसार करने वाली एक खबर है। उनके गुजरात के चौकीदार यानी प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघानी का बेटा चोरी करते हुए पकड़ा गया है। लेकिन इस चोरी पर चौकीदार मुख्यमंत्री विजय रुपानी से लेकर बीजेपी के हर नेता खामोश हैं। गुजरात प्रदेश भाजपाध्यक्ष और भावनगर के विधायक जीतू भाई वाघाणी का बेटा मीत वाघाणी शुक्रवार को एम.के.बी. यूनिवर्सिटी की परीक्षा में एम.जे. कॉमर्स कॉलेज से 27 पर्चियों के साथ नकल करता हुआ पकड़ा गया। मामला सत्ताधारी चौकीदार का है तो अब यूनिवर्सिटी को भी खामोश कर दिया गया है।

चौकीदार ने भले ही सबको खामोश कर दिया है लेकिन इस मामले से जुडी पूरी जानकारी हमारे हाँथ लग गई है। गुजरात बीजेपी अध्यक्ष जीतू वाघानी का बेटा मीत वाघानी एम।जे। कॉमर्स कॉलेज का छात्र है। इन दिनों विश्वविद्यालय की परीक्षा चल रही है जिसमे मीत भी परीक्षा दे रहा है।

Related Post:  मतगणना के बीच NDA की बंपर जीत के मद्देनज़र BJP अध्यक्ष पहुंचे मुख्यालय समर्थकों ने किया स्वागत

जब परीक्षा केंद्र पर सुबह 11:30 बजे परीक्षा शुरू होने वाली थी तभी परीक्षक सुपरवाइजर वर्षा बा गोहिल को शक हुआ की परीक्षार्थियों के पास नक़ल करने की सामग्री है। जिसके बाद उन्होंने सभी परिक्षर्तियों को कहा कि, जिसके जिसके पास चिटठा है वो जमा करा दे। लेकिन किसी ने भी पर्ची जमा नहीं कराई। इसके 15 मिनट बाद उन्हें एक परीक्षार्थी की आंसरशीट कुछ उभरी हुई दिखाई दी। इससे उससे पूछताछ की गई। उसकी जांच करने पर उसके पास से करीब 27 पर्चियां मिली।

Related Post:  गुजरात- मेहसाणा में घोड़ी पर चढ़ा दलित दूल्हा तो सरंपच ने कर दिया पूरे समाज का बहिष्कार, सरपंच गिरफ्तार

जब जांच की गई तो पकडे गए छात्र ने रौब दिखाना शुरू कार्ड दिया। उसने वहां मौजूद परीक्षकों को ये कहकर धमकाना शुरू कर दिया की वो बीजेपी अध्यक्ष जीतू वाघानी का बेटा है। जब आगे जांच की गई तो पता चला सीट नम्बर 21210066 से पकडे गए छात्र का नाम मीत जीतूभाई वाघाणी है। इसके बाद सुपरवाइज़र ने उसके पास से नकल की सामग्री मिलने का मामला बनाकर कॉलेज के प्रिंसीपल के।जे।वाटलिया को सौंप दिया। परीक्षार्थी को क्लास रूम से बाहर निकाल दिया।

Related Post:  नाथूराम देशभक्त: साध्वी प्रज्ञा के आत्मघाती बयान पर फंसी BJP, माफ़ी मांगने को कहा

क्लास रूम से बाहर निकाले जाने के बाद मीत ने फोन कर इसकी जानकारी दी। पूरा मामला यूनिवर्सिटी केम्पस में कुलपति कार्यालय पहुंचा। इस दौरान प्रिंसीपल वाटलिया अंडरग्राउंड हो गए। इस दौरान उन्होंने अपना मोबाइल भी स्वीच ऑफ कर दिया। बाद में जब उनसे बात हुई, तो उन्होंने गोल-मोल जवाब दिया। सुपरवाइजर ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।

जब इस मामले पर बीजेपी अध्यक्ष जीतू वाघानी से पुछा गया तो उन्होंने कहा कि, मेरा बेटा परीक्षा में नकल करता हुआ पकड़ा गया है। उसने भूल की है। सभी विद्यार्थियों पर जो नियम लागू होते हैं, उस पर भी लागू होने चाहिए।

Input your search keywords and press Enter.