fbpx
Now Reading:
‘जाति’ की जंग में कूदी प्रियंका, कहा मुझे नहीं मालूम प्रधानमंत्री की जाति
Full Article 2 minutes read

‘जाति’ की जंग में कूदी प्रियंका, कहा मुझे नहीं मालूम प्रधानमंत्री की जाति

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जाति को लेकर देश की सियासत गरमाती जा रही है. जहां एक तरफ बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमों मायावती और आरजेडी नेता पीएम मोदी पर हमलावर है. तो वही अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी इस लड़ाई में कूद पड़ी हैं. आज पीएम मोदी की जाति को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में प्रियंका गांधी ने कहा कि मुझे नहीं मालूम कि प्रधानमंत्री की जाति क्या है. इसके साथ ही उनका कहना था कि विपक्ष ने कभी इस तरीके से बात नहीं की है.

दरअसल यूपी के कन्नौज में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सपा-बसपा गठबंधन पर हल्ला बोलते हुए कहा था कि ये दोनों पार्टियां उनकी जाति को लेकर प्रमाण पत्र बांट रही हैं, जो खेल उन्होंने कभी खेला नहीं.

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा था कि वे तो छोटी जाति से आते हैं और अति पिछड़े वर्ग में पैदा हुए. जिसके तुरंत बाद मायावती ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी पर पलटवार करते हुए कहा था कि पीएम नरेंद्र मोदी अगड़ी जाति से आते थे, लेकिन गुजरात में अपनी सरकार के दौरान इन्होंने अपनी जाति को पिछड़ी जाति में शामिल करवा दिया. वहीं इससे पहले मैनपुरी की चुनावी रैली में भी पीएम मोदी पर हमलावर होते हुए बसपा सुप्रीमों ने कहा था कि मुलायम सिंह असल में पिछड़ी जाति के नेता हैं, जबकि मोदी फर्जी पिछड़ी जाति के हैं.

राहुल गांधी के लिए चुनाव प्रचार कार्यक्रम में अमेठी पहुंची प्रियंका गांधी ने राष्ट्रवाद के मुद्दे पर भी बीजेपी को आड़े हाथों लिया है. बीजेपी के राष्ट्रवाद पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी प्रत्याशियों द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट मांगना आखिर किस तरह का राष्ट्रवाद है? उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि मैं ही मोदी में कौन सा राष्ट्रवाद है? राष्ट्रवाद का क्या मतलब है. इसका मतलब है देशभक्ति और देशप्रेम. देश कौन है… देश की जनता और उसका प्रेम है. इसके साथ ही प्रियंका ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कह कि अगर आपको सिर्फ अपना ही मोह है तो यह कैसा राष्ट्रवाद है?

Input your search keywords and press Enter.