fbpx
Now Reading:
दिल्ली में गैंगवार- आधे घंटे तक चली गोलियां,एक बदमाश को दूसरे ने मारी गोली, दूसरा पुलिस की गोली का हुआ शिकार

दिल्ली में गैंगवार- आधे घंटे तक चली गोलियां,एक बदमाश को दूसरे ने मारी गोली, दूसरा पुलिस की गोली का हुआ शिकार

देश राजधानी दिल्ली का द्वारका इलाका एक बार गोलियों की गूंज से थर्रा उठा। सरेआम बीच सड़क पर जमकर गोलियां चलीं और दो लोग मारे भी गए। लेकिन लोग इस बात को लेकर हैरत में थे की आखिर दिल्ली पुलिस कहाँ थी । रविवार शाम दिल्ली के द्वारका इलाके में हुई गैंगवार में दो बदमाशों की गोली लगने से मौत हो गई और एक घायल है। बदमाशों के दो गैंगों के बीच हुई इस मुठभेड़ में दोनों तरफ से करीब 15 राउंड फायरिंग हुई।

चश्मदीदों के मुताबिक, दिल्ली के द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन के नीचे रविवार दाेपहर 3।30 बजे कुछ बदमाशों ने एक कार पर फायरिंग शुरू कर दी। करीब 15 राउंड फायरिंग हुई। फायरिंग में कार में सवार एक शख्स मारा गया। फायरिंग की आवाज सुन सड़क के दूसरी तरफ खड़ी पीसीआर वैन में तैनात पुलिसकर्मियों ने फायरिंग कर रहे बदमाशों को ललकारा, तो बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में पीसीआर के कांस्टेबल नरेश की गाेली से हत्या करने वाला बदमाश भी मारा गया। जिस शख्स की कार में मौत हुई उसका नाम प्रवीण गहलोत था। जो मंजीत महल गैंग से ताल्लुक रखता था। वहीं प्रवीण को गोली मारने वाले बदमाश का नाम विकास दलाल था।

Related Post:  8 साल बाद पकड़ा गया 'पीकॉक गर्ल' का 'हत्यारा', पुलिस को क़ातिल की अस्पताल में मिली लाश

प्रवीण, महाल गैंग का बदमाश है और उसका फाइनेंसर बताया जा रहा है। जबकि विकास, सोलंकी गैंग का बदमाश है। वारदात की सूचना मिलने पर जिला पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। विकास दलाल ने प्रवीण गहलोत को काफी नजदीक से गोलियां मारी थीं।

पश्चिमी रेंज के संयुक्त आयुक्त मधुप तिवारी ने बताया कि द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन के नीचे एक स्विफ्ट कार चालक ने आगे चल रही रिट्ज कार को ओवरटेक कर रोका। रिट्ज कार में सवार प्रवीण गहलोत जब तक कुछ समझ पाता, इससे पहले ही विकास दलाल ने उसकी कार के अगले शीशे पर ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दीं। जब विकास को लगा कि कार में चालक सीट पर बैठे प्रवीण गहलोत को गोली नहीं लगी है तो उसने दरवाजा खोलकर उस पर कई राउंड गोलियां चलाईं।

Related Post:  26 /11 के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज के खिलाफ पाक की कार्रवाई महज दिखावा, आंखों में धूल झोंकने की कोशिश

गोलियों की आवाज़ सुनते ही पीसीआर कॉन्स्टेबल नरेश ने डिवाइडर फांदकर दूसरी ओर गए और बदमाश विकास को सरेंडर करने के लिए कहा। लेकिन विकास ने नरेश की ओर भी गोलियां चलानी शुरू कर दीं। नरेश ने जवाबी फायरिंग में 3 गालियां चलाईं, जिसमें से 1 गोली विकास को जा लगी और वह घायल होकर गिर गया। इस मुठभेड़ में एक अन्य बदमाश को भी गोली लगी। उसके बाद वह अपने एक अन्य साथी के साथ फरार हो गया। मुठभेड़ की जानकारी 3।51 बजे पुलिस को मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रवीण और विकास, दोनों को अलग-अलग अस्पताल में भर्ती कराया था। इस मामले में केस दर्ज कर जांच के लिए करीब आधा दर्जन टीमें गठित कर दी गई हैं।

Related Post:  आज केरल पहुंचेगा मानसून, MP और राजस्थान में फिलहाल गर्मी से राहत नहीं, कई इलाकों में पानी की किल्लत
Input your search keywords and press Enter.