fbpx
Now Reading:
उन्नाव गैंगरेप मामले में योगी सरकार की पहली कार्रवाई, 7 पुलिसकर्मी सस्पेंड
Full Article 2 minutes read

उन्नाव गैंगरेप मामले में योगी सरकार की पहली कार्रवाई, 7 पुलिसकर्मी सस्पेंड

उन्नाव गैंगरेप (Unnao Gangrape) पीड़िता के मामले में लापरवाही बरतने पर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath Government) ने पहली कार्रवाई की है. जिले के एसपी विक्रांत वीर ने रविवार की देर शाम 7 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया. एसपी ने बिहार थाना प्रभारी अजय त्रिपाठी समेत दो दरोगाओं और चार सिपाहियों को निलम्बित कर दिया है.

विकास पांडेय को सौंपी गई बिहार थाने की कमान
एसपी ने सर्विलांस व स्वाट टीम प्रभारी विकास पांडेय को बिहार थाने की कमान सौंपी है. वही अनावरण एवं विवेचना शाखा में तैनात निरीक्षक राजेंद्र सिंह को सर्विलांस और स्वाट टीम का प्रभारी बनाया गया है, जबकि हल्का इंचार्ज अरविन्द सिंह रघुवंशी, एसआई श्रीराम तिवारी, बीट आरक्षी पंकज यादव, मनोज और संदीप कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. उधर, कार्रवाई के बाद थाने में तैनात पुलिसकर्मियों में खलबली मची हुई है.

इन पुलिसकर्मियों को किया गया निलंबित

3. उ0नि0 श्री श्रीराम तिवारी,
4. बीट आरक्षी अब्दुल वसीम,
5. आरक्षी पंकज यादव,
6. आरक्षी मनोज
Input your search keywords and press Enter.