fbpx
Now Reading:
एक के बाद एक 5 हत्याओं से दहला अमरोहा, 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली
Full Article 3 minutes read

एक के बाद एक 5 हत्याओं से दहला अमरोहा, 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लाख कोशिशों के बाद भी कानून व्यवस्था का बुरा हाल है.हालाकिं अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार का मिशन एनकाउंटर जारी है, लेकिन इसके बावजूद भी अपराधी बेख़ौफ़ घूम रहे हैं.

ताजा मामला अमरोहा का है. जहां बीते 24 घंटों में 5 लोगों की हत्या कर दी गई है. 24 घंटे में 2 छात्र 1 महिला 2 किसान को मौत के घाट उतार दिया गया.अमरोहा जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर हुई 5 हत्याओं से दहशत का माहौल बन गया है. साथ ही इस घटना ने सूबे के मुख्यमंत्री और पुलिस विभाग के तमाम दावों की पोल खोल दी है.

मिली जानकारी के मुताबिक पहले मामले में थाना हसनपुर के डगरपुर गांव के प्रधान के बेटे को अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी. उसका शव गन्ने के खेत से बरामद हुआ. जो कक्षा 11 का छात्र था.  जबकि दूसरा मामला अमरोहा देहात इलाके का है जहां के मानकजुड़ी गांव से दवाई लेने जा रही महिला की हत्या कर दी गई. उसका शव गांव के पास खेत में मिला, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या करने की पुष्टि की गयी है.

तीसरा मामला थाना गजरौला इलाके के महमूदपुर का है. जहां अज्ञात लोगों ने शौच के लिए गए सातवीं क्लास का छात्र की हत्या कर दी. चौथा मामला थाना नोगावा सादात इलाके का है जहां आम के बाग से लकड़ी लेने गए किसान की हत्या कर दी गयी. जबकि पांचवां मामला थाना अमरोहा देहात इलाके में सामने आया जहां रेलवे ट्रेक के पास युवक का शव मिलने से इलाके में सनसनी फ़ैलगई.

एक ही जिले में एक के बाद एक हुई ताबड़तोड़ हत्याओं के बाद पुलिस विभाग की दक्षता पर सवाल खड़े हो गए हैं. विपक्षी दल इस मुद्दे को लेकर योगी सराकर पर हमलावर हैं. कांग्रेस के प्रदेश सचिव सचिन चौधरी ने योगी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था इनके हाथ से बाहर है और अब गुंडा राज है. जनता जानना चाहती है इन्हें इंसाफ कब मिलेगा. आज की स्थिति यह है कि हर सुबह जब हम उठते हैं तो कोई न कोई लाश जरूर मिलती है. अब कानून व्यवस्था खत्म हो चुकी है.

साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे की भी मांग की है. उन्होंने कहा कि सीएम योगी को अब माफी मांगनी चाहिए और अब वक्त आ गया है उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए. ढोंगी बाबा को बैठा दिया है लेकिन अब इनका राज खुल चुका है. पूजा पाठ वाले के हाथ में सरकार दे दी है. ना बीवी है ना बच्चे हैं, इन्हें क्या दर्द होगा. जिसके बच्चे होते हैं उसे दर्द होता है ना. इनके बच्चे हैं नहीं तो इन्हें क्या पता बच्चे के दर्द क्या होता है. तो वहीं दूसरी तरफ पुलिस भी इस मामले में कुछ भी कहने  से बच रही है.

Input your search keywords and press Enter.