fbpx
Now Reading:
पश्चिम बंगाल की स्थिति के लिये BJP-RSS जिम्मेदार, चुनाव आयोग भी निष्पक्ष नहीं- मायावती

पश्चिम बंगाल की स्थिति के लिये BJP-RSS जिम्मेदार, चुनाव आयोग भी निष्पक्ष नहीं- मायावती

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को कहा कि देश में जब से लोकसभा चुनाव की घोषणा हुई है तबसे खासकर बंगाल में आए दिन कोई ना कोई खबर जरूर सुर्खियों में रहती है जिसके लिए वहां पूरे तौर से बीजेपी और आरएसएस के लोग ही जिम्मेदार है.

मायावती ने कहा ‘खासकर इस चुनाव में जहां तक बंगाल में आये दिन चुनावी हिंसा व बवाल आदि होने का सवाल है तो ऐसा साफ तौर से लगता है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व इनके चेले अमित शाह के नेतृत्व में उनकी पूरी पार्टी व सरकार ने सोची-समझी रणनीति के तहत ही ममता बनर्जी सरकार को निशाने पर लिया हुआ है. चुनाव में इनको षड्यन्त्र के तहत निशाना बनाया जा रहा है.

Related Post:  पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा जारी, मंत्री के काफिले पर हमला, TMC दफ्तर में लूटपाट

उन्होंने कहा, ‘इतना ही नहीं बल्कि अब तो वहां ये दोनों गुरु व चेले जिस प्रकार से हाथ धोकर ममता बनर्जी व उनकी पार्टी के पीछे पड़े हैं वह एक खतरनाक प्रवृत्ति है जो कतई भी उचित व न्यायसंगत नहीं है.’

मायावती ने कहा कि इससे भी ज्यादा दुःख की बात यह है कि केन्द्र सरकार के दबाव में आकर चुनाव आयोग ने एक दिन पहले वहां चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है और वह भी वहां आज पीएम की दो रैलियों के बाद. इसकी हमारी पार्टी कड़े शब्दों में निन्दा करती है.

Related Post:  मोदी हमारे नहीं, सिर्फ 1% लोगों के पीएम हैं-अखिलेश यादव

उन्होंने कहा कि यह साफ जाहिर है कि वर्तमान मुख्य चुनाव आयुक्त के रहते इस बार लोकसभा चुनाव पूरे तौर से स्वतन्त्र व निष्पक्ष नहीं हो रहा है जिससे लोकतन्त्र को भारी आघात पहुँच रहा है. यह अति-निन्दनीय व अति शर्मनाक भी है.

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि यह सब देश के प्रधानमंत्री को बिल्कुल भी शोभा नहीं देता.

उन्होंने कहा, ‘ वास्तव में बीजेपी व मोदी की कोशिश यह है कि बंगाल के मुद्दे को इतना ज्यादा गर्माया जाये कि बाकी सभी मुद्दों से फिर लोगों का ध्यान भटक जाए. लेकिन अब देश की जनता बीजेपी की इन सब साजिशों को खूब समझने लगी है और अब यूपी की तरह बंगाल की भी जनता बीजेपी को इसका करारा जवाब जरूर देगी.’’

Related Post:  मोदी का रथ रोकने के लिए केंद्र में भी कांग्रेस का कर्नाटक मॉडल तैयार, दिए बड़े संकेत
Input your search keywords and press Enter.