fbpx
Now Reading:
विराट कोहली की तूफानी पारी में उड़ा वेस्टइंडीज, इंडिया की हैदराबाद में रिकॉर्डतोड़ जीत
Full Article 4 minutes read

विराट कोहली की तूफानी पारी में उड़ा वेस्टइंडीज, इंडिया की हैदराबाद में रिकॉर्डतोड़ जीत

Virat Kohali

टी20 मैच में कोई टीम अगर पहले बल्लेबाजी करते हुए 207 रनों का स्कोर खड़ा कर दे तो उसकी जीत लगभग पक्की होती है. लेकिन अगर सामने विराट कोहली जैसा बल्लेबाज हो तो जीत नामुमकिन भी नहीं होती. कुछ ऐसा ही विराट कोहली ने हैदराबाद टी20 में साबित किया. विराट कोहली ने हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में 6 चौके, 6 छक्कों की मदद से 50 गेंदों में नाबाद 94 रन ठोके और वेस्टइंडीज के मुंह से मैच छीन लिया. टीम इंडिया ने 208 रनों का लक्ष्य 8 गेंद पहले हासिल कर लिया और उसे 6 विकेट से जीत हासिल हुई. बता दें टी20 में ये भारत की सबसे बड़ी जीत है और विराट कोहली ने टी20 में अपनी सबसे अच्छी पारी खेली है. विराट के अलावा केएल राहुल ने भी शानदार योगदान दिया. उन्होंने 40 गेंदों में 62 रन बनाए और विराट कोहली के साथ दूसरे विकेट के लिए 100 रनों की साझेदारी की.

भारत की शुरुआत रही खराब
बड़े लक्ष्य के सामने भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा केवल आठ रन बनाकर पवेलियन लौट गये. राहुल ने शुरू से ही रन बनाने का बीड़ा उठाया. उन्होंने होल्डर के एक ओवर में तीन चौके लगाये और फिर शेल्डन कॉटरेल और खारी पियरे पर छक्के जड़े. पावरप्ले समाप्त होने के बाद भारत का स्कोर एक विकेट पर 50 रन था. कोहली ने हमेशा की तरह मौके की नजाकत को परखा और पारी संवारने का जिम्मा अच्छी तरह से निभाया. जब रन और गेंदों के बीच अंतर बढ़ने लगा तो कोहली ने तीखे तेवर अपनाये. उन्होंने 12वें ओवर में होल्डर पर छक्का जड़ा जिससे टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचा.

अपनी पारी के दौरान टी20 अंतरराष्ट्रीय में 1000 रन पूरे करने वाले राहुल ने 37 गेंदों पर अपना सातवां अर्धशतक पूरा किया. उन्होंने खेरी पियर पर छक्का जमाया लेकिन इसी ओवर में लॉन्ग ऑफ पर आसान कैच दे बैठे. ऋषभ पंत ने पियरे पर छक्के से शुरुआत की जबकि कोहली ने होल्डर को निशाने पर रखा। इस तेज गेंदबाज ने उन्होंने लॉन्ग ऑफ पर दर्शनीय छक्का लगाकर अपना 23वां अर्धशतक पूरा किया जो कि इस फॉर्मेट में नया रिकॉर्ड है. कोहली और पंत ने केसरिक विलियम्स पर छक्के लगाये जिससे अंतिम चार ओवरों में लक्ष्य 31 रन रह गया,

कॉटरेल की अच्छी गेंदबाजी के बावजूद विंडीज की हार
कॉटरेल ने ऐसे में किफायती ओवर किया और पंत को भी पवेलियन भेजा और श्रेयस अय्यर (4) भी नहीं टिक पाये लेकिन इससे जीत का अंतर ही प्रभावित हुआ. कोहली ने पोलार्ड की गेंद छह रन के लिये भेजी और फिर विलियम्स पर दो छक्के लगाकर टीम को जीत दिलायी.

भारत की खराब गेंदबाजी
इससे पहले भारत की फील्डिंग और गेंदबाजी बहुत ही ज्यादा खराब रही. इससे पहले विंडीज के लिए शिमरॉन हेटमायर ने 56, एविन लुइस ने 40, कप्तान पोलार्ड ने 37 रनों की पारी खेली. ब्रैंडन किंग ने 31 रन बनाए. जेसन होल्डर ने महज 9 गेंदों में 24 रनों की पारी खेली. वेस्टइंडीज की टीम ने 15 छक्के लगाए. वहीं भारत ने 5 कैच छोड़े और उसकी ग्राउंड़ फील्डिंग भी बेहद खराब रही. कैच छोड़ने वालों में विराट कोहली और रोहित शर्मा भी शामिल थे. दोनों ने बेहद ही आसान कैच टपकाए. गेंदबाजी की बात करें तो दीपक चाहर ने अपने करियर का सबसे खराब स्पैल फेंकते हुए 4 ओवर में 56 रन लुटा दिये. युजवेंद्र और भुवनेश्वर ने 4 ओवर में 36-36 रन दिए. हालांकि युजवेंद्र ने पोलार्ड और हेटमायर के विकेट लिये.

Input your search keywords and press Enter.