fbpx
Now Reading:
‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने से किया इंकार तो ट्रेन से फेंका, मामला दर्ज
Full Article 2 minutes read

‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने से किया इंकार तो ट्रेन से फेंका, मामला दर्ज

पश्चिम बंगाल से जय श्रीराम का नारा लगाने से किया इनकार करने पर मदरसा टीचर को चलती ट्रेन से फेंकने का मामला सामने आया है. हालांकि पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है लेकिन अभी तक में किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है.

घटना बीते 20 जून की है. पीड़ित मद के तौर पर हुई है. हलदर का आरोप है कि बीते गुरुवार जब वो ट्रेन से साउथ 24 परगना से हुगली जा रहा था. तो उस दौरान न सिर्फ लोगों ने उसके साथ मारपीट की बल्कि जबरन जय श्रीराम का नारा लगाने को भी कहा, लेकिन इस दौरान ट्रेन से यात्रा कर रहे किसी भी व्यक्ति ने मेरी मदद नहीं की. हलदर का ने बताया कि यह घटना उस समय हुई जब ट्रेन धकुरिया और पार्क सर्कस स्टेशन के बीच थी.जिसके बाद उन लोगों ने मुझे पार्क सर्कस स्टेशन पर ट्रेन से बाहर फेंक दिया.

वहीं इस घटना पर रेलवे पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पीड़ित को चित्तरंजन अस्पताल ले जाया गया. जहां उसका इलाज किया गया. उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि ट्रेन में चढ़ने और उतरने के दौरान उनके साथ हिंसा हुई. रेलवे पुलिस का कहना है कि अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा धारा 341, 323 , 325, 506 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया और जल्द से जल्द आरोपियों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

जबकि हलदर का कहना है कि घटना ट्रेन नंबर 34531 में हुई. लेकिन जब वो शिकायत दर्ज कराने तोपसिया थाने गया था तो उन्हें बताया गया कि ये जीआरपी थाने का मामला है. जिसके बाद बैलीगंगे रेलवे स्टेशन पर मामला दर्ज किया किया गया.

गौरतलब है कि बीते दिनों झारखंड के खरसावां में तबरेज अंसारी नामा के एक युवक को चोरी के शक में भीड़ ने न सिर्फ बुरी तरह पीटा बल्कि उससे जबरन ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ के नारे लगाने को कहा. ग्रामीणों की पिटाई से घायल युवक को किसी तरह पुलिस ने छुड़ाया, लेकिन अस्पताल में उसकी मौत हो गई. पुलिस ने इस मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया है.

Input your search keywords and press Enter.