fbpx
Now Reading:
पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल, शाह की रैली में पुलिस, PM मोदी के पोस्टर पर हंगामा
Full Article 4 minutes read

पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल, शाह की रैली में पुलिस, PM मोदी के पोस्टर पर हंगामा

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल अपने चार्म पर है एकबार फिर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की रैली में पुलिस पहुंची और PM मोदी के पोस्टर पर हंगामा हुआ. कोलकता पुलिस ने अमित शाह की रैली के लिए बने स्टेज से जुड़े परमिशन मांगे हैं और पेपर न देने पर मंच को तोड़ने को कहा है. इसे लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है. बीजेपी कार्यकर्ता रैली स्थल पर अड़े हैं.

अमित शाह आज उत्तरी कोलकाता में रैली करने वाले हैं. अमित शाह ने ट्वीट कर कहा है कि आज उत्तरी कोलकाता के धर्मतल्ला में उनका रोड शो है. रिपोर्ट के मुताबिक रैली स्थल के पास माहौल तनावपूर्ण हो गया है. बीजेपी कार्यकर्ता नारेबाजी कर रहे हैं और पुलिस वालों को घेरने की कोशिश कर रहे हैं.

इधर कोलकाता पुलिस और राज्य चुनाव आयोग के अधिकारी सड़कों से पीएम मोदी और अमित शाह का पोस्टर हटा रहे हैं. बीजेपी नेता मुकुल रॉय ने आरोप लगाया है कि राज्य चुनाव आयोग के अधिकारी ममता सरकार के समर्थक के रूप में काम कर रहे हैं.
अमित शाह ने कहा है कि वह धर्मतल्ला के शहीद मीनार मैदान से मनिकातल्ला के विवेकानंद हाउस तक रोड शो निकालेंगे. बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि कोलकाता में अमित शाह की रैली में अड़ंगेबाजी की कोशिश हो रही है.
कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया, “अमित शाह जी की रैली में अड़ंगेबाजी, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने भाजपा को परेशान करने के लिए प्रशासन को खुला छोड़ रखा है. अमित शाह जी की रैली में अड़चन डालने के लिए लाऊडस्पीकर को पुलिस ने मुद्दा बना लिया है. ये चुनाव आचार संहिता है या ममता सरकार की हठधर्मी?”

कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्वीट के साथ एक वीडियो भी जारी किया है. इस वीडियो में वह कोलकाता पुलिस के एक अधिकारी के साथ बात करते नजर आ रहे हैं. कोलकाता पुलिस के अधिकारी कैलाश विजयवर्गीय को बता रहे हैं कि वे आचार संहिता का पालन नहीं कर रहे हैं. कैलाश विजयवर्गीय ने वीडियो में पुलिसकर्मी के साथ बहस करते नजर आ रहे हैं.

बता दें कि सोमवार को भी पश्चिम बंगाल में अमित शाह और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की कुछ रैलियों को रद्द कर दिया गया था. अमित शाह जादवपुर में रैली करने वाले थे, जबकि योगी आदित्यनाथ की रैली 15 मई को होने वाली थी. बता दें कि 19 मई पश्चिम बंगाल की 9 सीटों पर मतदान होना है. ये सभी सीटें टीएमसी की गढ़ रही हैं. ऐसे में चुनाव के पहले ये बवाल लोकतंत्र के लिए भी ठीक नहीं है.
Related Post:  POK में युद्ध की तैयारी कर रहा है पाकिस्तान, जवाबी कार्रवाई के लिए भारत की सेना भी तैयार
Input your search keywords and press Enter.