fbpx
Now Reading:
दाऊद के गुर्गे के साथ ब्रिटेन की सबसे भीड़भाड़ वाली जेल में नीरव मोदी, पीएनबी घोटाले का है मुख्य आरोपी
Full Article 2 minutes read

दाऊद के गुर्गे के साथ ब्रिटेन की सबसे भीड़भाड़ वाली जेल में नीरव मोदी, पीएनबी घोटाले का है मुख्य आरोपी

पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार किया जा चुका है। उसकी जमानत याचिका रद्द हो चुकी है, ऐसे में उसे अभी कुछ वक्त जेल में वक्त बिताना पड़ेगा। गिरफ्तारी से पहले नीरव लंदन के पॉश वेस्ट एंड इलाके में एक शानदार अपार्टमेंट में रह रहा था। नीरव अब उस जेल में रहेगा, जिसे इंग्लैंड की सबसे भीड़भाड़ वाली जेलों में शुमार किया जाता है। लंदन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश करने के बाद नीरव को वांड्सवर्थ स्थित हर मैजेस्टीज प्रिसन (HMP) ले जाया गया। अब नीरव को कम से कम 29 मार्च तक वहीं रहना होगा।

Related Post:  चार बड़े बदलाव के साथ होगा चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग, इसके साथ ही इतिहास रचेगा भारत- 18 घंटे पहले काउंटडाउन शुरू

नीरव के प्रत्यर्पण के मामले में पहली सुनवाई अगले हफ्ते होगी। माना जा रहा है कि नीरव को जेल में अलग कोठरी में रखा जाएगा। हालांकि, उसे किसी एक अन्य कैदी के साथ रखा जाएगा। जेल में उसके साथ बंद लोगों में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का कथित शूटर जबीर मोती भी होगा। जबीर पाकिस्तानी मूल का है। जबीर अमेरिका प्रत्यर्पित किए जाने की कानूनी प्रक्रियाओं से गुजर रहा है।

एमएमपी वांड्सवर्थ जेल को 1851 में बनाया गया था। इसे बी कैटिगरी की जेल का दर्जा मिला है। अमूमन यहां उन अपराधियों को रखा जाता है, जिनसे बहुत ज्यादा सुरक्षा संबंधित खतरे नहीं होते। मार्च 2018 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जेल में उस वक्त 1428 पुरुष थे। इस वजह से इसे इंग्लैंड की सबसे भीड़भाड़ वाली जेल माना जाता है। कैदियों में ड्रग्स और मानसिक रोग वाले भी शामिल हैं। वॉशरूम्स की हालत ठीक नहीं है और एक कैदी के लिए डिजाइन किए गए सेल में दो-दो लोग रखे जा रहे हैं।

Related Post:  सिपाही की वर्दी उतरवाने पर जज का हुआ ट्रांसफर, कार को साइड नहीं देने पर दी थी सजा
Input your search keywords and press Enter.