fbpx
Now Reading:
45 मिनट तक नहीं पहुंची एम्बुलेंस, सांस की तकलीफ से CM विजय रुपाणी के मौसेरे भाई ने तोड़ा दम
Full Article 2 minutes read

45 मिनट तक नहीं पहुंची एम्बुलेंस, सांस की तकलीफ से CM विजय रुपाणी के मौसेरे भाई ने तोड़ा दम

Vijay Rupani

देश के अलग-अलग हिस्सों में एम्बुलेंस की लेट लतीफी से अब तक कई जिंदगियां मौत की भेंट चढ़ चुकी हैं. ताजा मामला गुजरात का है. जहां  गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के एक रिश्तेदार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा है. एम्बुलेंस के 45 मिनट के देरी के चलते रुपाणी के मौसेरे भाई अनिल संघवी को समय पर अस्पताल नहीं पहुंचाया जा सका. जिससे उनकी मौत हो गई.

गौरतलब है कि बीते 4 अक्टूबर को सौराष्ट्र कला केंद्र इश्वरिया के पास रहने वाले मुख्यमंत्री के मौसेरे भाई अनिल संघवी को सांस की तकलीफ होने लगी. जिसके बाद उनके बेटे गौरांग और परिवार के सदस्यों ने 108 एम्बुलेंस सेवा को फोन कर मदद मांगी थी. बार-बार कॉल करने पर भी एम्बुलेंस 45 मिनट की देरी से पहुंची. लेकिन अस्पताल पहुंचने तक अनिल संघवी की मौत हो गई.

इस हादसे के बाद गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कलेक्टर को एम्बुलेंस के देरी से पहुंचने को लेकर जांच के आदेश दे दिए हैं. राजकोट कलेक्टर राम्य मोहन ने बताया  कि दो बार एम्बुलेंस को परिवार वालों ने फोन करने का प्रयास किया, लेकिन उनकी फोन पर बात नहीं हो पाई. इसके अलावा एम्बुलेंस गलत एड्रेस पर भी पहुंच गई थी. बताया जाता है कि एम्बुलेंस मोदी स्कूल इश्वरिया रोड की जगह पर न्यू मोदी स्कूल इश्वरिया गांव पहुंच गई थी. हालांकि अब इस पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

Input your search keywords and press Enter.