fbpx
Now Reading:
लालबाग के राजा पर भी मंदी की मार, 2018 के मुकाबले आधा हुआ नगद चढ़ावा
Full Article 2 minutes read

लालबाग के राजा पर भी मंदी की मार, 2018 के मुकाबले आधा हुआ नगद चढ़ावा

मुंबई: देश मंदी के दौर से गुजर रहा है ऐसे में मंदी की मार से गणपति बप्पा भी अछूते नहीं हैं। गणेशोत्सव के दौरान विभिन्न पंडालों में भक्त बप्पा को चढ़ावे से नवाजते हैं। मुंबई के लालबाग के राजा के दरबार में सबसे ज्यादा चढ़ावा भक्तों द्वारा चढ़ाया जाता है। हर साल की तह इस साल भी भक्तों ने दिल खोलकर चढावा चढाया है। लेकिन कहीं ना कहीं मंदी का असर भी दिखाई दिया।

हर साल चढ़ता है करोड़ो का चढ़ावा  
लालबाग में चढ़ाए गए नगद की गिनती लगभग पूरी हो गई है। गणपति बप्पा को इस साल 6 करोड रुपये से अधिक नकद चढ़ाए गए हैं। कैश के अलावा इस साल गणेश भक्तो ने लगभग 80 किलो चांदी और 4 किलो से ज्यादा सोना लालबाग के राजा को चढ़ाया है।

आज से उन्ही सोने चांदी के आभूषणों की नीलामी शुरू की गई जो 2 दिनों तक चलेगी। जिसमे कोई भी हिस्सा ले सकता है और बप्पा को चढ़ाये गए चढ़ावे को ऊंची बोली लगाकर अपने साथ ले जा सकता है। साल 2018 में लालबाग के राजा को 12 करोड़ रुपए मिले थे।बकि, दान में मिली वस्तुओं की नीलामी से 1 करोड़ 58 लाख रु. मिले थे।

Input your search keywords and press Enter.