fbpx
Now Reading:
जुड़वा भाईयों की हत्या मामले में RSS नेता का भाई गिरफ्तार, योगी सरकार पर उठे सवाल

जुड़वा भाईयों की हत्या मामले में RSS नेता का भाई गिरफ्तार, योगी सरकार पर उठे सवाल

मध्य प्रदेश के चित्रकूट जिले में 5 साल के दो जुड़वा भाइयों की निर्मम हत्या से सूबे की राजनीति गरमा गई है. वहीं इस मामले में बीजेपी-आरएसएस नेता का नाम सामने आने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विपक्ष पर निशाना साधा है. मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार में विधि एवं विधायी मंत्री पीसी शर्मा ने इस मामले को लेकर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से इस्तीफे की मांग की है.

इस बीच रीवा के आईजी चंचल शेखर ने इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बड़ा खुलाशा किया है. पुलिस की तफ्तीश में पद्म शुक्ला का नाम बतौर मुख्य आरोपी सामने आया है. पद्म शुक्ला का छोटा भाई विष्णुकांत बजरंग दल का एरिया-कोऑर्डिनेटर बताया जा रहा है. इसके साथ ही पुलिस ने इस मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस वारदात इस्तेमाल की गई कार और बाइक पर बीजेपी नेताओं और आरएसएस नेताओं की बताई जा रही हैं. बाइक की नंबर प्लेट पर नंबर की जगह राम राज्य लिखा हुआ हैं. वहीं कार में बीजेपी का झंडा नज़र आ रहा है.


गौरतलब है कि 12 फरवरी को पांच साल के दो जुड़वा भाईयों प्रियांश और श्रेयांश रावत का मध्यप्रदेश के सतना जिले में बंदूक की नोंक पर स्कूल बस से अपहरण कर लिया गया था. जिनका शव उत्तर प्रदेश के बांदा जिले से बरामद किया गया हैं. बताया जा रहा है कि दोनों मासूम बच्चों कि हत्या करने के बाद अपराधियों ने शव को अवगासी घाट में फेंक दिया.

Related Post:  मुंबई में चुनाव ख़त्म होते ही शिवसेना ने उठाई भारत में की बुर्का पर बैन की मांग, कहा परदे के अंदर संदिग्ध घूमते हैं

गिरफ्तार हुए आरोपियों में एक सख्श मध्यप्रदेश का रहने वाला है जबकि दूसरे आरोपी उत्तर प्रदेश के बताये जा रहे हैं. दोहरे अपहरण एवं हत्याकांड में गिरफ्तार आरोपी इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र हैं. जो उसी ट्रस्ट द्वारा संचालित किया जाता है.जिसमें जुड़वां बच्चे पढ़ा करते थे. इन से एक आरोपी बच्चों को ट्यूशन दिया करता था.सूत्रों की मानें तो अपहरणकर्ताओं ने बच्चों के पिता से 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी. जिसमें से बच्चों के पिता उन्हें 20 लाख रुपये दे भी चुके थे. लेकिन अपराधियों ने बच्चों की हत्या करके बच्चों के शव कोयूपी के बांदा में बबेरू इलाके में फेंक दिया.

Related Post:  बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में उछाल, एक्ज़िट पोल्ल में मोदी सरकार के लौटने पर शेयर बाज़ार में बढ़त

मामले का खुलासा होने के बाद यूपी की योगी सरकार भी सवालों के घेरे में हैं. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी योगी आदित्यनाथ पर हल्ला बोला है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘आज बांदा में दो बच्चों की लाशें मिलीं.उनकी जानें गईं और एक परिवार का भविष्य उजड़ गया. सरकारों की जिम्मेदारी है कि हर नागरिक को सुरक्षित रखे और दुःख है कि हाल यह है कि मां-बाप बच्चों को स्कूल भेजने से भी डरेंगे! देश की कानून-व्यवस्था अब इससे ज्यादा क्या बिगड़ेगी?’

Related Post:  पूजा-पाठ के साथ नमाज भी पढ़ता है ये लड़का, उम्र है महज 12 साल
Input your search keywords and press Enter.