fbpx
Now Reading:
Republic Day Spl: देशभक्ति से भरपूर हैं बॉलीवुड की ये बेहतरीन फिल्में

Republic Day Spl: देशभक्ति से भरपूर हैं बॉलीवुड की ये बेहतरीन फिल्में

मुंबई:  देश भर में 70 वें गणतंत्र दिवस की धूम है.भारत आज 26 जनवरी को अपना 70वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. हर कोई गणतंत्र दिवस के मौके पर गर्व महसूस करता है क्योंकि इस दिन हमारे देश में संविधान लागू हुआ था.वैसे देश पर गर्व की एहसास तो हमारी बॉलीवुड फिल्मों में बेहद देखने को मिली है.सिनेमा के 106 सालों के इतिहास में देखा जाये तो हर दशक में ऐसी फिल्मों की भरमार रही जिनमें देशभक्ति का जज्बा जबरदस्त तरीके से दिखाया गया और जिसे देखकर हर भारतीय का सीना गर्व से ऊंचा हो गया.रिपब्लिक डे के मौके पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं देशभक्ति से ओत-प्रोत कुछ ऐसी ही फिल्मों के बारे में जो हर भारतीय को इमोशनल करने के लिए काफी है और इनमें देशभक्ति का जज्बा कूट-कूटकर भरा है.

उरी: हाल ही में आई उरी भी देशभक्ति की मिसाल पेश करने वाली है.इस फिल्म में 2016 में हुई सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में दिखाया गया है जिसमें पाकिस्तानी आतंकवादियों को उनके घर में घुसकर इंडियन आर्मी ने मार गिराया था.फिल्म के डायलॉग्स से जानदार थे और हर किरदार देश के लिए मर-मिटने को तैयार दिखाई दिया.फिल्म की सराहना सेना से लेकर प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी की है.खासकर फिल्म का डायलॉग हाउ इज द जोश काफी पॉपुलर हुआ.

 

राज़ी:  2018 में आई आलिया भट्ट और विक्की कौशल स्टारर फिल्म भी देशभक्ति से ओतप्रोत फिल्म थी.इस फिल्म में आलिया ने सहमत नाम की इंडियन जासूस की भूमिका निभाई थी जो कि देश की सुरक्षा की खातिर पाकिस्तानी से शादी कर लेती है और वहां इंडिया को ख़ुफ़िया जानकारी देती है.यह रियल इन्सिडेंस पर बेहतरीन फिल्म है जिसे देखकर आपको गर्व होता है कि देश के लिए मर-मिटने वाले लोग कुछ भी कर सकते हैं.फिल्म की डायरेक्टर मेघना गुलजार थीं और यह फिल्म 100 करोड़ से ज्यादा की कमाई कर चुकी थी.

Related Post:  'शदा' का ट्रेलर रिलीज, दिलजीत दोसांझ ने कहा- फिल्में अच्छी कहानी से चलती हैं, बड़े स्टार से नहीं

भाग मिल्खा भाग: अगर आपको लाइफ में निराशा फील हो रही है तो एथलीट मिल्खा सिंह पर बनी ये फिल्म देखिए.फिल्म में उनके दिखाए गए संघर्ष देखकर रौंगटे खड़े हो जाते हैं.इंडिया-पाकिस्तान के विभाजन का दर्द,परिवार की आँखों के सामने हत्या,गरीबी,रोमांस और फिर इंडियन आर्मी ज्वाइन करने के बाद एथलीट बनने का सपना,जब फिल्म इतने पड़ावों से गुजरती है तो हर पल शानदार होता जाता है. 2013 में आई इस फिल्म में फरहान अख्तर ने मिल्खा सिंह की भूमिका निभाई थी.राकेश ओमप्रकाश मेहरा निर्देशित इस फिल्म को दर्शकों ने बेहद पसंद किया था.फिल्म में सोनम कपूर और दिव्या दत्ता भी नजर आईं थीं.बायोपिक की बात की जाए तो पान सिंह तोमर को कैसे भुलाया जा सकता है.इरफ़ान खान स्टारर इस फिल्म में एक ऐसे भुला दिए गए हीरो पान सिंह की कहानी दिखाई गई जो आर्मी का जवान रहता है और नेशनल गेम्स में गोल्ड मेडलिस्ट एथलीट भी लेकिन उसे डकेत बनने पर मजबूर होना पड़ता है.

 

मैरीकॉम: बॉक्सिंग चैंपियन मैरीकोम की लाइफ के संघर्षो और कामयाबी को इस फिल्म में बहुत ही सहज तरीके से दिखाया गया.फिल्म में प्रियंका चोपड़ा ने मैरीकोम का रोल निभाया जिन्होंने इस रोल के लिए जी तोड़ मेहनत की.बॉक्सिंग सीखने के अलावा प्रियंका ने फिटनेस पर काफी काम किया और तब जाकर वह एक स्ट्रगलर से वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियन का किरदार परदे पर उतार पाईं.फिल्म को काफी पसंद किया गया.इसे ओमंग कुमार ने डायरेक्ट किया था.2014 में आई इस फिल्म को संजय लीला भंसाली ने प्रोड्यूस किया था.

 

लगान: इस लिस्ट में लगान को कैसे भूल सकते हैं.फिल्म में खेल के माध्यम से देश भक्ति की भावना को बड़ी खूबसूरती से दिखाया गया है.लगान माफ़ करने के लिए गरीब गांव वाले फिरंगियों से क्रिकेट खेलने का चैलेंज कुबूल कर लेते हैं.फिर पूरा गांव एक जुट होकर मैच में लग जाता है.फिल्म में आमिर खान ने मुख्य भूमिका निभाई थी और ये जबरदस्त हिट साबित हुई थी.

Related Post:  कटरीना कैफ और भूमि पेडनेकर के बाद अब विक्की कौशल की नै गर्लफ्रेंड का नाम सामने आया, ये हैं उरी स्टार की नई साथी

 

चक दे इंडिया: 2007 में आई इस फिल्म में शाहरुख़ खान की रोमांटिक छवि से उलट बिलकुल अलग अंदाज देखने को मिला.उन्होंने फिल्म में एक वुमेन्स हॉकी टीम के कोच की भूमिका निभाई जिसका लक्ष्य अपनी टीम को वर्ल्ड कप जिताना है.फिल्म के डायरेक्टर शिमित अमीन थे.

 

रंग दे बसंती:  फिल्म भगत सिंह की कहानी पर आधारित थी और इसे मॉडर्न तरीके से फिल्माया गया था.फिल्म की कहानी को दिल्ली यूनिवर्सिटी के बैकड्रॉप पर बड़े दिलचस्प अंदाज में फिल्माया गया था.इसमें आमिर खान,आर माधवन, सोहा अली खान, शरमन जोशी ने मुख्य भूमिका निभाई थी जो कि काफी पसंद की गई थी.

 

मंगल पाण्डेय: फिल्म में आमिर खान ने स्वतंत्रता सैनानी मंगल पाण्डेय की भूमिका आमिर खान ने निभाई थी..इस फिल्म के लिए उन्होंने खास तौर से अपने बाल बढ़ाये थे.फिल्म बॉक्सऑफिस पर फ्लॉप रही थी लेकिन इसमें मंगल पाण्डेय की कहानी पहली बार दिखाई गई जो कि किसी दूसरी फिल्म में इससे पहले देखने को नहीं मिली थी.फिल्म में रानी मुखर्जी भी नजर आई थीं.

 

स्वदेस: आशुतोष गोवारिकर की फिल्म स्वदेस भी दिल को छू जाने वाली कहानी पर बनी है.इसमें शाहरुख खान ने एक ऐसे भारतीय युवक की भूमिका अदा की है जो नासा में काम करता है और अमेरिका में वेल सेटल्ड है.वह छुट्टी लेकर कुछ दिनों के लिए इंडिया आता है और फिर यहां की समस्याओं को देखकर यहीं का होकर रह जाता है और गाँव के विकास में अपना योगदान देता है और गाँव में अपनी काबिलियत के दम पर बिजली ले आता है.

Related Post:  'शदा' का ट्रेलर रिलीज, दिलजीत दोसांझ ने कहा- फिल्में अच्छी कहानी से चलती हैं, बड़े स्टार से नहीं

 

बॉर्डर: जेपी दत्ता की बॉर्डर में 1971 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध की कहानी दिखाई गई थी.इसमें कई सारे स्टार्स ने मुख्य भूमिका निभाई थी जिनमें सनी देओल, सुनील शेट्टी, जैकी श्रॉफ के नाम शामिल हैं.फिल्म के दमदार डायलाग आज भी याद किये जाते हैं.

 

पूरब और पश्चिम: इस फिल्म में भारत कुमार यानी मनोज कुमार ने देशप्रेम की ऐसी मिसाल की जो आज भी याद की जाती है.पश्चिम से फैसीनेट होकर देश को दोयम दर्जे का समझने वाले लोगों के मुंह पर ये फिल्म एक तमाचे के समान थी.इस फिल्म में उनके अलावा सायरा बानो,प्रेम चोपड़ा सहित कई अन्य कलाकारों ने मुख्य भूमिका निभाई थी.फिल्म के गाने जबरदस्त लोकप्रिय हुए थे और आज भी स्वतंत्रता और गणतंत्र दिवस के मौके पर इन्हें हर कहीं प्ले किया जाता है.

 

मदर इंडिया: डायरेक्टर महबूब खान की माइलस्टोन फिल्म कही जाने वाली फिल्म मदर इंडिया में दिखाया गया था कि कैसे भारत में एक आमआदमी के लिए दो वक्त की रोटी जुटाना मुश्किल है.इसके अलावा महिलाओं के मजबूत किरदारों की बात करें और मदर इंडिया में नर्गिस का रोल याद न किया जाए,ऐसा हो नहीं सकता.इस फिल्म में दिखाया गया है कि महिला के सम्मान से बढकर कुछ नहीं और इसके लिए एक माँ अपने बेटे की जान तक ले सकती है.फिल्म में सुनील दत्त ने नर्गिस के बेटे की भूमिका अदा की थी.

 

हकीकत: यह बॉलीवुड की पहली वॉर फिल्म थी जिसमें बलराज साहनी,यंग धर्मेन्द्र,संजय खान और विजय आनंद ने मुख्य भूमिका निभाई थी.फिल्म इंडो-चाइना वॉर पर आधारित थी जो कि 1962 में हुआ था.इसके डायरेक्टर चेतन आनंद थे.

Input your search keywords and press Enter.