fbpx
Now Reading:
राजस्थान के स्कूलों में पढ़ाए जायेंगे विंग कमांडर अभिनंदन के बहादुरी के किस्से
Full Article 2 minutes read

राजस्थान के स्कूलों में पढ़ाए जायेंगे विंग कमांडर अभिनंदन के बहादुरी के किस्से

जयपुर: विंग कमांडर अभिनन्दन की बहादुरी का पूरी दुनिया ने लोहा माना है. अब जल्द ही बच्चे भी स्कूलों में अभिनंदन वर्थमान की बहादुरी के किस्से पढ़ते नज़र आयेंगे. राजस्थान सरकार ने अभिनंदन के शौर्य की गाथा स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने का फैसला लिया है.

राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि जोधपुर से पढ़े, हाल ही में पाकिस्तान की सरजमीं से अपने साहस एवं वीरता का परिचय देते हुए वापस लौटने वाले विंग कमांडर अभिनंदन के शौर्य के सम्मान स्वरूप सरकार ने अभिनंदन की शौर्य की कहानी को राजस्थान के स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने का फैसला लिया है.


वहीं इसके पहले राजस्थान के शिक्षा मंत्री डोटासरा पुलवामा हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों की दास्तान स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने की बात कह चुके हैं. उन्होंने पाठ्यक्रम की समीक्षा करने के लिए दो कमिटि भी बनाई है. हालांकि अभी तक यह साफ़ हुआ है कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान के बारे में किस कक्षा में पढ़ाया जायेगा.

Related Post:  पहली बार सामने बालाकोट एयर स्‍ट्राइक का वीडियो, वायुसेना की फिल्‍म में हमले के सबूत

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद बीते 26 फरवरी को इंडियन एयर फ़ोर्स ने पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ट्रेनिंग कैंप बम बरसाए थे. जिसके जबाब में 27 फ़रवरी को पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की. जिसका जबाब देते हुए विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग-21 से पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया. लेकिन विमान क्रैश होने के चलते उन्होंने पैराशूट से छलांग लगा दी और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में जा पहुंचे. जहां पाकिस्तान ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. करीब 60 घंटे पाकिस्तान की कैद रहने के बाद भारत और अंतराष्ट्रीय दवाब के चलते पाकिस्तान को उन्हें रिहा करना पड़ा.

Related Post:  राजस्थान में BSP के सभी 6 विधायकों का दल-बदल, भड़कीं मायावती, कहा- गैर भरोसेमंद और धोखेबाज है कांग्रेस
Input your search keywords and press Enter.