fbpx
Now Reading:
भारत में बैन होने वाला है WhatsApp! कंपनी ने इस वजह से लिया ये बड़ा फैसला
Full Article 3 minutes read

भारत में बैन होने वाला है WhatsApp! कंपनी ने इस वजह से लिया ये बड़ा फैसला

भारत में पॉपुलर हो चुके सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म WhatsApp के ऊपर संकट के बादल मंडराने लगे हैं, बता दें कि इस ऐप को लेकर ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि इसे जल्द ही भारत में बंद किया जा सकता है. व्हाट्सएप भारत में अपनी सेवाएं बंद कर सकता है. दरअसल कंपनी का आरोप है कि भारत सरकार उसकी पेमेंट को लेकर भेदभाव कर रही है. कंपनी ने कहा कि सरकार गूगल और अन्य कंपनियों की पेमेंट सेवा को बढ़ावा देने के लिए सरकार ऐसा कर रही है.

दरअसल, व्हाट्सएप से सरकार का विवाद झूठी खबरों को लेकर बढ़ा है. सरकार ने व्हाट्सएप के सामने अपनी मांग रखते हुए कहा है कि वो फर्जी संदेशों पर लगाम लगाने के लिए अपनी तकनीक में बदलाव करे, जिससे झूठे मैसेज फैला रहे लोगों को पकड़ा जा सके. यह करने के बाद ही कंपनी को अपनी पेमेंट सेवा शुरू करने की इजाजत दी जा सकती है.

Related Post:  पाकिस्तान : रावलपिंडी के सैन्य विमान क्रैश, 2 पायलट सहित 19 की मौत

सरकार ने व्हाट्सएप से कहा है कि वो अपने सर्वर देश में स्थापित करे. व्हाट्सएप डेटा मिररिंग यानी विदेशी सर्वर के साथ भारत में भी डेटा स्टोर करने के लिए तैयार है और अगर उसे केवल भारत में डेटा स्टोर करना पड़ा, तो वह अपनी रणनीति पर नए सिरे से विचार करेगा. उन्होंने कहा कि फुल डेटा लोकलाइजेशन का मतलब यह होगा कि ‘केवल भारत के लिए रीडिजाइनिंग की जाए और इससे भारत के लिए इनोवेशन की रफ्तार घटेगी.’ वॉट्सऐप के प्लेटफॉर्म पर दुनियाभर में 1.5 अरब लोग हैं और 20 करोड़ एक्टिव मंथली यूजर्स के साथ भारत इसका सबसे बड़ा यूजर मार्केट है.

Related Post:  IIFA Awards 2019: 'बेस्ट एक्ट्रेस' बनीं आलिया भट्ट तो 'बेस्ट एक्टर' हुए रणवीर सिंह

वहीं कंपनी ने कहा कि लोग व्हाट्सएप के जरिए सभी प्रकार की संवेदनशील सूचनाओं का आदान प्रदान करने के लिए निर्भर है. चाहे वह उनके चिकित्सक हों, बैंक या परिवार के सदस्य हों. व्हाट्सएप के  प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हमारा ध्यान भारत में दूसरों के साथ मिलकर काम करने और लोगों को गलत सूचना के बारे में शिक्षित करने पर है. इसके जरिए हम लोगों को सुरक्षित रखना चाहते हैं.’’

बता दें कि भारत में पिछले कुछ महीनों से व्हाट्सएप के द्वारा बहुत सी झूठी खबरें फैली, जिससे भारत के कई राज्यों में मोब लिंचिंग की घटनाएं सामने आई थीं. इसी के चलते WhatsApp को लेकर सवाल उठ रहे हैं.

Related Post:  दिल्ली में पानी के बकाया बिल माफ, केजरीवाल ने लिया बड़ा फैसला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.