fbpx
Now Reading:
उत्तर प्रदेश के 12 साल के बच्चे ने लिखी हैं 135 किताबें, दर्ज है चार वर्ल्ड रिकॉर्ड
Full Article 1 minutes read

उत्तर प्रदेश के 12 साल के बच्चे ने लिखी हैं 135 किताबें, दर्ज है चार वर्ल्ड रिकॉर्ड

उत्तर प्रदेश में 12 साल के बच्चे ने धर्म और जीवनी जैसे विषयों पर अबतक कुल 135 किताबें लिखी हैं. इसमें राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीवनी भी शामिल है. मृगेंद्र राज ने कहा कि उन्होंने छह साल की उम्र से किताबें लिखनीं शुरू की और उनकी पहली किताब कविताओं का एक संकलन थी.

वह लेखक के तौर पर ‘आज का अभिमन्यू’ नाम का उपयोग करते हैं और उनके नाम कुल चार वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं. उन्होंने कहा, “मैंने रामायण के 51 किरदारों का विश्लेषण करके किताबें लिखीं. हर किताब में करीब 25 से 100 पन्ने हैं. मुझे यहां तक की लंदन स्थित वर्ल्ड यूनिवर्सिटी आफ रिकार्ड्स से डॉक्टरेट के लिए ऑफर भी मिला.”

Related Post:  मथुरा में नर्स के साथ सामूहिक बलात्कार, Video बनाकर किया ब्लैकमेल, आरोपी फरार

सुल्तानपुर स्थित एक निजी स्कूल में पढ़ाने वाली उनकी मां ने कहा कि उनके लड़के ने बचपन में ही पढ़ने में रुचि दिखाई और उन्होंने अपने बेटे को प्रोत्साहित किया. मृगेंद्र के पिता राज्य के चीनी उद्योग व गन्ना विकास विभाग में काम करते हैं. मृगेंद्र ने कहा कि वह बड़े होकर एक लेखक ही बने रहना चाहते हैं और विभिन्न विषयों पर अधिक से अधिक किताबें लिखना चाहते हैं.

Input your search keywords and press Enter.