fbpx
Now Reading:
खेल के मैदान में आर्मी कैप पहन टीम इंडिया कर रही है राजनीति, PAK ने ICC से की करवाई की मांग

खेल के मैदान में आर्मी कैप पहन टीम इंडिया कर रही है राजनीति, PAK ने ICC से की करवाई की मांग

कराची: पाकिस्तान ने टीम इंडिया द्वारा भारतीय सेना की कैप पहनकर क्रिकेट मैच खेलने के खिलाफ ICC आईसीसी से कार्रवाई की मांग की है। पाकिस्तान ने भारतीय क्रिकेटरों के आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे के दौरान सेना की विशेष कैप पहनने के लिये आईसीसी से कार्रवाई की मांग की और विराट कोहली की टीम पर खेल में राजनीति करने का आरोप लगाया।
PAK ने ICC से की करवाई की मांग 
पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिये भारतीय क्रिकेटरों ने शुक्रवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में सेना की विशेष कैप पहनी और अपनी मैच फीस राष्ट्रीय रक्षा कोष में दी।पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के कम से कम 40 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान के विदेशी मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को इसके बारे में कुछ करना चाहिए।
सेना की कैप पहन टीम इंडिया कर रही है राजनीति 
पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से कुरैशी ने कहा, ‘‘दुनिया ने देखा कि भारतीय टीम ने अपनी खेल वाली कैप के बजाय सेना की विशेष कैप पहनी, क्या आईसीसी ने इसे नहीं देखा? हमें लगता है कि यह आईसीसी की जिम्मेदारी है कि वे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा इसका ध्यान दिलाये जाने के बजाय खुद इसका संज्ञान लें। ’’ भारतीय टीम इस मैच में 32 रन से हार गयी थी लेकिन फिर भी पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 से आगे है। सूचना मंत्री फवद चौधरी ने भी कुरैशी की बात का समर्थन करते हुए ट्वीट किया, ‘‘यह सिर्फ क्रिकेट नहीं है। ’’
पाकिस्तानी टीम भी काली पट्टी बांधकर उतारेगी मैदान पर 
उन्होंने कहा, ‘‘और अगर भारतीय टीम को नहीं रोका गया तो पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को भी दुनिया को कश्मीर में भारतीय ज्यादती के बारे में याद दिलाने के लिये काली पट्टी पहननी चाहिए। ’’ मंत्री ने साथ ही अनुरोध किया कि पीसीबी को भारत के खिलाफ खेल की विश्व संचालन संस्था में अधिकारिक विरोध दर्ज कराना चाहिए। पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता और पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने हालांकि इस बहस में पड़ने से इनकार कर दिया।
खेल में ना हो राजनीति 
उन्होंने कहा, ‘‘देखिये, मैं एक क्रिकेटर हूं और मेरा काम क्रिकेट संबंधित है। यह सब राजनीति है और मैं इसमें नहीं पड़ना चाहता। ’’ इंजमाम ने हालांकि कहा कि क्रिकेट और राजनीति को अलग अलग रखना चाहिए। यह पूछने पर कि पाकिस्तान और भारत के बीच तनावपूर्ण संबंधों से खिलाड़ियों पर दबाव बढ़ जायेगा जब 16 जून को होने वाले विश्व कप के दौरान दोनों टीमों एक दूसरे के आमने सामने होंगी। इस पर उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि इस बार कुछ अलग होगा। ’’
Input your search keywords and press Enter.