fbpx
Now Reading:
आयकर विभाग के छापे में दिनाकरन के पार्टी दफ्तर में पैकेट्स में करोड़ों रुपए मिले, कनिमोझी की भी ली गई तलाशी
Full Article 3 minutes read

आयकर विभाग के छापे में दिनाकरन के पार्टी दफ्तर में पैकेट्स में करोड़ों रुपए मिले, कनिमोझी की भी ली गई तलाशी

अन्नाद्रमुक नेता टीटीवी दिनाकरन की पार्टी अम्मा मक्कल मुनेत्र कड़गम थेनी जिले के अंडीपट्टी के दफ्तर पर मंगलवार रात आयोग की टीम छापा मारा। छापेमारी करने पहुंची टीम पर एएमएमके कार्यकर्ताओं ने हमला भी बोल दिया। काफी संघर्ष के बाद पुलिस ने चार कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है जबकि 155 कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया है। वहीँ दूसरी तरफ एक टीम ने चुनाव अधिकारियों के साथ मिलकर डीएमके नेता कनिमोझी के यहां भी छापेमारी की थी।

विभाग के मुताबिक ये छापेमारी एक गुप्त सुचना के आधार पर की गई थी। दावा है कि, उन्हें खबर मिली थी कि अम्मा मक्कल मुनेत्र कड़गम थेनी जिले के दफ्तर करोड़ों रूपये रखे गए हैं। जिसके बाद आयकर विभाग और चुनाव आयोग कि संयुक्त टीम ने एक साथ मंगलवार कि रात छापेमारी की, इस दौरान टीम ने करीब 1 करोड़ 40 लाख रुपए बरामद किए।सारे पैसे कई पैकेट में रखे गए थे। इन पैकेट्स पर वार्ड नंबर, स्थानीय नेता का नाम और ये भी लिखा था कि हर वोटर को 300 रुपये देने का हिसाब से पैसे देनेहै। हालांकि, चुनाव आयोग की टीम का कहना है कि अभी बरामद रुपयों की गिनती की जाएगी। इसके बाद ही सटीक आंकड़ा जारी किया जाएगा।

पुलिस ने किया हवाई फायरिंग

जैसे ही छापेमारी कि खबर फैली हजआरों कि संख्या में अम्मा मक्कल मुनेत्र कड़गम कार्यकर्ताओं ने दफ्तर घेर लिया और हंगामा करने लगे। मामला इतना ज़्यादा बिगड़ गया कि उन्हें सँभालने के लिए पुलिस को फायरिंग तक करनी पड़ी।पुलिस ने पार्टी के चार कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही सात अलग-अलग धाराओं में 155 कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

DMK नेता कनिमोझी के घर पर आयकर विभाग ने मारा छापा

दूसरी तरफ डीएमके प्रत्याशी कनिमोझी के घर पर आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा। यह छापा कनिमोझी के तूतीकोरिन के कुरिंची नगर वाले आवास पर पड़ा। इस दौरान कनिमोझी के घर से आयकर विभाग को न कोई कैश और न ही कोई दस्तावेज मिले।

कनिमोझी के घर पर छापे से डीएमके के कार्यकर्ता भड़क गए थे और कई जगरों पर प्रदर्शन किया। कनिमोझी के भाई और पार्टी प्रमुख एमके स्टालिन ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव आयोग की मदद से डीएमके की छवि को खराब करने का काम कर रहे हैं।

Input your search keywords and press Enter.