fbpx
Now Reading:
संसद में आख़िरी बजट सत्र की हुई शुरुआत- राष्ट्रपति ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड
Full Article 3 minutes read

संसद में आख़िरी बजट सत्र की हुई शुरुआत- राष्ट्रपति ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड

नई दिल्ली: बजट सत्र की औपचारिक शुरुआत से पहले नरेंद्र मोदी लंबे समय के बाद मीडिया से मुखातिब हुए और इस दौरान पीएम मोदी ने सभी सांसदों से सदन में उपस्थित रहने की अपील की साथ ही विपक्ष से सदन के सुचारु सञ्चालन में सहयोग की अपील की. आपको बतादें कि मोदी सरकार के पांच साल पूरे हो गए हैं और ये मोदी सरकार का आखिरी बजट है. मोदी सरकार के शासनकाल के आखिरी बजट सत्र की शुरुआत राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ हो गई है. राष्ट्रपति के अभिभाषण के जरिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने 5 साल का रिपोर्ट कार्ड देश के सामने रखा. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना और उनके लाभ के बारे में देश को बताया. उन्होंने बताया कि किस तरह पिछले साढ़े चार साल में सरकार की योजनाओं ने आम आदमी के जीवन में बड़ा बदलाव किया है.राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने भाषण की शुरुआत महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देते हुए की. इस दौरान रामनाथ कोविंद ने ख़ास कर स्वच्छ भारत अभियान, प्रधानमन्त्री उज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना और आयुष्यमान भारत योजना का जिक्र किया.

Related Post:  मोदी और ट्रंप का याराना, पकिस्तान की बढ़ी मुश्किल, इमरान को कड़ा डोज

राष्ट्रपति ने बताया कि सरकार ने आम नागरिकों की बुनियादी जरूरतों को काफी हद तक पूरा किया सरका ने देश भर में 9 करोड़ से ज्यादा शौचालय का निर्माण किया है, 2014 में 40 फीसदी से कम शौचालय थे लेकिन अब 98 फीसदी शौचालय हैं. उज्जवला योजना के तहत 6 करोड़ से ज्यादा गैस कनेक्शन दिए, 2014 तक सिर्फ 12 करोड़ कनेक्शन थे. साढ़े चार साल में कुल 13 करोड़ कनेक्शन दिए गए. आयुष्मान भारत योजना विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है. इसके तहत हर परिवार के प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक के इलाज की व्यवस्था की गई है. 4 महीने में 10 लाख से अधिक लोग अपना इलाज करवा चुके हैं.


प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना’ के तहत देश भर में अब तक 600 से ज्यादा जिलों में 4,900 जन औषधि केन्द्र खोले जा चुके हैं. इन केन्द्रों में 700 से ज्यादा दवाइयां बहुत कम कीमत पर उपलब्ध कराई जा रही हैं.सरकार के द्वारा 1 रुपये महीने प्रीमियम पर बीमा दिया जा रहा है, घुटनों के इलाज के खर्च को सस्ता किया गया है. टीकाकरण के लिए मिशन इंद्रधनुष लॉन्च किया है. राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में कहा कि चाहे शहर हो या गांव मेरी सरकार में स्वास्थ्य से जुड़े इंफ्रास्ट्रकचर को आगे बढ़ाया जा रहा है.प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना’ के तहत अब तक 2 करोड़ 47 लाख घरों में बिजली का कनेक्शन दिया जा चुका है. आयकर का बोझ घटाकर, महंगाई पर नियंत्रण कर मध्यम वर्ग को बचत के नए अवसर दिए हैं. बजट सत्र की शुरुआत हो गई है वित्तमंत्री की अस्वस्थता के चलते रेलमंत्री पीयष गोयल सदन में अंतरिम बजट पेश करेंगे, जनता भी सरकार से बजट में बड़ी उम्मीद लगाए बैठी ऐसे में देखना होगा कि चुनाव के मद्दे नजर सरकार का ये आखिरी बजट जनता को कितनी राहत देता है ?

Related Post:  सोनिया का मोदी सरकार पर बड़ा हमला, कहा राजीव गांधी ने डर-भय फैलाने का काम नहीं किया
Input your search keywords and press Enter.