fbpx
Now Reading:
उन्नाव कांड में बड़ा खुलासा, हादसे से पहले ट्रक की नंबर प्लेट पर नहीं पुता था ग्रीस, CCTV फुटेज
Full Article 3 minutes read

उन्नाव कांड में बड़ा खुलासा, हादसे से पहले ट्रक की नंबर प्लेट पर नहीं पुता था ग्रीस, CCTV फुटेज

उन्नाव रेप कांड और हादसे के बाद आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ कई सबूत सामने आए हैं. जो इशारा कर रहे हैं की हत्या की साजिश पहले से ही रची गई थी. मामले में परत दर परत हत्या की साजिश के राज खुल रहे हैं. इस मामले में हादसे से कुछ वक्त पहले का ट्रक का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है.
हादसे से ठीक पहले नंबर प्लेट पर पोता गया ग्रीस 
जिसमे ट्रक टोल नाके पर खड़ा है और ट्रक का नंबर प्लेट ग्रीस से पुता हुआ नहीं है. यानी साजिश के तहत हत्या से ठीक पहले ट्रक के नंबर प्लेट पर ग्रीस पोता गया.
जेल में मिलती है विधायक को पल-पल की खबर
हादसे की पहले और हादसे के बाद विधायक जी से मिलने कई लोग पहुंचे हादसे के पहले तक मुलाकात करने दी गई.
हादसे के बाद मुलाकात करने पहुंचे लोगों को यह बताया गया कि मामला अब सेंसिटिव हो गया है इसलिए बाद में मिलते हैं.
आरोपी विधायक पर प्रशासन अब भी मेहरबान 
इस मामले में भले ही आरोपी विधायक को पार्टी ने निकाल दिया हो, लेकिन सूबे की सरकार के दबाव के बाद प्रशासन अब भी आरोपी विधायक पर मेहरबानी किया जा रहा है. 13 अप्रैल 2018 को सीबीआई ने विधायक जी को गिरफ्तार किया था जिसके बाद विधायक के सभी शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने की कार्यवाही की गई थी. उस वक्त यह बताया गया कि विधायक के पास कोई भी हथियार नहीं है. जबकि अब खुलकर सामने आ रहा है कि विधायक के पास तीन हथियार के लाइसेंस हैं. जिसमें से एक सिंगल बैरल बंदूक है, एक राइफल है और एक रिवाल्वर है. करीब 15 महीने बाद भी विधायक जी के लाइसेंस निरस्त नहीं हुए हैं.
आरोपी ड्राइवर और मालिक कोर्ट में पेश 
इस मामले में हादसे के आरोपी ट्रक ड्राइवर और ट्रक के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है और सीबीआई ने उन्हें अदालत में पेश किया.इसके अलावा पीड़िता के घर पर सीआरपीएफ के जवान तैनात कर दिए गए हैं. जो पीड़िता के परिवार को सुरक्षा मुहैया कराएंगे.
पीडिता के परिवार को सुरक्षा 
पुलिस ने पीड़िता की सुरक्षा में लगे तीन पुलिसकर्मियों को भी ड्यूटी से हटा दिया है. इन पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि यह पीड़िता के गतिविधियों की जानकारी आरोपी विधायक के गुंडों तक पहुंचा रहे थे. पुलिस फिलहाल इस मामले की जांच कर रही है.
CBI खंगालेगी  कॉल डिटेल 
उन्नाव रेप कांड की पीड़िता के हादसे का मामला सीबीआई को जांच के लिए सौपे जाने के बाद सीबीआई अब मोबाइल डिटेल और कॉल डिटेल भी खंगाल रही है. ताकि यह पता लगाया जा सके कि उस समय किन-किन लोगों ने किन-किन लोगों से बात की जो हत्या की साजिश का पर्दाफाश करने में मददगार साबित होंगे.
कुल मिलाकर इस पूरे मामले में रोजाना कुछ नए खुलासे हो रहे हैं और हर खुलासे के बाद दिए साफ हो रहा है कि हादसा और हत्या की साजिश में बड़ा ही महीन सा फर्क है. जो जांच के बाद निकल कर सामने जरूर आएगा.
Input your search keywords and press Enter.