fbpx
Now Reading:
PAK के खिलाफ हो सकता है जंग का एलान!

PAK के खिलाफ हो सकता है जंग का एलान!

नई दिल्ली, (प्रवीण कुमार) : आतंकवादियों को बढ़ावा देने वाले पाकिस्तान का सच सभी को पता है। सही मायने में पाकिस्‍तान को आतंकियों का देश बुलाया जाए तो गलत नहीं होगा। पाकिस्‍तान अपने देश में आतंकियों को पाल-पोसकर उनका इस्‍तेमाल दूसरे देशों के खिलाफ करता। पाकिस्‍तान का भारत के साथ एक लम्‍बे समय से छत्‍तीस का आंकड़ा हैं। लेकिन भारत के अलावा भी कई ऐसे देश है जो पाकिस्‍तान से नफरत करते हैं। ऐसा ही एक देश है उनका पड़ोसी मुल्‍क अफगानिस्‍तान। जी हां, अफगानिस्तान में पाकिस्तान के खिलाफ लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। लोग अफगानिस्तान के नंगरहार और कुनार इलाकों में पाक की गोलाबारी का विरोध कर रहे हैं। पाकिस्‍तान की इस हरकत से वहां के लोग इतने गुस्‍से में हैं कि प्रदर्शनकारियों ने अफगान प्रेसिडेंट अशरफ गनी से अपील की है कि वह पाक के खिलाफ जंग का एलान कर दें।

Related Post:  नेटफ्लिक्स के साथ-साथ ऑनलाइन स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म्स भारत में केबल टीवी की बढ़ा रहे हैं मुश्किलें

बता दें कि  21 फरवरी को हेलमंद प्रोविन्स की राजधानी लश्करगाह में पाक के खिलाफ जमकर प्रदर्शन हुए थे। इसमें पाक को आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला देश बताया गया था। प्रदर्शनकारियों ने प्रेसिडेंट गनी से अपील की थी पाक के खिलाफ जंग का एलान कर दें। लोगों का ये भी कहना था कि अगर जंग का एलान किया जाता है तो अफगान तालिबान पाक आर्मी के खिलाफ जंग करेगा।

क्या बोले अफगान सिविल सोसाइटी के मेंबर्स?

Related Post:  26 /11 के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज के खिलाफ पाक की कार्रवाई महज दिखावा, आंखों में धूल झोंकने की कोशिश

मेंबर्स के मुताबिक, हम नहीं चाहते कि अफगानिस्तान पाक आर्मी और आतंकियों के हाथों में पड़कर बर्बाद हो जाए। वहीं,पाकिस्तान बलूचिस्तान और दूसरे इलाकों में रह रहे अफगान लोगों पर आतंकी होने का आरोप लगाकर उन्हें टॉर्चर कर रहा है। नंगरहार और कुनार जैसे अफगान शहरों पर मिसाइल हमले किए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि डूरंड लाइन (पाक-अफगान सीमा) के पास भी पाक मिलिट्री एक्टिविटी बढ़ा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.