fbpx
Now Reading:
लोकसभा चुनाव 2019 : एनसीपी की सीटों से चुनाव लड़ना चाहती है राज ठाकरे की पार्टी, कांग्रे स ने आपत्ति जताई
Full Article 2 minutes read

लोकसभा चुनाव 2019 : एनसीपी की सीटों से चुनाव लड़ना चाहती है राज ठाकरे की पार्टी, कांग्रे स ने आपत्ति जताई

मुंबई: महाराष्ट्र में बीजेपी को रोकने के लिए महागठबंध हर तरह से प्रयास कर रही है। गठबंधन में अब तक कई छोटी पार्टियों को भी शामिल किया जा चूका है। शरद पवार लगातार राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना को भी अंदर लाने के लिए पूरा प्रयास कर रहे हैं। लेकिन कांग्रेस नहीं चाहती की राज ठाकरे की पार्टी की वजह से उनका बचा हुआ भी उत्तर भारतीय वोट बीजेपी के तरफ चला जाए। इस बीच राज ठाकरे ने भी मौके का फायदा उठाने की पूरी कोशिश शुरू कर दी है।

हाल के दिनों में एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे और एनसीपी प्रमुख शरद पवार की नजदीकियां लगातार बढ़ी है। शरद पवार की कोशिश को देखते हुए राज ने उनके सामने एनसीपी कोटे की तीन सीटें मांग ली हैं। राज ठाकरे की पार्टी की तरफ से बाला नांदगांवकर एनसीपी से बात कर रहे हैं। इस बातचीत में एमएनएस ने शरद पवार की पार्टी एनसीपी से तीन से चार सीटों की मांग कर रही तो एनसीपी एक से दो सीटें एमएनएस को देने पर सकारात्मक तरीके से विचार कर रही है।

MNS के आने से कांग्रेस – एनसीपी को फायदा

राज ठाकरे चाहते हैं कि, एनसीपी उन्हें अपने कोटे की मुंबई की उत्तर पूर्व, ठाणे और नासिक की सीट दे। जबकि एनसीपी ने ज्यादातर सीटों पर अपने उम्मीदवारों की लिस्ट फाइनल कर ली है और उनके नेता प्रचार में भी जुट गए हैं। एनसीपी ठाणे लोकसभा सीट एमएनएस को देने को तैयार है। आधिकारिक तौर पर फिलहाल दोनों पार्टियां इस खबर की कोई पुष्टि नहीं करना चाहते हैं।

शरद पवार का ये गणित है की अगर महागठबंधन में एमएनएस साथ आती है तो शहरी छेत्रों में कांग्रेस-एनसीपी को फायदा हो सकता है। इतना ही नहीं राज ठाकरे की पार्टी शिवसेना बीजेपी के मराठी वोट बैंक में बड़ी सेंधमारी कर सकती है।

Input your search keywords and press Enter.