fbpx
Now Reading:
अगर ऐसा हुआ तो भारत में बंद हो जायेगा व्हाट्सएप

अगर ऐसा हुआ तो भारत में बंद हो जायेगा व्हाट्सएप

मुंबई: व्हाट्सएप को लेकर एक चौकाने वाली खबर सामने आई है. बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार द्वारा सोशल मीडिया कंपनियों के लिए प्रस्तावित नए नियम अगर लागू होते हैं तो देश में व्हाट्सएप की सेवाएं बंद हो सकती है. जिससे न सिर्फ देश में मौजूद व्हाट्सएप के 20 करोड़ यूजर्स प्रभावित होंगे बल्कि इसका व्यापक असर व्हाट्सएप पर भी देखने को मिलगा. क्योंकि भारत फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी के लिए सबसे बड़ा बाज़ार है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक व्हाट्सएप के कम्युनिकेशन हेड कार्ल वूग ने केंद्र सरकार के सोशल मीडिया कंपनियों के लिए प्रस्तावित नए नियमों पर चिंता जताई है. दरअसल कार्ल वूग का कहना है कि प्रस्तावित नियमों में जो सबसे ज्यादा चिंता का विषय है, वह मैसेजेस का पता लगाने पर जोर देना है। लेकिन व्हाट्सएप डिफाल्ट रूप से एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन की पेशकश करता है, जिसके तहत केवल मैसेज भेजनेवाला और उसे रिसीव करनेवाला ही उसे पढ़ सकता है यहां तक की व्हाट्सएप भी इन संदेशों को पढ़ नहीं सकता है।

Related Post:  आंचल में नहीं था दूध, घर में नहीं था पैसा, भूख से बिलखते बच्चे का मां ने घोंटा गला 

वहीं भारत में प्रस्तावित नियमों पर नाराजगी जताते हुए कार्ल वूग ने आगे कहा कि सरकार द्वारा जिन नियमों को लागू करने की बात कही जा रही है, वह मौजूदा गोपनीयता सुरक्षा के अनुरूप नहीं हैं, जिसे दुनिया भर के लोग पसंद करते हैं.कार्ल वूग का कहना है कि अब तक हम एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन मुहैया कराते हैं, लेकिन नए नियमों के तहत हमें हमारे प्रोडक्ट को दोबारा से नए सिरे से बनाने की जरूरत पड़ेगी. यानी कि मतलब साफ़ है कि ऐसी स्थिति में मैसेजिंग सेवा अपने मौजूदा स्वरूप में मौजूद नहीं रहेगी.

Related Post:  पुणे में लगातार बारिश, कोंढवा इलाके में कंपाउंड वॉल गिरने से 17 लोगों की मौत

गौरतलब है कि व्हाट्सएप में एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन होने से एजेंसियों के लिए अफवाह फैलानेवाले तत्वों तक पहुंचना मुश्किल होता है। ऐसे में लेकिन सोशल मीडिया कंपनियों के लिए सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा प्रस्तावित नियमों के तहत उनके अपनी सेवाओं के दुरुपयोग और हिंसा फैलाने से रोकने के लिए एक उचित प्रक्रिया का पालन करने को कहा गया है.

Input your search keywords and press Enter.