fbpx
Now Reading:
क्या कह गए नितीश कुमार ! NDA से शिवसेना के अलग होने पर बोले मुख्यमंत्री, ‘वो जाने भाई, हमको…’
Full Article 2 minutes read

क्या कह गए नितीश कुमार ! NDA से शिवसेना के अलग होने पर बोले मुख्यमंत्री, ‘वो जाने भाई, हमको…’

महाराष्ट्र विधानसभा में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलने पर उपजे हालात के बाद सरकार बनाने के लिए एनडीए से शिवसेना के अलग होने पर चर्चा शुरू हो गयी है. शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि शिवसेना ने केंद्र में बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतात्रिंक गठबंधन (एनडीए) से अलग होने का फैसला किया है. साथ ही पार्टी महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी के समर्थन से सरकार बनायेगी.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से महाराष्ट्र में शिवसेना के एनडीए से अलग होने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ”वो जाने भाई, इसमें हमको क्या मतलब है?”

कैसे बनेगी शिवसेना की सरकार

शिवसेना के पास 56 विधायक हैं. महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटे हैं. किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए 145 का जादुई आंकड़ा चाहिए. ऐसे में अगर 54 सीटों वाली शरद पवार की पार्टी एनसीपी का समर्थन शिवसेना को मिल जाता है तो आंकड़ा 110 पहुंच जाता है. उसके बाद शिवसेना को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए और 35 विधायकों के समर्थन की जरूरत होगी.

सूबे में अन्य पार्टियों और निर्दलीयों के खाते में 27 सीटें गई हैं, जबकि कांग्रेस के पास 44 सीटें हैं. चूंकि बहुमत के लिए शिवसेना गठबंधन को एनसीपी के अलावा 35 सीटें दरकार हैं. ऐसे में उसके पास कांग्रेस के समर्थन के अलावा कोई चारा नहीं है. अगर कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी साथ में आ जाती हैं तो ये गठबंधन बहुमत का जादुई आंकड़ा आसानी से पार कर रहा है. तीनों की सीटें 154 पर पहुंच जाती हैं.

Input your search keywords and press Enter.