fbpx
Now Reading:
आईटीपीएल के लिए हुई खिलाड़ियों की नीलामी
Full Article 6 minutes read

आईटीपीएल के लिए हुई खिलाड़ियों की नीलामी

tenisइस साल होने आईपीएल के तर्ज पर अंतर्राष्ट्रीय टेनिस प्रीमियर लीग होनी है. इस लीग में पांच फे्रंचाइजी टीमें शामिल हैं. अपने तरह की इस पहली और अनूठी टेनिस लीग में सिंगापुर, मुंबई, बैंकाक, दुबई, कुआलालांपुर की टीमें हिस्सा लेंगी. इस लीग के लिए खिलाड़ियों के लिए दुबई में बोली लगी. यह लीग भारत के टेनिस स्टार महेश भूपति की देखरेख में होगी. विश्‍व चैंपियन स्पेन के टेनिस खिलाड़ी राफेल नडाल, सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना अंतर्राष्ट्रीय टेनिस प्रीमियर लीग के पहले संस्करण में मुंबई के लिए खेलेंगे. इनके अलावा दुबई में 2मार्च को आयोजित अंतर्राष्ट्रीय टेनिस प्रीमियर लीग की नीलामी के दौरान मुंबई फ्रेंचाइजी ने गेल मोनफिल्स, एना इवानोविक, पीट सैम्प्रास और फेब्रिस को भी अपनी टीम में शामिल किया. नोवाक जोकोविक, केरोलिन वोजनियास्की, गोरान इवानिसेविक और मार्टिना हिंगिस दुबई की टीम का हिस्सा होंगे. बैंकाक फे्रेेंचाइजी के लिए विंबलडन चैंपियन एंडी मरे, जो विल्फ्रेड त्सोंग, विक्टोरिया एजारेंका, डेनियल नेस्टर, कार्लोस मोया, किस्टर्न खेलेंगे. सिंगापुर फ्रेंचाइजी ने थॉमस बेरडिक, आंद्र अगासी, लेटन हेविट के साथ करार किया. इसके अलावा मौजूदा प्रोफेशनल खिलाड़ियों के अलावा रिटायर हो चुके खिलाड़ी भी हैं जो अलग-अलग फ्रेंचाइजी के साथ जुड़े. अब यह देखना होगा कि क्या यह आईटीपीएल भी आईपीएल की तरह लोगों के दिलों में जगह बना पाता है.

 

भारत सरकार ने हॉकी इंडिया को दी मान्यता

Hockey_zeitgeist_asiaभारत सरकार ने खेल मंत्रालय की तरफ से हॉकी इंडिया(एचआई) को देश और विदेश में हॉकी को बढ़ावा देने के लिए एक मात्र जिम्मेदार खेल संगठन के तौर पर मान्यता दे दी है. इस पर हॉकी इंडिया के महासचिव नरेन्द्र बत्रा ने कहा कि यह सिर्फ एचआई ही नहीं यह खिलाड़ियों और कोचों के लिए गर्व का दिन है जो इसके लिए कठिन प्रयास करते रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य हॉकी को देश का अग्रणी खेल बनाना है और हम आगे भी यही काम करते हुए हॉकी को खोई प्रतिष्ठा वापस दिलाने के लिए प्रयासरत रहेंगे. बत्रा ने खेल एवं युवा मामले का धन्यवाद किया. बत्रा ने कहा हम जिसके हकदार थे, वह थोड़ी देर ही सही लेकिन मिला. इससे हमारा मनोबल बढ़ा है और हम दोगुने उत्साह के साथ काम करेंगे. ऐसी मान्यता के लिए किसी खेल संगठन को उस खेल के अंतर्राष्ट्रीय संगठन के साथ-साथ भारतीय ओलंपिक संघ की मान्यता मिली होनी चाहिए. हॉकी इंडिया 2009 से ही इस मान्यता को पूरा कर रहा था. भारतीय ओलंपिक संघ के अलावा अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ और एशिया हॉकी महासंघ हॉकी इंडिया को देश में हॉकी के प्रशासन और विकास के लिए जिम्मेदार संगठन मानते हैं. इन संगठनों की मदद के दम पर ही हॉकी इंडिया बीते सालों में विश्‍व कप 2010 जैसे कई अहम आयोजन कर चुका है.

 

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में भारत तीसरे स्थान पर लुढ़का

indian-teamकेपटाउन में हुए टेस्ट मैच में तीसरे और अंतिम टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने दक्षिण अफ्रीका को 245 रनों से हरा दिया. इसी के साथ आस्ट्रेलिया भारत के स्थान पर दूसरे स्थान पर आ गया और आईसीसी रैकिंग में भारत तीसरे स्थान पर चला गया. ऑस्ट्रेलिया ने जब श्रृखंला में भाग लिया था तो उसका अंक 111 था. इस मैच को जीतने के बाद उसकी 4 अंको के बढ़त के साथ 115 रेटिंग हो गई है जो भारत से तीन अंक अधिक है. एक अप्रैल तक कट ऑफ आएगी तब तक आस्ट्रेलिया दूसरे और भारत का तीसरे स्थान पर रहना तय माना जा रहा है. अब इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया को 3,75,000 डॉलर की इनामी राशि मिलेगी जबकि तीसरे स्थान के लिए भारत को 2,65,000 डॉलर मिलेगा. इंग्लैंड को चौथे स्थान पर रहने के कारण 1,60,000 डॉलर मिलेगा. शीर्ष पर रहने वाले दक्षिण अफ्रीका के 127 अंक रह गए हैं लेकिन इसके बावजूद उसे पहले स्थान पर रहने के लिए 4,75,000 डॉलर मिलेंगे. भारतीय टीम को आगामी समय में अपनी रैंकिंग सुधारने के लिए और बेहतर प्रदर्शन करना होगा जिससे वह दूसरा स्थान फिर से प्राप्त कर सके. भारत में धर्म की तरह माने जाने वाले इस खेल के लिए भारतीय दर्शक अपनी टीम को नंबर एक देखना पसंद करते हैं.

 

भारतीय मुक्केबाजी संघ टर्मिनेट

boxerइंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन(एआईबीए) ने इंडियन बॉक्सिंग फेडरेशन(आईबीए) को टर्मिनेट कर दिया है. इसके बावजूद मुक्केबाज और कोच पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और वह इस विवाद का हल निकलने तक प्रतियोगिता में एआईबीए के ध्वज तले हिस्सा ले पाएंगे. जबकि भारतीय बॉक्सिंग फेडरेशन को दिसंबर 2002 में ही सस्पेंड कर दिया गया था, लेकिन इसकी समीक्षा के लिए होल्ड पर रखा गया था. खबर है कि भारतीय संघ को बर्खास्त करने के पीछे एसोसिएशन की छोटी-छोटी इकाइयों का खिलाफत का कारण है. अब इस  झगड़े का हल नहीं निकलने तक  होने वाली सभी प्रतियोगिताओं में भारतीय खिलाड़ी एआईबीए के तले ही हिस्सा लेंगे. भारत को बर्खास्त करने के अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी महासंघ के फैसले बाद अब भारतीय मुक्केबाजी संघ को नए सिरे से चुनाव कराने होंगे.

 

माराडोना ने की मेस्सी की तारीफ

meradonaफुटबॅाल के दर्शकों में अर्जेंटीना के दो मशहूर फुटबालरों माराडोना और लियोनल मेस्सी के बीच सर्वश्रेष्ठ कौन है. इसकी लड़ाई हमेशा चलती रहती है. मराडोना ने मेस्सी के बारे में कहा कि लियोनल मेस्सी को अपनी महानता को साबित करने के लिए वर्ल्ड कप ट्राफी की जरूरत नहीं है. 1986 में अर्जेंटीना की वर्ल्ड कप जीत में अहम भूमिका निभाने वाले माराडोना ने कहा दुनिया के महान फुटबालरों में शामिल होने के लिए वर्ल्ड कप जीतने की जरूरत नहीं है.
यदि वह ऐसा करते हैं तो यह देश, उनके सर्मथकों और मेस्सी के लिए अच्छा होगा. वर्ल्ड कप जीतने न जीतने से उनकी उपलब्धियां कम नहीं हो जाती हैं. अर्जेंटीना के कप्तान रहे और पूर्व कोच माराडोना ने कहा कि मेस्सी के प्रसिद्ध होने के लिए सारी परिस्थितियां मौजूद है. इसके बावजूद वर्ल्ड कप जीतने के लिए अर्जेंटीना की राह आसान नहीं है, क्योंकि मेजबान ब्राजील, पिछली बार की चैंपियन स्पेन और जर्मनी से पार पाना आसान नहीं होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Input your search keywords and press Enter.