fbpx

Tag: इलाहाबाद

शर्मनाक 9 से 11 साल के तीन नाबालिग ने किया 5 वर्ष की मासूम से रेप, झाड़ियों में मिली बेहोश बच्ची

शर्मनाक 9 से 11 साल के तीन नाबालिग ने किया 5 वर्ष की मासूम से रेप, झाड़ियों में मिली बेहोश बच्ची

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज से चौंकाने वाला मामला सामने आया है।जहां तीन नाबालिग लड़को ने एक पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म कर झाड़ियों में फेंक दिया था। हैरान करने वाली बात है आरोपी बच्चों की उम्र महज़ 9 से...

कुंभ 2019- तीसरा और आखरी शाही स्नान, 2 करोड़ लोग लगाएंगे आस्था डुबकी- अनुमान

कुंभ 2019- तीसरा और आखरी शाही स्नान, 2 करोड़ लोग लगाएंगे आस्था डुबकी- अनुमान

संगम शहर में चल रहे आस्था के पर्व कुंभ में कल यानी रविवार को बसंत पंचमी के दिन तीसरे ‘शाही स्नान’ के मौके पर में कम से कम दो करोड़ से अधिक लोगों के आने की संभावना है। कुंभ मेला...

आयोजन से पहले ही घोटालों को लेकर चर्चा में आया कुम्भ मेला

आयोजन से पहले ही घोटालों को लेकर चर्चा में आया कुम्भ मेला

प्रयागराज का महा-कुम्भ आयोजन से पहले ही घोटालों और अनियमितताओं को लेकर चर्चा में आ गया है. कुम्भ की तैयारियों की शुरुआत ही वाहनों और उपकरणों की खरीद में घोटाले के साथ हुई. इलाहाबाद नगर निगम ने कूड़ा उठाने वाले...

योगी सरकार का कारनामा: हरित-कुम्भ के लिए काटे जा रहे पेड़

योगी सरकार का कारनामा: हरित-कुम्भ के लिए काटे जा रहे पेड़

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस बार कुम्भ मेले को हरित-कुम्भ के रूप में भी मनाने का दावा किया था. इसके लिए योगी की उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानंद सरस्वती के साथ बैठक भी...

इस धार्मिक आयोजन को वैश्विक स्तर पर ऐतिहासिक बनाएगी योगी सरकार

इस धार्मिक आयोजन को वैश्विक स्तर पर ऐतिहासिक बनाएगी योगी सरकार

इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने के बाद अब यहां होने वाले कुम्भ को भी ऐतिहासिक बनाने की तैयारी है. कुम्भ के आयोजन से प्रत्येक व्यक्ति को जोड़ने की राजनीतिक दूरंदेशी से प्रत्येक गांव से एक प्रतिनिधि को आमंत्रित किया...

इलाहाबाद में दिनदहाड़े गोली मारकर वकील की हत्या

इलाहाबाद में दिनदहाड़े गोली मारकर वकील की हत्या

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में बदमाशों के हौसले बेहद बुलंद हैं। भाजपा नेता की हत्या के दो दिन बाद ही आज दिनदहाड़े मनमोहन पार्क के बाद एक वकील की हत्या कर दी गई। कर्नलगंज थाना क्षेत्र के मनमोहन पार्क के...

बंद हो गया इलाहाबाद में स्नानघाटों और शवदाह गृहों का निर्माण

बंद हो गया इलाहाबाद में स्नानघाटों और शवदाह गृहों का निर्माण

ढिंढोरे से नहीं होती स़फाई , अर्धकुंभ से पहले गंगा-यमुना को प्रदूषण-मुक्त करने का लक्ष्य अधर में प्रचारतंत्र और ढींढोरेबाजी से गंगा कभी प्रदूषण-मुक्त नहीं हो सकती. ‘नमामि गंगे’ योजना के तहत इलाहाबाद में दर्जनभर स्नान घाटों और आधा दर्जन से...

यूपी की स्कूली शिक्षा में कहीं सैकड़ों करोड़ का टेंडर घोटाला तो कहीं ड्रेस घोटाला, पढ़ाई में घोटाला

यूपी की स्कूली शिक्षा में कहीं सैकड़ों करोड़ का टेंडर घोटाला तो कहीं ड्रेस घोटाला, पढ़ाई में घोटाला

यूपी बेसिक एजुकेशनल प्रिंटर्स एसोसिएशन के मुताबिक बेसिक शिक्षा विभाग की कक्षा एक से आठ तक की पाठ्य-पुस्तकों के मुद्रण और आपूर्ति के लिए होने वाले टेंडर में 300 करोड़ रुपए से अधिक का घोटाला हुआ है. प्राइमरी स्कूलों की...

गंगा सफाई को लेकर केंद्र सरकार को सूझ नहीं रहा कोई ठोस जवाब : आंकड़े ही आंकड़े दे रहे हैं बांकुड़े!

गंगा सफाई को लेकर केंद्र सरकार को सूझ नहीं रहा कोई ठोस जवाब : आंकड़े ही आंकड़े दे रहे हैं बांकुड़े!

गंगा की सफाई को लेकर अजीबोगरीब आंकड़े सामने आ रहे हैं. इन आंकड़ों से गंगा की सफाई के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भावनात्मक जुड़ाव के बयानों पर सवाल खड़े हो रहे हैं. सूचना के अधिकार के तहत पूछे गए...

स्मार्ट सिटी में शामिल हुआ लखनऊ, वाराणसी समेत यूपी के 13 और शहर होंगे स्मार्ट : स्मार्ट सिटी बनाम स्मार्ट पॉलिटी

स्मार्ट सिटी में शामिल हुआ लखनऊ, वाराणसी समेत यूपी के 13 और शहर होंगे स्मार्ट : स्मार्ट सिटी बनाम स्मार्ट पॉलिटी

2017 के विधानसभा चुनाव में प्रवेश करते हुए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का स्मार्ट सिटी के रूप में बदलने के लिए चयनित होना सुनने में तो अच्छा लगता है, पर आप गौर करें तो स्मार्ट सिटी के शोर में...

पुरस्कारों में पारदर्शिता का प्रशन

पुरस्कारों में पारदर्शिता का प्रशन

पद्म पुरस्कारों पर विवाद कोई नई बात नहीं है, लेकिन हर बार सवाल चयनित नामों को लेकर हुआ इस बार विवाद चयन की प्रक्रिया को सार्वजनिक करने को लेकर है. हालांकि इस बात को लेकर कोई बहस की गुंजाइश नहीं...

अन्ना को जबरदस्त समर्थन

अन्ना को जबरदस्त समर्थन

अपनी जनतंत्र यात्रा के पांचवे चरण में अन्ना ने कहा कि केंद्र सरकार जन लोकपाल बिल के नाम पर धोख़ा कर रही है. आज तक जन लोकपाल जनता को नहीं मिल पाया है. अन्ना ने सरकार की वायदाख़िलाफ़ी से क्षुब्ध...

सूर्यकांत त्रिपाठी निराला : आदर्शों और सिद्घांतों से कभी समझौता नहीं किया

निराला जैसे व्यक्तित्व सिर्फ एक बार पैदा होते हैं. उन्होंने अपने संपूर्ण जीवन में न केवल परिस्थितियों से लोहा लिया, बल्कि अपने आदर्शों और सिद्घांतों से कभी भी समझौता नहीं किया. वह हिन्दी, बांग्ला, अंग्रेज़ी और संस्कृत भाषा में निपुण...

खजुराहो : अदभुत मूर्ति शिल्प का बेजो़ड नमूना

खजुराहो : अदभुत मूर्ति शिल्प का बेजो़ड नमूना

खजुराहो के मंदिरों की बात ही निराली है. यहां की मूर्तियां नृत्य और संगीत की छटा से भक्तों का मन मोह लेती हैं. दीवारों पर प्रणय में लीन जो़डे बरबस ही हमें अपनी ओर खींच लेते हैं. अद्भुत है यहां...

पतितपावनी गंगा : यात्रा की गाथा

पतितपावनी गंगा : यात्रा की गाथा

हाल में पेंगुइन ने गंगा पर आधारित एक किताब प्रकाशित की है, जिसका नाम है दर दर गंगे. आइए जानते हैं, इस किताब में क्या ख़ास है? गंगा स़िर्फ एक नदी नहीं है, बल्कि यह एक संस्कृति है, सभ्यता है...

इन्द्रजीत की शहादत को सलाम : कानपूर हमे तुम पर नाज है

इन्द्रजीत की शहादत को सलाम : कानपूर हमे तुम पर नाज है

 घटना अनोखी नहीं थी, क्योंकि ऐसी घटना देश के किसी भी हिस्से में हो सकती है और होती भी रहती है, लेकिन ऐसी घटनाओं पर अक्सर रोशनी नहीं पड़ती. कानपुर में अपने नागरिक कर्तव्य को अंजाम देते हुए इंद्रजीत सिंह...

एक संन्यासिनी कवयित्री महादेवी वर्मा

एक संन्यासिनी कवयित्री महादेवी वर्मा

बीसवीं सदी की सर्वाधिक लोकप्रिय महिला साहित्यकार महादेवी वर्मा हिंदी साहित्य में धुव्र तारे की तरह प्रकाशमान हैं. वह एक कवयित्री, लेखिका और विचारक हैं. प्रख्यात  कवयित्री महादेवी वर्मा की गिनती हिंदी कविता के छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभ...

न्यायपालिका के कठघरे में नौकरशाही : क्या अब अधिकारी सुधरेंगे?

न्यायपालिका के कठघरे में नौकरशाही : क्या अब अधिकारी सुधरेंगे?

अदालत के सख्त रुख़ ने उत्तर प्रदेश के उन नौकरशाहों के होश उड़ा दिए हैं, जो अपने कर्तव्यों की न केवल अनदेखी, बल्कि अदालती आदेशों के अनुपालन में भी हीलाहवाली कर रहे थे. सूबे की जनता को अदालत के ताजा...

हिंदुस्तान की सांझी विरासत

हिंदुस्तान की सांझी विरासत

हिंदुस्तान में आज जब मुट्ठीभर ख़ुदग़र्ज़ लोग मज़हब, जात, भाषा और प्रांत के नाम पर देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं, तो ऐसे में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के संदेश बेहद प्रासंगिक हो जाते हैं. उन्होंने हमेशा देश की एकता और...

ग्रहों ने बढ़ाई जल की पवित्रता

ग्रहों ने बढ़ाई जल की पवित्रता

दुनिया की तमाम सभ्यताएं नदियों के किनारे ही परवान चढ़ी हैं, क्योंकि पानी के बिना ज़िंदगी का तसव्वुर भी नहीं किया जा सकता. हिंदुस्तान में भी नदियों के किनारे बस्तियां बसीं और कई सभ्यताएं फली-फूलीं. ख़ास बात तो यह है कि...

आम आदमी और न्यायपालिका

आम आदमी और न्यायपालिका

आज हर कोई न्यायपालिका के उत्तरदायित्व की बात कर रहा है. यानी न्यायपालिका से जुड़े हर एक तंत्र को उत्तरदायी कैसे बनाया जा सके. जज इंक्वायरी एक्ट विधेयक में संशोधन की बात चल रही है, जिसमें राष्ट्रीय न्यायिक परिषद गठित...

यह परीक्षा की घड़ी है

ऐतिहासिक घटनाएं चुनौतियां लेकर आती हैं. बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि विवाद आज़ाद भारत की पहली ऐसी घटना है, जिसने हमारी राष्ट्रीयता और धर्म निरपेक्षता को एक साथ चुनौती दी है. साठ साल से चल रहे विवाद की सुनवाई खत्म हो गई...

पुस्‍तक अंश: मुन्‍नी मोबाइल- 32

पुस्‍तक अंश: मुन्‍नी मोबाइल- 32

आनंद विचारों को झटक देना चाहते थे, पर ऐसा उनके साथ कई बार नहीं हो पाता. ख़ासकर इलाहाबाद उनके लिए यादों का शहर रहता है हर बार. विश्वविद्यालय परिसर ही नहीं, कभी-कभी इस शहर का हर कोना उन्हें मानसी के...

गरीबों के रहनुमा थे वीपी सिंह

गरीबों के रहनुमा थे वीपी सिंह

जब सामाजिक जीवन विचार केंद्रित, सार्थक परिवर्तन-परिचालित न हो, जनांदोलन रहित हो जाए, ताक़तवर लोगों की सरपरस्ती के तहत ही जीने की मजबूरी हो, लोकतंत्र के विकास के लिए न कोई आकांक्षा हो और न तैयारी, व्यापक असमानता, कुव्यवस्था एवं...

सतना पुलिस चौकी को अस्तित्व की तलाश

सतना पुलिस चौकी को अस्तित्व की तलाश

सतना स्टेशन स्थित जीआरपी पुलिस की चौकी अंग्रेज़ों के राज्य में 160 साल पहले स्थापित की गई थी. मुंबई-हावड़ा प्रमुख रेल मार्ग से गुज़रने वाली सभी ट्रेनें इस चौकी से होकर ही गुज़रती थी. चौकी की स्थापना के समय सतना...

अमिताभ को अपमानित मत करो

अमिताभ बच्चन को अभी और अपमान सहने पड़ सकते हैं. एक व्यक्ति के नाते उनकी व्यथा को कोई समझना नहीं चाहता. कोई से हमारा मतलब आम जनता से नहीं, बल्कि खास लोगों से है. ये खास लोग कांग्रेस से रिश्ता...

गंगा के दिन कब बहुरेंगे?

गंगा के दिन कब बहुरेंगे?

पिछले दिनों एक ख़बर आई कि पोलैंड के एक नवयुवक मैटीज लेसजेक टर्स्की की गंगाजल पीने से मौत हो गई. यह ख़बर निश्चित तौर पर उन लाखों-करोड़ों लोगों को आघात पहुंचाने वाली थी, जो अभी भी गंगा तेरा पानी

फर्ज़ी मुठभेड़ के आरोपी पुलिसकर्मियों को सज़ा

फर्ज़ी मुठभेड़ के आरोपी पुलिसकर्मियों को सज़ा

सवा छह साल बाद ही सही, सोनभद्र के रनटोला के जंगल में बदमाश बताकर पुलिस द्वारा मारे गए निर्दोष युवकों के घरवालों के साथ न्याय हो गया. अदालत ने फर्ज़ी मुठभेड़ के ज़रिए वाहवाही लूटने की कोशिश करने वाले सोलह...

जसवंत सिंह से भाजपा डर रही है

जसवंत सिंह भाजपा के पहले ऐसे राष्ट्रीय नेता बन गए जिनसे न स़फाई पूछी गई, न बोलने का अवसर दिया गया, बस बाहर का दरवाज़ा दिखा दिया गया. उनका इतना सम्मान भी नहीं रखा, जितना एक सामान्य राजनैतिक सहयात्री का...

Input your search keywords and press Enter.