fbpx

Tag: ईसाई

देश का माहौल मत बिगाड़िए

देश का माहौल मत बिगाड़िए

सोसाइटी की प्रॉब्लम क्या है, जैसा कि अंबेडकर साहब ने कहा था कि संविधान निश्चित कर देगा कि एक डेमोक्रेटिक पॉलिटी यानि लोकतांत्रिक राजनीति आगे आई थी. ये लोकतांत्रिक समाज नहीं है. ये नहीं चलेगा और वही हुआ. अंशु प्रकाश...

मतदाता बदल सकते हैं देश की किस्मत

आगामी आम चुनाव वर्ष 2014 की सबसे महत्वपूर्ण घटना है. आर्थिक परिदृश्य के संदर्भ में बात करें, तो लोग इस बात का भी इंतज़ार कर रहे हैं कि चुनाव हों और नए प्रयास एवं नई नीतियां सामने आएं. हालांकि, इस...

स्वधर्म क्या है

स्वधर्म क्या है

अर्जुन अहिंसा की ही नहीं, संन्यास की भी भाषा बोलने लगा था. इस रक्तरंजित क्षात्रधर्म से संन्यास भला! ऐसा अर्जुन कह रहा था. लेकिन क्या वह अर्जुन का स्वधर्म था? क्या वह उसकी वृत्ति थी? अर्जुन संन्यासी का वेश तो...

मन में हो विश्‍वास

मन में हो विश्‍वास

एक समय तक शिरडी गांव की गिनती पिछड़े गांवों में हुआ करती थी. उस समय शिरडी और उसके आसपास के लगभग सभी गांवों में ईसाई मिशनरियों ने अपने पैर मज़बूती से जमा लिए थे. ईसाइयों के प्रभाव-लोभ में आकर शिरडी...

ऐसे बनेगी मुसलमानों की तकदीर

ऐसे बनेगी मुसलमानों की तकदीर

अमेरिका स्थित पिऊ रिसर्च सेंटर की हाल में आई एक रिपोर्ट के अनुसार, पूरे विश्व में एक बिलियन और 570 मिलियन मुसलमान हैं. मतलब दुनिया का हर चौथा आदमी मुसलमान है. क्या इस रिपोर्ट में कुछ ऐसा है, जिस पर...

सबका मालिक एक

सबका मालिक एक

हेमाड पंत जी साई सच्चरित्र में लिखते हैं, बाबा अक्सर कहा करते थे कि सबका मालिक एक. आख़िर इस संदेश का मतलब क्या था? आइए बाबा के इसी संदेश पर कुछ बातें करें. बाबा के विषय में हम जितना मनन...

कंधमाल हिंसा: यह आग कब और कैसे बुझेगी?

कंधमाल हिंसा: यह आग कब और कैसे बुझेगी?

ईसा मसीह की टूटी मूर्ति, अधजले धर्मग्रंथ, जले घर, घर से बाहर झांकता एक मासूम चेहरा और तिलक-चंदन लगाकर लोगों को फिर से हिंदू बनाने का आयोजन. यह कहानी वे तस्वीरें ख़ुद बयां करती हैं, जो कंधमाल में अल्पसंख्यक ईसाइयों...

स्‍वाधीनता संग्राम और मुसलमान

स्‍वाधीनता संग्राम और मुसलमान

इस साल कांग्रेस अपना 125वां स्थापना दिवस मना रही है. भारत के सभी धर्मों के नागरिकों ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के ज़रिए स्वतंत्रता आंदोलन में अपना योगदान दिया, परंतु हमारे नेताओं की बहुसंख्यकवादी मानसिकता और स्कूली पाठ्‌यक्रम तैयार करने वालों...

अंधे सिर्फ आलोचना करते हैं समाधान नहीं देते

अंधे सिर्फ आलोचना करते हैं समाधान नहीं देते

औरतों के इतिहास में एक सम्मानजनक नाम आया है, जिन्हें बीबी मरियम कहा जाता है. मरियम का मतलब पाकीज़ा होता है यानी पवित्रता. मरियम को हमारे देश के ईसाई और तक़रीबन सभी समुदाय के लोग बड़े सम्मान और श्रद्धा से...

अल्‍पसंख्‍यकों की हालत समझना जरूरी

अल्‍पसंख्‍यकों की हालत समझना जरूरी

संयुक्त राष्ट्र संघ में लगभग दो सौ सदस्य देश हैं, लेकिन इनमें शायद ही कोई मुल्क ऐसा हो, जिसकी पूरी आबादी एक ही मज़हब, भाषा, नस्ल या फिर संस्कृति की हो. यानी इन सभी मुल्कों में बहुसंख्यक आबादी के साथ-साथ...

Input your search keywords and press Enter.