fbpx

Tag: उत्तराखंड

जब तोप मुक़ाबिल हो : असंवेदनशील है उत्तराखंड सरकार

जब तोप मुक़ाबिल हो : असंवेदनशील है उत्तराखंड सरकार

बारिश आ रही है और नदियां उफान पर हैं, लेकिन मंत्रियों, राजनेताओं और अफसरों को इसकी कोई चिंता नहीं है. उत्तराखंड में फिर से तबाही मचने वाली है, लेकिन उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश, बिहार और उ़डीसा के ब़डे हिस्से में अगले दो...

पीएम और आपदा प्रबंधन का सच

पीएम और आपदा प्रबंधन का सच

उत्तराखंड आपदा की जो बात कभी नहीं भूली जा सकती, वह है समय पर राहत न मिल पाने की टीस. इस त्रासदी ने भारत में आपदा प्रबंधन पर सवालिया निशान लगा दिया है. सवाल यह उठता है कि क्या भारत...

…तो फिर ऐसी संस्था की ज़रूरत क्या है

…तो फिर ऐसी संस्था की ज़रूरत क्या है

उत्तराखंड में आई प्राकृतिक आपदा पूरे देश के लिए शोक का विषय है. सेना और अर्द्धसैनिक बलों के जवानों ने दिन-रात जुटकर प्रभावित लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला. लेकिन इस दौरान स्थानीय प्रशासन और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) की...

दंगे  होने वाले है

दंगे होने वाले है

देश में जिस तरह का राजनीतिक माहौल बनाया जा रहा है, उससे साफ़ लगता है कि दंगे होने वाले हैं. देश का मीडिया, राजनीतिक दल और राजनेता इस देश में दंगे कराने पर आमादा हैं. दंगे कराने वालों में सांप्रदायिक...

जब तोप मुकाबिल हो : उत्तराखंड की मदद हर भारतीय का कर्तव्य है

जब तोप मुकाबिल हो : उत्तराखंड की मदद हर भारतीय का कर्तव्य है

उत्तराखंड की आपदा क्या दैवीय आपदा है? क्या यह भगवान की नाराज़गी का परिणाम है, या यह गंगा मां के गुस्से का परिणाम है? हम हिंदुस्तान के लोग नुक़सान उठाने के बाद अपनी संतुष्टि के लिए भगवान पर ज़िम्मेदारी डाल...

उत्तराखंड : तबाही के लिए सरकार है ज़िम्मेदार

उत्तराखंड : तबाही के लिए सरकार है ज़िम्मेदार

सरकार ने अगर पिछली घटनाओं से सबक लेते हुए समय रहते एहतियात के तौर पर आवश्यक क़दम उठाए होते, तो लोगों की जानें बच सकती थीं, लेकिन उसे तो भ्रष्टाचार और लूट-खसोट से फुर्सत नहीं है. नेताओं को भाषणबाजी से...

गोपेश्व र धाम जहां भर जाती है भक्तों की झोली…

गोपेश्व र धाम जहां भर जाती है भक्तों की झोली…

गोपेश्‍वर धाम का उल्लेख पुराणों में मिलता है. इस तीर्थ स्थली के बारे मे मान्यता यहहै कि यहां से भक्तों की झोली खाली नहीं जाती और लोग जो सोचकर आते हैं, वही लेकर जाते हैं…  देश  के विभिन्न हिस्सों में...

जनतंत्र मोर्चा पहला कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर संपन्न

जनतंत्र मोर्चा पहला कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर संपन्न

प्रख्यात गांधीवादी एवं सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हज़ारे ने बीते 9 जून को ऋषिकेश के परमार्थ निकेतन में जनतंत्र मोर्चा द्वारा आयोजित प्रथम कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर का उद्घाटन किया. इस मौके पर उनके साथ वरिष्ठ पत्रकार संतोष भारतीय भी थे. इस प्रशिक्षण...

पतितपावनी गंगा : यात्रा की गाथा

पतितपावनी गंगा : यात्रा की गाथा

हाल में पेंगुइन ने गंगा पर आधारित एक किताब प्रकाशित की है, जिसका नाम है दर दर गंगे. आइए जानते हैं, इस किताब में क्या ख़ास है? गंगा स़िर्फ एक नदी नहीं है, बल्कि यह एक संस्कृति है, सभ्यता है...

नक्सलवाद से माओवाद तक

नक्सलवाद से माओवाद तक

छत्तीसगढ़ में हालिया माओवादी हमले के बाद एक बार फिर से देश में माओवाद और माओवादी केंद्रीय बहस का मुद्दा बन चुके  हैं. इसके समर्थन और विरोध में तमाम तर्क-वितर्क किए जा रहे हैं. आइए, इन तर्कों-वितर्कों और समर्थन-विरोध से...

अन्ना की हुंकार : जन विरोधी सरकारों को उखाड़ फेंके

अन्ना की हुंकार : जन विरोधी सरकारों को उखाड़ फेंके

अन्ना हज़ारे की जनतंत्र यात्रा का तीसरा चरण उत्तराखंड में बीते 24 मई को संपन्न हुआ. समाजसेवी अन्ना हज़ारे एवं वरिष्ठ पत्रकार संतोष भारतीय की अगुवाई में चल रही जनतंत्र यात्रा अपने तीसरे चरण में 18 मई को उत्तराखंड के...

कार्यपालिका अब विश्वास खो चुकी है

जिस  दिन कर्नाटक विधानसभा चुनाव का परिणाम आया और कांग्रेस को जीत हासिल हुई, उसी दिन संसद स्थगित कर दी गई. उस दिन का सेकेंड हॉफ बहुत खराब रहा, क्योंकि कार्यपालिका ने अपना सम्मान खो दिया. भारत में इस समय...

भारत में आइस हॉकी का भविष्य?

भारत में आइस हॉकी का भविष्य?

हॉकी सिर्फ घास के मैदान में ही नहीं खेली जाती है, बल्कि अब बर्फ पर भी हॉकी मैच खेले जाते हैं. आइस हॉकी कहा जाने वाला यह खेल तेज़ी से लोकप्रियता की सीढ़ी चढ़ रहा है. भारत में आइस हॉकी...

उत्तराखंडः पिंडरगंगा घाटी, ऐसा विकास किसे चाहिए

उत्तराखंडः पिंडरगंगा घाटी, ऐसा विकास किसे चाहिए

पिंडरगंगा घाटी, ज़िला चमोली, उत्तराखंड में प्रस्तावित देवसारी जल विद्युत परियोजना के विरोध में वहां की जनता का आंदोलन जारी है. गंगा की सहायक नदी पिंडरगंगा पर बांध बनाकर उसे खतरे में डालने की कोशिशों का विरोध जारी है. इस...

कांग्रेस को सबक़ लेनी चाहिए

कांग्रेस को सबक़ लेनी चाहिए

कांग्रेस को सीख लेनी चाहिए, लेकिन कांग्रेस सीख लेगी, इसमें संदेह है. क्योंकि उत्तर प्रदेश में इतनी करारी हार के बाद भी उत्तराखंड में कांग्रेस ने राजनीतिक अपरिपक्वता का परिचय दिया. उत्तराखंड की राजनीति में हरीश रावत महत्वपूर्ण नाम है....

उत्तराखंड : खंडूरी हारे, फिर भी कांग्रेस नहीं जीती

उत्तराखंड : खंडूरी हारे, फिर भी कांग्रेस नहीं जीती

जीतकर भी हारना क्या होता है, अगर आपको यह जानना है तो उत्तराखंड से बेहतर उदाहरण नहीं हो सकता. कमज़ोर नेतृत्व और आलाकमान में दूरदर्शिता की कमी क्या होती है, उत्तराखंड इसका भी नमूना पेश करता है. जिस राज्य में...

उत्तराखंड: भाजपा और कांग्रेस में बग़ावत के आसार

देवभूमि के रूप में प्रख्यात उत्तराखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेताओं को इस भीषण सर्दी के मौसम में पसीने से तर-बतर कर दिया है. राज्य में आगामी 30 जनवरी...

नंदा देवी महोत्सव : हर तरफ मां के जयकारे की गूंज

नंदा देवी महोत्सव : हर तरफ मां के जयकारे की गूंज

उत्तराखंड के कई हिस्सों में नंदा देवी का उत्सव काफी धूमधाम से मनाया जाता है. नैनीताल में भी इस वर्ष 108वां उत्सव मनाया गया. ऐसी मान्यता है कि कंस ने जब देवकी की आठवीं संतान को मारने के लिए उसे...

उत्तराखंडः पूर्णानंद दिलाएंगे निगमानंद के हत्यारों को सजा

उत्तराखंडः पूर्णानंद दिलाएंगे निगमानंद के हत्यारों को सजा

धर्मनगरी हरिद्वार में गंगा और पर्यावरण की रक्षा की मांग को लेकर शहादत देने वाले युवा संत निगमानंद की समाधि की मिट्टी अभी सूखी भी नहीं थी कि मातृ सदन के दूसरे युवा संत स्वामी पूर्णानंद सरस्वती ने अपने गुरुभाई...

उत्तराखंडः भाजपा में घमासान

उत्तराखंडः भाजपा में घमासान

देवभूमि उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिन्ह कमल संगठन में व्याप्त गुटबाज़ी के कीचड़ में लथपथ होता जा रहा है. सूबे के मुख्यमंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक अपने साथियों की लगातार उपेक्षा कर पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी...

उत्तराखंडः कांग्रेस पर गुटबंदी हावी

उत्तराखंडः कांग्रेस पर गुटबंदी हावी

देश में पांच राज्यों के चुनाव संपन्न होने के साथ ही उत्तराखंड में भी राजनीतिक तपिश तेज हो गई है. राज्य की पांच संसदीय सीटों पर क़ब्ज़े के बाद से ही कांग्रेसी नेताओं की बांछें खिली हुई हैं. आठ माह...

देवभूमि में भोजपुरी की गूंज

देवभूमि में भोजपुरी की गूंज

उत्तराखंड के मैदानी भाग से लेकर पहाड़ तक भोजपुरी समाज की आबादी लगातार बढ़ती जा रही है. इसके बावजूद सूबे के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक वादा करके भी दसवें राष्ट्रीय भोजपुरी सम्मेलन में नहीं आए.

उपेक्षा की शिकार पुजारी अन्ना की राह पर

उपेक्षा की शिकार पुजारी अन्ना की राह पर

उत्तराखंड देवभूमि होने के कारण पर्यटन प्रधान राज्य के रूप में विश्वविख्यात है. इसी राज्य में प्रसिद्ध बद्रीनाथ धाम एवं पावन केदारनाथ धाम भी हैं, जहां मोक्ष की कामना लेकर प्रति वर्ष लाखों श्रद्धालु हाजिरी लगाने आते हैं. आगामी 8...

उत्तराखंडः कैग की रिपोर्ट ने निशंक सरकार की पोल खोली

उत्तराखंडः कैग की रिपोर्ट ने निशंक सरकार की पोल खोली

भारत के महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट ने देवभूमि उत्तराखंड की भाजपा सरकार के लिए परेशानी खड़ी कर दी है. कैग ने अपनी रिपोर्ट में महाकुंभ में की गई गड़बड़ियों के साथ-साथ सरकार द्वारा आपदा प्रबंधन के प्रति बरती गई...

जन आस्था का केंद्र

जन आस्था का केंद्र

दून के संस्थापक श्रीगुरु राम राय जी का पदार्पण तीन सौ वर्ष पूर्व हुआ. सन्‌ 1676 में गुरु महाराज उत्तराखंड की पावन भूमि देहरादून आए. इन दिनों दुर्गम मार्ग से होकर संत समाज को यहां आने के लिए कंटीले मार्ग...

एन डी तिवारी का संघ प्रेम

एन डी तिवारी का संघ प्रेम

कांग्रेस के दिग्गज नेता एन डी तिवारी ने उत्तराखंड सरकार द्वारा आयोजित अटल खाद्यान्न योजना के शुभारंभ कार्यक्रम में भाग लेकर राजनीतिक गलियारे में भूचाल खड़ा कर दिया है. इसे राहुल गांधी के मिशन-2012 को पलीता लगाने वाला क़दम माना...

सबसे सक्रिय सांसद हैं सतपाल महाराज

सबसे सक्रिय सांसद हैं सतपाल महाराज

संसद में जनता की आकांक्षाओं के अनुरूप उनसे जुड़े मुद्दों को प्रमुखता से उठाने के कारण सांसद सतपाल महाराज ने उत्तराखंड के अपने साथी सांसदों को का़फी पीछे छोड़ दिया है. पौ़ढी गढ़वाल लोकसभा सीट से सांसद सतपाल महाराज संसद...

मानवीय हस्‍तक्षेप से तंग जानवर जंग पर आमादा

मानवीय हस्‍तक्षेप से तंग जानवर जंग पर आमादा

जानवरों के लिए सुरक्षित समझे जाने वाले उत्तराखंड के जंगलों में मानवीय द़खल से तंग जानवर आबादी की ओर रु़ख कर रहे हैं. हर दिन एक गजराज की अकाल मौत से राजाजी पार्क सहित पूरे इलाक़े में हड़कंप मचा हुआ...

गढ़वाल का पशु बलि मेलाः जनहित याचिका से जागा प्रशासन

गढ़वाल का पशु बलि मेलाः जनहित याचिका से जागा प्रशासन

उत्तराखंड के गढ़वाल ज़िले के थैलीसैण विकास खंड के बुंखाल मेले में पशु बलि रुकवाने को लेकर पूर्व केंद्रीय पर्यावरण मंत्री मेनका गांधी द्वारा उच्च न्यायालय नैनीताल में दायर जनहित याचिका पहली बार प्रशासन की मुस्तैदी का सबब बनी.

देवभूमि के पंच केदार

देवभूमि के पंच केदार

देवभूमि उत्तराखंड के आस्था एवं पर्यटन के लिए विख्यात गंगोत्री यमुनोत्री, बद्री-केदारनाथ चार-धाम यात्रा की यात्रा सनातन धर्म को मानने वाले करोड़ों हिंदुओं में मोक्ष धाम के रूप में मान्यता प्राप्त है. इन चार धाम यात्रा के मंदिरों के कपाट...

Input your search keywords and press Enter.