fbpx

Tag: प्रत्याशी

बिहार- बगावती तेज प्रताप को बड़ा झटका, शिवहर प्रत्‍याशी अंगेश का नामांकन रद्द

बिहार- बगावती तेज प्रताप को बड़ा झटका, शिवहर प्रत्‍याशी अंगेश का नामांकन रद्द

शिवहर के जिस प्रत्याशी के लिए लालू के लाल तेज प्रताप यादव ने परिवार से बगावत की, पार्टी को छोड़ा उसी प्रत्याशी की वजह से उन्हें झटका लगा है। चुनाव आयोग ने तेज प्रताप समर्थित उम्‍मीदवार अंगेश कुमार सिंह का...

यूपी चुनाव 2017 : सपा ने किया प्रत्याशियों का ऐलान

यूपी चुनाव 2017 : सपा ने किया प्रत्याशियों का ऐलान

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके यूपी चुनावों के लिए प्रत्याशियों के नामों का खुलासा कर दिया है. पार्टी तरफ से 325 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया गया। काफी समय से खबरे आ रही...

बुंदेलखंडः बसपा में कलह

उत्तर प्रदेश का बुंदेलखंड सु़र्खियों में है. वोटों की महाभारत में सबकी नज़र बुंदेली भूमि पर है. वर्ष 1987 के राठ विधानसभा उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी सूबे में पहली बार दूसरे नंबर पर आई थी. यहीं से बुंदेलखंड में...

हिंदी भाषी प्रत्याशी हाशिए पर

हिंदी भाषी प्रत्याशी हाशिए पर

कोलकाता, हावड़ा, उत्तर 24 परगना ज़िले के उपनगरों, आसनसोल, दुर्गापुर और रानीगंज को मिलाकर बने शिल्पांचल, सिलीगुड़ी और उत्तर बंगाल के चाय बागान क्षेत्रों में हिंदीभाषी वोटर निर्णायक भूमिका निभाते रहे हैं.

पश्चिम बंगालः नया इतिहास गढ़ने की तैयारी

पश्चिम बंगालः नया इतिहास गढ़ने की तैयारी

चुनावी मौसम में मुद्दों का क़ब्रिस्तान खोद डालने का रिवाज नया नहीं है और जब मुक़ाबला ऐतिहासिक रूप से कांटे का हो तो उन मुर्दों के कंकाल से विरोधियों को डराने की कोशिश भी होती रही है. पश्चिम बंगाल में...

विजय हुंकार भरने को सेना तैयार

विजय हुंकार भरने को सेना तैयार

बेगूसराय ज़िले में पहली बार हो रहे नगर निगम चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. पूर्व के नगर परिषद चुनाव में जीत हासिल करने के बाद मुख्य पार्षद पुष्पा शर्मा तथा उपमुख्य पार्षद जवाहर लाल भारद्वाज सहित कई...

बेगूसराय नगर निगम चुनावः असल दावेदार महिलाएं हैं

बेगूसराय नगर निगम चुनावः असल दावेदार महिलाएं हैं

बेगूसराय ज़िले में पहली बार हो रहे नगर निगम चुनाव में प्रत्याशी अपने अपने चुनावी मोहरे सजाने लगे हैं. कई दिग्गज प्रत्याशी लक्ष्मीनारायण के बल पर जीत का दावा ठोंक रहे हैं तो कई अपने सौम्य व्यवहार और कुशल नेतृत्व...

लिट्टी-चोखा और मुर्गा-दारू का दौर शुरू

लिट्टी-चोखा और मुर्गा-दारू का दौर शुरू

अक्सर ज़िले में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर सरगर्मी बढ़ती जा रही है. विभिन्न पदों के दावेदार अपनी रणनीति को अंजाम देने के लिए कई तरह के हथकंडे भी आज़मा रहे हैं. बेशक़ इस बार चुनाव में प्रत्याशियों...

उत्तर प्रदेश के विधानसभा उपचुनाव परिणाम: गठबंधन से लड़ने-लड़ाने की चुनौती

उत्तर प्रदेश के विधानसभा उपचुनाव परिणाम: गठबंधन से लड़ने-लड़ाने की चुनौती

बिहार विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के ठीक एक दिन पहले उत्तर प्रदेश की दो विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के परिणाम भी घोषित हुए. इसके पहले उत्तर प्रदेश में पंचायत के चुनाव हुए, जिसे विधानसभा चुनाव के पहले...

समस्‍तीपुरः इतिहास खुद को दोहराएगा

समस्‍तीपुरः इतिहास खुद को दोहराएगा

15वें विधानसभा चुनाव में ज़िले के सभी दस विधानसभा क्षेत्रों में खड़े दिग्गज, दबंग, बाहुबली और 127 निर्दलीय प्रत्याशियों की क़िस्मत अगले 24 नवंबर को खुलने वाली है.

किसके दावे में कितना दम है

किसके दावे में कितना दम है

सीवान ज़िले में चुनाव औसतन शांतिपूर्ण संपन्न हुआ. शहरों, कस्बों और बाज़ारों के चौक-चौराहों और चौपालों पर इस बात की चर्चा ज़ोरों पर रही कि इस बार ज़िले के आठों विधान सभा क्षेत्रों में बाग़ी और निर्दलीय प्रत्याशियों की कड़ी...

चुनावी तड़काः पलक झपकते मिटेगी थकान

चुनावी तड़काः पलक झपकते मिटेगी थकान

टिकट लेने से लेकर वोट मांगने तक की कवायद में कुछ नेता इतने थक गए कि बेचारे हमेशा आह-उह करते नज़र आ रहे हैं. हर बैठक में बस एक ही चर्चा कि रात-दिन जनता के दरवाज़े पर दस्तक देते-देते शरीर...

चेनारीः वादे नहीं जवाब मांगेगी जनता

चेनारीः वादे नहीं जवाब मांगेगी जनता

रोहतास ज़िले के दक्षिणी छोर पर अगर कैमूर की पहाड़ियां झारखंड और उत्तर प्रदेश की सीमाएं छूती हैं तो यहीं से निकटवर्ती कैमूर ज़िले का बंटवारा भी होता है. इन दुर्गम घाटियों में और इसके आसपास रहने वाले लोगों की...

नालंदाः जातीय समीकरण हावी रहेगा

नालंदाः जातीय समीकरण हावी रहेगा

भगवान महावीर और बुद्ध की नगरी नालंदा में मतदाताओं को रिझाने में प्रत्याशियों के पसीने छूट रहे हैं. ज़िले में नए परिसीमन के बाद आठ विधानसभा क्षेत्रों में से चंडी विधानसभा क्षेत्र विलोपित होने से अब केवल सात विधानसभा क्षेत्र...

राजू ने बढ़ाई भाजपा-कांग्रेस की परेशानी

राजू ने बढ़ाई भाजपा-कांग्रेस की परेशानी

भाजपा का गढ़ माना जाने वाला गया नगर विधानसभा क्षेत्र पिछले 20 सालों से भाजपा के डॉ. प्रेम कुमार के क़ब्ज़े में है, लेकिन परिसीमन में भाजपा मतदाताओं का एक प्रमुख हिस्सा पटवा टोली और लखीबाग नवसृजित वजीरगंज विधानसभा क्षेत्र...

दलीय प्रत्‍याशियों की नींद हराम

दलीय प्रत्‍याशियों की नींद हराम

गया ज़िले के नवसृजित विधानसभा क्षेत्र वजीरगंज में बाग़ी प्रत्याशियों ने दलीय प्रत्याशियों की नींद हराम कर दी है. यदि बाग़ी अपनी उम्मीद के अनुरूप मत पा गए तो इस क्षेत्र में एक बड़ा उलटफेर हो सकता है. बाग़ी प्रत्याशियों...

करगहरः कौन बनेगा पहला विधायक?

करगहरः कौन बनेगा पहला विधायक?

नए परिसीमन के बाद अस्तित्व में आए करगहर में चर्चा है कि यहां का पहला विधायक कौन बनेगा? यहां से खम ठोक रहे जदयू के रामधनी सिंह, लोजपा के शंकर कुशवाहा, कांग्रेस के आलोक सिंह, कांग्रेस (जे) के रमेश तिवारी...

चुनावी तड़काः जाना था जापान पहुंच गए…

चुनावी तड़काः जाना था जापान पहुंच गए…

जाना था जापान पहुंच गए चीन समझ गए ना... यह गीत अक्सर किसी न किसी हस्ती पर लागू होता रहता है. हाल में यह दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित पर लागू हुआ. दरअसल हुआ यह कि शीला मोहिउद्दीन नगर विधानसभा...

गयाः डगर आसान नहीं है

गयाः डगर आसान नहीं है

दक्षिण बिहार के केंद्र बिंदु गया ज़िले के दस विधानसभा क्षेत्रों में मगध और बिहार की राजनीति में खुद को दिग्गज मानने वाले प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. बिहार विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी इमामगंज से, पथ निर्माण...

शावकों की बूढ़े शेर से भिड़त

शावकों की बूढ़े शेर से भिड़त

समाजवादियों की धरती जमुई में दो शावकों को बूढ़े शेर का डर सता रहा है. ज़िले के महारथी नरेंद्र सिंह के बेटे अजय प्रताप सिंह एवं जय प्रकाश यादव के भाई विजय प्रकाश यहां से प्रत्याशी हैं और उन्हें कड़ी...

हराने के लिए हमनाम का सहारा

हराने के लिए हमनाम का सहारा

चुनाव जीतने के लिए नेता हर तरह के हथकंडे आज़मा रहे हैं, लेकिन यह हथकंडा कुछ अलग है. राघोपुर और महनार विधानसभा क्षेत्र में विरोधियों को मात देने के लिए उनके हमनाम उम्मीदवार को चुनावी अखाड़े में उतार दिया गया....

कहीं दरक न जाए एनडीए की जमीन

कहीं दरक न जाए एनडीए की जमीन

नीतीश सरकार की उपलब्धियां गिनाकर वोट पाने की चाहत रखने वाले प्रत्याशियों को इस बार झटका लग सकता है. वजह, जीत के बाद उन्होंने आम जनता से सरोकार रखना भी मुनासिब नहीं समझा, शिलान्यास और उद्घाटन करके मीडिया के सामने...

हॉट सीट राघोपुरः घर के लाल और मेहमान में जंग

हॉट सीट राघोपुरः घर के लाल और मेहमान में जंग

राघोपुर एक बार फिर अनोखे चुनावी युद्ध का गवाह बना हुआ है. इस बार यहां घर के लाल सतीश यादव और पांच साल में एक बार दर्शन देने वाली मेहमान राबड़ी देवी के बीच आर-पार की जंग छिड़ी है. वादों...

चुनावी तड़काः मधेपुरा का असली नेता कौन?

चुनावी तड़काः मधेपुरा का असली नेता कौन?

बात फैली कि नीतीश कुमार इस बार मधेपुरा में कैंप करके चुनाव प्रचार करेंगे. इसके बाद तो तराज़ू पर एक तऱफ नीतीश और एक तऱफ शरद यादव को तौलने का सिलसिला शुरू हो गया. टिकट बंटवारे से पहले से ही...

समस्‍तीपुरः आर-पार की लड़ाई में फंसे महारथी

समस्‍तीपुरः आर-पार की लड़ाई में फंसे महारथी

समस्तीपुर के 10 विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले मतदान के लिए सत्तारूढ़ जदयू-भाजपा गठबंधन जहां प्रमुख विपक्षी राजद-लोजपा गठबंधन से आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गया है, वहीं कांग्रेस भी लालू-रामविलास से अलग होकर इस बार सभी सीटों...

सारणः चेहरे और हथकंडे दोनों पुराने

सारणः चेहरे और हथकंडे दोनों पुराने

संपूर्ण क्रांति के प्रणेता लोकनायक जय प्रकाश नारायण की जन्मस्थली सारण के दस विधानसभा क्षेत्रों में तीसरे चरण में मतदान होगा. यहां सभी दलों ने अपने मोहरे बिछा दिए हैं. नामांकन के बाद प्रत्याशी प्रचार कार्य में ज़ोर-शोर से जुट...

सीमांचलः बागी पलट सकते हैं बाजी

सीमांचलः बागी पलट सकते हैं बाजी

कहा जाता है कि राजनीति अनिश्चितताओं का खेल है. कब कौन नेता पाला बदल ले या किसी से हाथ मिला ले, इसकी गारंटी कोई नहीं ले सकता. कभी सीमांचल की राजनीति में राजद के अगुवा एवं लालू के प्रबल सहयोगी...

चुनावी तड़काः बैठे बैठाए मिलेंगे वोट

चुनावी तड़काः बैठे बैठाए मिलेंगे वोट

पुरानी कहावत है कि दो के झगड़े में तीसरे को फायदा मिल जाता है. सुशीला देवी को लोजपा टिकट मिलने से उनसे ख़फा कुछ नेताओं ने इ.धर्मेंद्र को मदद करने का ऐलान कर दिया है. राजद नेता प्रफुल्ल चंद्रघोष ने...

खगडि़याः जनता जवाब मांगने के लिए तैयार

खगडि़याः जनता जवाब मांगने के लिए तैयार

बाढ़, कटाव, बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य और सिंचाई जैसी समस्याओं से आजिज़ खगड़िया की जनता इस बार प्रत्याशियों की चिकनी चुपड़ी बातों में फंसने से परहेज कर रही है. निवर्तमान विधायकों से पाई-पाई का हिसाब मांगने को जनता बेताब है. अन्य...

चुनावी तड़काः पियरलेस एजेंट से बने मुख्यमंत्री

चुनावी तड़काः पियरलेस एजेंट से बने मुख्यमंत्री

राजनीति में कौन कहां कब पहुंच जाए, कहा नहीं जा सकता. इसका प्रत्यक्ष उदाहरण नीतीश कुमार हैं, जो पियरलेस की एजेंटी करते-करते मुख्यमंत्री बन गए. इस बात का खुलासा उनके पुराने मित्र एवं राजद नेता राम बिहारी सिंह ने किया....

Input your search keywords and press Enter.