fbpx

Tag: राजनीति

जनसंघर्ष मोर्चा देगा राजनीतिक विकल्प

जनसंघर्ष मोर्चा देगा राजनीतिक विकल्प

जनसंघर्ष मोर्चा देश की लोकतांत्रिक और बदलाव चाहने वाली ताक़तों का राष्ट्रीय मंच है. इसमें समाजवादी, दलित, आदिवासी-वनवासी और वामपंथी आंदोलन से जुड़ी ताक़तें शामिल हैं. इसका सबसे प्रमुख आंदोलन है, दाम बांधो-काम दो अभियान.

जदयू के नाराज सांसदों और विधायकों की गोलबंदी तेज निशाने पर नी‍तीश

जदयू के नाराज सांसदों और विधायकों की गोलबंदी तेज निशाने पर नी‍तीश

पिछले चार सालों से अपनी मर्जी से सत्ता की राजनीति कर रहे नीतीश कुमार इस समय अब तक की सबसे बड़ी राजनीतिक चुनौती से रूबरू हो रहे हैं. राहुल गांधी के दौरे के बाद तेज़ हुए विपक्षी हमलों और जदयू...

नए ब्राह्मणों से ख़तरा

नए ब्राह्मणों से ख़तरा

भारतीय लोकतंत्र विनाशकारी ख़तरे में है. यह ख़तरा इसे आत्मविश्वासी, आक्रमक, स्पष्टवादी, देशभक्त एवं साधन संपन्न ताक़तों से है. यह ख़तरा इसे संपन्न लोगों की सफलता से है. यह सलाह देना कुछ अतिशयोक्ति वाली बात हो सकती है कि इस...

एक थे जॉर्ज फर्नांडिस!

एक थे जॉर्ज फर्नांडिस, जिन्होंने समाजवादी आंदोलन को भारत में डॉक्टर लोहिया के नेतृत्व में मधुलिमए के साथ मिलकर शानदार शक्ल दी. समाजवादी आंदोलन ने भारतीय राजनीति में नेतृत्व करने वाले ऐसे व्यक्तियों को पैदा किया, जिन्होंने अपने शुरुआती दिनों...

हॉकी के सहारे राजनीति की कोशिश

हॉकी के सहारे राजनीति की कोशिश

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री इन दिनों सामान्य राजनीतिक परिस्थितियों में भी असामान्य राजनीति की ओर बढ़ रहे हैं. उन्होंने मध्य प्रदेश बनाओ यात्रा एवं भारतीय हॉकी टीम के माध्यम से राज्य स्तर पर अपनी पकड़ मज़बूत करने और राष्ट्रीय स्तर...

शशि थरूर की सराहना होनी चाहिए

पुराने दौर में बादशाह के फरमान को खुदा का फैसला माना जाता था. शासन के फैसले स़िर्फ एक शख्स के हाथ में होते थे. वही राज्य का पहला और आ़खिरी न्यायाधीश होता था. समय के साथ-साथ शासन चलाने का तरीक़ा...

आपके जनप्रतिनिधि ऐसे हैं

आपके जनप्रतिनिधि ऐसे हैं

झारखंड की राजनीति में भ्रष्टाचारी और अपराधी ऐसे घुल-मिल चुके हैं, जैसे शर्बत में चीनी. दोनों को एक दूसरे से अलग कर पाना नामुमकिन-सा हो गया है. पिछले चुनाव की तुलना में इस बार ज़्यादा बाहुबली, दा़गी और धनबली चुनाव...

खुल गया विवादों का पिटारा

खुल गया विवादों का पिटारा

राजनीति के पब्लिक स्कूल में पढ़ाई का बस एक ही विषय है घटना. केंद्र के राजनेताओं ने चुप्पी साध कर विवाद को सुलगने दिया. पांच वर्षों के दौरान मिली दो कामयाबी से वे आश्वस्त हैं कि विलंब ही निदान है....

भोपाल गैस त्रासदी कचरा, राजनीति और जनता का दर्द

भोपाल गैस त्रासदी कचरा, राजनीति और जनता का दर्द

ढाई दशक का समय कम नहीं होता, लेकिन पीड़ितों के आंसू पोछने की बात कौन कहे, शासन यूनियन कार्बाइड का ज़हरीला कचरा ही मौक़े से नहीं हटवा सका है, जो आज भी जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहा...

असम में क्यों नाकाम रही क्षेत्रवाद की  राजनीति

असम में क्यों नाकाम रही क्षेत्रवाद की राजनीति

असम में क्षेत्रवाद की राजनीति के भविष्य को लेकर इन दिनों का़फी चर्चाएं हो रही हैं. इस चर्चा के केंद्र में है असम गण परिषद. अपनी स्थापना के साथ ही यह राजनीतिक दल जनता का ध्यान आकर्षित करता रहा है....

धर्म, राजनीति और हमारा संविधान

धर्म, राजनीति और हमारा संविधान

भारतीय संविधान में यह स्पष्ट तौर पर भावना व्यक्त की गई है कि राज्य और राजनीति को सभी प्रकार के धार्मिक विश्वासों से दूर रहना चाहिए, लेकिन दुर्भाग्यवश भारतीय राजनीतिक परिदृश्य और रोज़मर्रा की राजनीति में खुलेआम या छिपे तौर...

मुसलमानों की नही, मदनी को राजनीति की फिक्र है

मुसलमानों की नही, मदनी को राजनीति की फिक्र है

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर ज़िले का देवबंद क़स्बा. पिछले दिनों जमायत-ए-उलेमा-ए-हिंद के 30वें वार्षिक सम्मेलन में यहां लाखों लोग जुटे थे. स़िर्फ और स़िर्फ पुरुष. जमायत-ए-उलेमा-ए-हिंद देवबंदी फिरके के मुस्लिम उलेमाओं का कट्टरपंथी धड़ा है. सूत्रों का दावा है कि...

भाजपा का सबसे ज़्यादा नुक़सान संघ ने किया

भाजपा का सबसे ज़्यादा नुक़सान संघ ने किया

बचपन में हमने एक कहानी पढ़ी थी कि कबूतर के अंडों को यूं ही पड़े देखकर कुछ बच्चों को लगा कि इन्हें एक घोसले में रखा जाए, ताकि अंडे खराब होने से बच जाएं. फिर बच्चों ने बड़े अरमान से...

गन्ने की राजनीति और उसके सवाल

गन्ने की राजनीति और उसके सवाल

बीते 19 नवंबर को दिल्ली का नज़ारा आम दिनों से अलग था. स़डक पर वाहनों की जगह जनसैलाब. हाथों में गन्ने का पौधा लेकर सरकार के खिला़फ नारा लगाते हज़ारों किसान. जंतर-मंतर के एक तऱफ हुक्का गु़डगु़डाते किसान यूनियन के...

राजनीति की भेंट चढता हाकी इंडिया

राजनीति की भेंट चढता हाकी इंडिया

राष्ट्रीय खेल हॉकी की दशा-दुर्दशा से प्राय: हर कोई वाक़ि़फ है और इसकी बीमारी दूर करने की कोशिशों से भी. यह भारत ही हो सकता है, जहां राष्ट्रीय खेल का भविष्य भंवर में फंसा हो. जब तक हॉकी महासंघ के...

राजनीति की असंवैधानिक शैली

राजनीति की असंवैधानिक शैली

नौ नवंबर, 2009 का दिन. भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में यह दिन काले अध्याय के रूप में याद किया जाएगा. इस दिन राज ठाकरे की महाराष्ट्र नव निर्माण सेना के तथाकथित सदस्यों ने न केवल समाजवादी पार्टी के नवनिर्वाचित विधायक...

राजनीतिक दलों के भटकाव की वजह

राजनीतिक दलों के भटकाव की वजह

हार वह दूरी है, जो नींद के पहले सुनी जाने वाली कहानी से शुरू होकर सुबह उठने के अलार्म पर ख़त्म होती है. जहां यह कहानी एक समय की बात है. से शुरू होती है और धीरे-धीरे कहानी सुनने वाला...

पाकिस्तान का दिशाहीन लोकतंत्र और आजाद कश्मीर

पाकिस्तान का दिशाहीन लोकतंत्र और आजाद कश्मीर

पाकिस्तान के संविधान के मुताबिक़, उत्तरी इलाक़ा न तो पाकिस्तान का हिस्सा है और न ही आज़ाद जम्मू-कश्मीर का अंग है. 1949 में आज़ाद जम्मू-कश्मीर की सरकार ने इन इलाक़ों की प्रशासनिक ज़िम्मेदारी पाकिस्तान को सुपुर्द कर दी थी, जो...

डिंपल की नहीं, मुलायम की हार

डिंपल की नहीं, मुलायम की हार

फिरोज़ाबाद लोकसभा क्षेत्र के उपचुनाव के नतीजे ने धरतीपुत्र मुलायम सिंह यादव के क़दमों तले की ज़मीन सरका दी है. बहू डिंपल की शक्ल में ख़ुद सपा प्रमुख को मुंह की खानी प़डी. लेकिन, अभी कुछ ख़ास बिग़डा नहीं है,...

आडवाणी, भागवत और भाजपा का अगला अघ्यक्ष

आडवाणी, भागवत और भाजपा का अगला अघ्यक्ष

भाजपा का अध्यक्ष कौन हो, संघ परिवार चुनाव के बाद से ही इसका जवाब तलाश रहा है. जिस दिन भाजपा चुनाव हार गई, लालकृष्ण आडवाणी के इस्ती़फे की बात चल रही थी, उनके ख़िलाफ़ माहौल बन रहा था, तब मोहन...

कोड़ा या कीड़ा?

कोड़ा या कीड़ा?

पिता जी, मधु कोड़ा है या कीड़ा? पैसा खाने वाला कीड़ा सुना है, 4000 करोड़ रूपए खा गया कीड़ा नहीं बेटा वह झारखण्ड राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री है. ये इतना पैसा क्या करेंगे बेटा कुर्सी मिलने पर पैसे की भूख...

सडक से सियासत

सडक से सियासत

बड़ी ही आत्मीय मुस्कान उभरती है रामविलास पासवान के चेहरे पर. बे़फिक़्री ज़ाहिर करते हुए फरमाते हैं कि हमारी कभी ये ख्वाहिश नहीं थी कि हम सांसद बनें, केंद्रीय मंत्री बनें या देश पर राज करें. ये तो बिहार की...

पचौरी पर भारी पडेंगी तेंदूखेडा की हार

हाल में हुए उपचुनाव के परिणाम तो एक बहाना हैं. असल वजह यह है कि हाईकमान मध्य प्रदेश कांग्रेस के अंदरखाने में पिछले कुछ समय से चल रही आपसी खींचतान से हैरान-परेशान है. इसीलिए वह सूबे में पार्टी का मुखिया...

मेरी दुनिया

मेरी दुनिया

राहुल जी, बहुत लोग आपको पीएम की कुर्सी पर देखना चाहते थे. उन्हे आपने निराश किया अरे, राजनीति में जो होता हैं वह दिखता नहीं और जो दिखता है वह होता नहीं. क्या मतलब? आउट सोर्सिंग का जमाना है. दूसरों...

मेरी दुनिया

मेरी दुनिया

मैं अब राजनीति से संन्यास लेना चाहता हूं. राजनीति से संन्यास? लकिन क्यों? अब में अपनी क्षमता और योग्यता का उपयोग सिर्फ परिवार के कामकाज में करूंगा. क्या?।। ओबामा स्टाइल में हाइटेक मार्केटिंग, विज्ञापन, मीडिया मैंनेजमेंट से लेकर मनमोहन सिंह...

मेरी दुनिया

मेरी दुनिया

मैं अब राजनीति से संन्यास लेना चाहता हूं. राजनीति से संन्यास? लकिन क्यों? आईपीएल—इंडियन पॉलिटिकल लीग. में दुबारा चैंपियन बनने की बधाई हो. थैंक्स। कैसा लग रहा हैं? अरे, हमें तो पसीना आ गया था बैंटिग और फील्डिंग करते—करते पर...

मेरी दुनिया

मेरी दुनिया

आपकी तारीफ?। मैं हार्स ट्रेडर हूं घोडों को इधर—उधर करना मेरा काम है. हार्स ट्रेडर? राजनीति में हार्स ट्रेडर का क्या काम?। अरे, जब इलेक्शन में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलता तो मेरा हुनर काम आता है. खुल...

गोली से नहीं सियासत से शहीद हुए हेमंत करकरे

गोली से नहीं सियासत से शहीद हुए हेमंत करकरे

चार्जशीट में दिए ब्यौरे के मुताबिक इस गिरोह का नेटवर्क भारत से बाहर कई देशों, यहां तक कि इस्लामिक देशों में भी फैला है़ देश की मौजूदा राजनीतिक स्थिति में चार्जशीट में दिए गए तथ्यों की व्याख्या कतई नहीं की...

Input your search keywords and press Enter.