fbpx

Tag: सुशील कुमार शिंदे

एक दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय

एक दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय

नेशनल इन्वेस्टीगेटिंग एजेंसी (एनआईए) के इंस्पेक्टर जनरल लोकनाथ बेहरा को वापस उनके होम कैडर केरल भेजा जा रहा है. यह फैसला बेहद चौंकाने वाला है, क्योंकि यह फैसला तब लिया गया है, जब एजेंसी हाल ही में गिरफ्तार किए गए...

गिरफ्त में आतंकी : सुरक्षा एजेंसियों की नाकामी से बचता रहा भटकल

गिरफ्त में आतंकी : सुरक्षा एजेंसियों की नाकामी से बचता रहा भटकल

आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिदीन के संस्थापक यासीन भटकल की गिरफ्तारी से देश की सुरक्षा एजेसियां और गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे बेहद उत्साहित हैं, लेकिन अगर भटकल की सात साल की जेहादी ज़िन्दगी और उसके द्वारा की गई दहशतगर्दी पर...

सियासी आपदा में बहुगुणा

सियासी आपदा में बहुगुणा

उत्तराखंड आपदा में हज़ारों लोगों की जानें चली गईं, लेकिन आपदा से पहले मौसम विभाग की चेतावनी के बाद भी प्रदेश सरकार ने कोई गंभीरता नहीं दिखाई. हद तो तब हो गई, जब आपदा के बाद बचाव और राहत कार्यों...

सॉफ्ट नहीं, सॉफ्टर कहिए जनाब

सॉफ्ट नहीं, सॉफ्टर कहिए जनाब

बोस्टन और बंगलुरू में बम धमाके हुए. 9/11 के 12 साल बाद हुई यह घटना अमेरिका की आतंकवाद विरोधी पुलिस के लिए एक सदमा थी. जिन लोगों ने इस धमाके की योजना बनाई थी, उनका मक़सद अधिक से अधिक नुक़सान...

बिहार की राजनीति का असली चेहरा

बिहार की राजनीति का असली चेहरा

पिछले दिनों राजधानी दिल्ली के तीन मूर्ति भवन में एबीपी न्यूज़ के एग्जीक्यूटिव एडिटर, डॉ. अनिल सिंह की पुस्तक बिहारः चाओस टू चाओस यानी बिहार अराजकता से अराजकता की ओर का विमोचन किया गया. डॉ. अनिल सिंह देश के जाने-माने...

एक चुनौतीपूर्ण समय

एक चुनौतीपूर्ण समय

देश एक कठिन समय से गुज़र रहा है, मुद्दे कई हैं, जिन्हें चुनाव से पहले तक निपटाना है, लेकिन सवाल यह उठता है कि क्या ये मुद्दे समय रहते निपट जाएंगे? चौथी दुनिया का विश्‍लेषण… अगर रिश्‍वत की बात छोड़...

यह देश के तंत्र के मुंह पर एक तमाचा है

यह देश के तंत्र के मुंह पर एक तमाचा है

हैदराबाद में दो धमाके हुए. आधिकारिक तौर पर 14 लोगों की जानें गईं और अनाधिकारिक रूप से बीस से ज़्यादा लोगों की जानें गईं. दैनिक अख़बार इस घटना को टेलीविजन की तरह रिपोर्ट कर रहे हैं, पर यहां कुछ दूसरे...

Input your search keywords and press Enter.