fbpx

Tag: ellection

टकराव से सरकार को फायदा नहीं होगा

टकराव से सरकार को फायदा नहीं होगा

चुनाव में अभी चार साल का वक्त है. मौजूदा वक्त मतदाता का ध्यान अपनी तऱफ आकर्षित करने का नहीं है. अगले चुनाव में मतदाता इस आधार पर मतदान करेगा कि 2018-19 में देश की हालत क्या रहती है. जितनी जल्दी...

मोदी सरकार की मुश्किलें

नौकरशाहों के लिए यह एक पुरानी कहावत है, वे चार और अधिकारी पैदा करेंगे, जो चार और डेस्क बनाएंगे. यही कार्य संस्कृति है और इसे बदलने के लिए प्रशासनिक सुधार की ज़रूरत है. बजट पेश होने के क़रीब एक महीने...

जम्मू-कश्मीर : भाजपा की जीत नहीं तो हार भी नहीं

जम्मू-कश्मीर : भाजपा की जीत नहीं तो हार भी नहीं

भाजपा इसी तरह की कोशिशें घाटी के उन चुनाव क्षेत्रों में भी कर रही है, जहां मुहाजिर कश्मीरी पंडितों का अच्छा-खासा वोट बैंक है और मुसलमान वोट या तो बहिष्कार के चलते प्रभावहीन हो जाता है या फिर अधिक उम्मीदवारों...

चीन को चीन के अंदाज़ में जवाब

चीन को चीन के अंदाज़ में जवाब

भारत को अच्छी तरह से मालूम है कि चीन सागर के उत्तर में चीन का जापान के साथ विवाद है. उसी विवाद से निपटने के लिए प्रधानमंत्री शिंजो अबे जापान के शांतिवादी संविधान में संशोधन के बिना उससे बाहर निकलने...

मध्य प्रदेश: नगर निगम और निकाय चुनावक्या व्यापम घोटाला कांग्रेस के लिए संजीवनी साबित होगा?

मध्य प्रदेश: नगर निगम और निकाय चुनावक्या व्यापम घोटाला कांग्रेस के लिए संजीवनी साबित होगा?

मध्य प्रदेश में नगर निकाय चुनावों का बिगुल बज चुका है. राज्य में नगर निगम और नगरीय निकायों में 28 नवंबर व 02 दिसंबर को चुनाव होंगे. 4 व 6 दिसंबर को परिणाम आ जाएंगे. तब यह सिद्ध हो जाएगा...

कालाधन लाने के लिए विशेषज्ञों की ज़रूरत है, नेताओं की नहीं

काले धन और कांग्रेस पार्टी के मुद्दे पर जितनी जल्दी कोई समाधान निकले, उतना ही अच्छा होगा. काले धन को वहां से निकालने के लिए क्या सुझाव है, इसके बारे में काफी कम सुना गया है और इसकी जगह सारा...

उलझ गए यूपीए और एनडीए के तार

उलझ गए यूपीए और एनडीए के तार

राज्य में यूपीए और एनडीए, दोनों गठबंधनों के तार उलझ-से गए हैं. विधानसभा चुनाव 2014 के लिए अधिसूचना जारी होने में अब कुछ ही दिन शेष बचे हैं, लेकिन अभी तक झारखंड में यूपीए और एनडीए गठबंधन में शामिल दलों...

खिलाड़ी बने राजनीति खिलाड़ी

खिलाड़ी बने राजनीति खिलाड़ी

लोकसभा चुनाव आते ही राजनीतिक पार्टियों में नए-नए लोगों का आना-जाना शुरू हो जाता है. खिलाड़ी भी इससे अछुते नहीं हैं. खिलाड़ियों का भी राजनीति में आना शुरू हो जाता है. यह ऐसा नहीं है कि यह पहली बार है...

भारतीय मुसलमान और 2014 का आम चुनाव

भारतीय मुसलमान और 2014 का आम चुनाव

भारत की 16वीं लोकसभा का चुनाव कथित भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में एक महत्वपूर्ण पड़ाव है. गत दस वर्षों की कांग्रेस हुकूमत के दौरान जनता के धन एवं संपदा की गई लूट के रूप में मनमोहन-सोनिया गांधी का नेतृत्व अपने...

पार्टियों में आंतरिक लोकतंत्र की ज़रूरत

पार्टियों में आंतरिक लोकतंत्र की ज़रूरत

जब मैं लेबर पार्टी में शामिल हुआ था, तो उस समय मुझे यह समझाया गया था कि मैं किस तरह संसद पहुंच सकता हूं. इसका मतलब यह था कि मैं भावी उम्मीदवारों की सूची में किस तरह अपना नाम शामिल...

पहले विचारधारा स्पष्ट कीजिए

राजनीतिक दलों के भीतर अचानक बढ़ी गतिविधियों ने चुनावी परिदृश्य में कई नए मोड़ ला दिए हैं. मीडिया हमें यह यकीन दिलाना चाहता है कि सब लोग भाजपा की ओर भागना चाहते हैं. यह उन राज्यों के लिए कुछ हद...

जिन्हें अपने ही देश में वोट देने का हक़ नहीं

जिन्हें अपने ही देश में वोट देने का हक़ नहीं

क्या मेघालय हिंदुस्तान का हिस्सा नहीं है? अगर यह सूबा इस देश का अंग है, तो मेघालय के क़रीब सात हज़ार लोगों को आज़ादी के 66 वर्षों बाद भी वोट देने का अधिकार क्यों नहीं है? आख़िर देश के बाकी...

दांव पर दिग्गजों की प्रतिष्ठा

दांव पर दिग्गजों की प्रतिष्ठा

विभिन्न राजनीतिक दलों ने राज्य में लोकसभा चुनाव के लिए कमर कस ली है. वे यहां की 14 सीटों में से अधिक से अधिक अपने खाते में करने की कोशिश कर रहे हैं. राज्य के कई राजनीतिक दिग्गजों की प्रतिष्ठा...

चुनावी महाकुंभ में फिल्मी सितारे

चुनावी महाकुंभ में फिल्मी सितारे

कांग्रेस, भाजपा एवं अन्य राजनीतिक दल चुनावों में फिल्म जगत के चुनिंदा सितारों को अपने प्रचारक के रूप में पेश करते थे, जिससे वे जनता का वोट बटोरने में काफी हद तक सफल भी होते रहे. समय बदला, चुनाव हाईटेक...

सवाल जीत-हार का नहीं, प्रतिष्ठा का

सवाल जीत-हार का नहीं, प्रतिष्ठा का

निराला शहर वाराणसी दुनिया भर में मशहूर है. गंगाघाट, अल्हड़पन, धार्मिकता, संगीत और ऐसी अनगिनत खूबियां यह शहर स्वयं में समेटे हुए है. राजनीति तो जैसे इस शहर की धमनियों में बहती है. स़िर्फ इतना ही नहीं, देश के कई...

गांधी की विरासत नहीं बदल सकी अमेठी की किस्मत

गांधी की विरासत नहीं बदल सकी अमेठी की किस्मत

अमेठी संसदीय क्षेत्र से नेहरू-गांधी परिवार का रिश्ता बहुत पुराना है. अमेठी में इस परिवार का आगमन 1975 में हुआ था. तब तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के छोटे बेटे संजय गांधी ने अमेठी के अतिपिछड़े गांव खेरौना में काम करना...

आजमगढ़ : मुलायम की मुश्किल

आजमगढ़ : मुलायम की मुश्किल

समाजवादी पार्टी का हमेशा मजबूत गढ़ माना जाने वाला आजमगढ़ इस बार मुलायम सिंह के लिए पेचीदगी भरा साबित हो रहा है. सपा का सामाजिक समीकरण बुरी तरह फंस गया है. 20 फ़ीसद यादव और 25 फ़ीसद मुसलमानों के सहारे...

किताबों में लोकप्रिय मोदी

किताबों में लोकप्रिय मोदी

लोकसभा चुनाव सिर पर हैं. सियासी बिसात पर हर तरह की चालें चली जा रही हैं. सियासत के इस खेल में प्यादे से लेकर वजीर एवं बादशाह तक पूरी तरह से मशरूफ हो चुके हैं. हर दल किसी न किसी...

दिल्ली और एनसीआर में किस करवट बैठेगा ऊंट

दिल्ली और एनसीआर में किस करवट बैठेगा ऊंट

पिछले साल चार राज्यों में विधानसभा के चुनाव हुए थे. सियासी जानकारों को उम्मीद तो यही थी कि इन चारों राज्यों में भगवा ध्वज अपने पूरे उफान के साथ फहराएगा, लेकिन चार दिसंबर को आए नतीजों में अगर किसी ने...

भारत को विचार करना चाहिए

भारत को विचार करना चाहिए

साठ के ही दशक के एक और चर्चित व्यक्ति थे, नेविल मैक्सेल, जिन्होंने हाल में सुर्खियां बनाईं. उन्हें 1967 में की गई उनकी उस भयानक भविष्यवाणी के लिए याद किया जाता है, जिसमें उन्होंने कहा था कि यह भारत का...

ब्रू शरणार्थियों के लिए बेमानी है लोकतंत्र का यह महापर्व

ब्रू शरणार्थियों के लिए बेमानी है लोकतंत्र का यह महापर्व

चुनाव में जनता के लिए मतदान से बढ़कर कुछ भी नहीं होता, लेकिन जिन्हें मतदान से वंचित कर दिया जाए उनके लिए लोकतंत्र के महापर्व का क्या अर्थ रह जाता है? दरअसल, मिजोरम के बू्र जनजाति पिछले पंद्रह वर्षों से...

क्या कश्मीरी अवाम मोदी को पसंद करने लगी हैं?

क्या कश्मीरी अवाम मोदी को पसंद करने लगी हैं?

लगता है कि पूरे हिंदुस्तान में ज़बरदस्त मोदी लहर चलाने के बाद भाजपा एक मात्र मुस्लिम राज्य यानी जम्मू-कश्मीर की जनता को रिझाने की जी तोड़ कोशिश कर रही है. जम्मू-कश्मीर एक ऐसा राज्य, जहां कि मुस्लिम आबादी के बारे...

सभी दलों को रास आ रहे बाहुबली

सभी दलों को रास आ रहे बाहुबली

बात ज़्यादा पुरानी नहीं है. जब सुप्रीम कोर्ट नेे देश की राजनीति को अपराध मुक्त बनाने के लिए एक अहम फैसला दिया था, तब एक बार तो ऐसा लगा, मानों अब बहुत हुआ, भविष्य में राजनीति से अपराध की छाया...

मोदी के जाल में केजरीवाल

मोदी के जाल में केजरीवाल

वाराणसी से चुनाव लड़ने का अरविंद केजरीवाल का ़फैसला उनकी पार्टी के लिए आत्मघाती साबित हो सकता है. होना तो यह चाहिए था कि केजरीवाल स्वयं चुनाव मैदान में कूदने की बजाय अपने प्रत्याशियों को लड़ाने पर ज़्यादा ध्यान देते....

वादे हैं वादों का क्या

वादे हैं वादों का क्या

पिछले 20 सालों में इसी खुली और प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था, जिसे वित्त मंत्री रहते हुए मनमोहन सिंह ने शुरू किया था, की देन है कि आज इस देश में कोयला, पानी, हवा, तरंग में भी लाखों करा़ेडों के घोटाले होते है....

जम्मू में पारंपरिक उम्मीदवारों को ख़तरा

जम्मू में पारंपरिक उम्मीदवारों को ख़तरा

पांच चरणों में होने वाले संसदीय चुनावों के तीसरे चरण यानी दस मई को एक दर्जन राज्यों और तीन केंद्र शासित प्रदेशों में कुल 92 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. इनमें जम्मू संसदीय सीट भी शामिल है. इस बार...

नशा: लत, बेबसी या फैशन?

नशा: लत, बेबसी या फैशन?

कुछ माह पहले सरकार और अदालत का फरमान आया था कि सार्वजनिक एवं भीड़भाड़ वाले स्थानों पर सिगरेट-तंबाकू का सेवन दंडनीय अपराध है. यदि कोई शख्स ऐसे स्थान पर सिगरेट पीता पकड़ा जाएगा, तो उसे जुर्माना देना होगा. सरकारी एवं...

जातीय चाशनी में सराबोर चुनावी पुआ

जातीय चाशनी में सराबोर चुनावी पुआ

बिहार में चुनावी पुआ का स्वाद तभी स्वादिष्ट होता है जब उसे जातीय चाशनी में डूबोेकर परोसा जाए. कहने को तो सभी दल इस तरह के पुए से परहेज करते हैं पर हर चुनाव की यही कहानी है कि पुआ...

कांग्रेस के लिए चुनावी राह आसान नहीं

कांग्रेस के लिए चुनावी राह आसान नहीं

भारत-नेपाल सीमा से सटे बहराइच लोकसभा (सु) सीट से सांसद कमांडो कमल किशोर को प्रत्याशी बनाए जाने से स्थानीय कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में बेहद नाराज़गी और गुस्सा है. वहीं कैसरगंज लोकसभा सीट से एनआरएचएम घोटाले में गाज़ियाबाद स्थित विशेष सीबीआई कोर्ट...

Input your search keywords and press Enter.