fbpx

Tag: Nitish

24 घंटे- 10 मर्डर, 5 अपहरण और 10 बलात्कार, बिहार में फिर लौटा गुंडाराज

24 घंटे- 10 मर्डर, 5 अपहरण और 10 बलात्कार, बिहार में फिर लौटा गुंडाराज

बिहार: बढ़ते अपराध की वजह से बिहार में एकबार फिर जंगल राज जैसी स्थिति बनती दिख रही है, सुशासन बाबू के राज में गुंडाराज अपने चरम पर पहुँच गया है. पुलिस को चुनौती देते हुए अपराधियों ने बिहार को फिर...

2019: नीतीश के लिए कितना मुफीद रहेगा बिहार का जातीय-राजनीतिक समीकरण…

2019: नीतीश के लिए कितना मुफीद रहेगा बिहार का जातीय-राजनीतिक समीकरण…

बिहार के चुनावी समीकरण में जातीय  समीकरण की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण होती है. राज्य के लगभग 16 प्रतिशत दलित-महादलित और करीब 38-40 प्रतिशत अतिपिछड़ी आबादी की भूमिका भी इस दिशा में काफी अहम है. वैसे तो नीतीश कुमार ने अपने...

किससे खफा थे तब पीके…

किससे खफा थे तब पीके…

संसदीय चुनाव में मोदी के नेतृत्व में भाजपा की ऐतिहासिक जीत में प्रशांत किशोर की चुनावी रणनीति का योगदान कितना रहा और कितना यूपीए सरकार के भ्रष्टाचार व उसके खिलाफ आम लोगों के गुस्से का, यह कहना कठिन है. लेकिन...

जानिए कौन है जद (यू) में नंबर दो

जानिए कौन है जद (यू) में नंबर दो

नीतीश कुमार ने पेशेवर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को अपने दल की सदस्यता दिलवाते वक्त कहा कि ‘पीके दल का भावी चेहरा हैं.’ नीतीश कुमार की यह घोषणा जद (यू) के कई ‘चेहरों’ के रंग उड़ाने के लिए काफी थी....

विपक्षी एकता: एक कदम आगे, दो कदम पीछे

विपक्षी एकता: एक कदम आगे, दो कदम पीछे

  उत्तरप्रदेश: 2019 के आगे भी खेल है सबसे पहले बात देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की, जहां लोक सभा की 80 सीटें हैं. पिछले लोक सभा चुनाव में भाजपा की भारी जीत में इस राज्य का बड़ा...

बिहार: कैसे होगा सीट बंटवारा

बिहार: कैसे होगा सीट बंटवारा

सूबे में एनडीए के भीतर लोकसभा सीटों के बंटवारे को लेकर अब खुलेआम घमासान मचना शुरू हो गया है. नीतीश कुमार ने अपनी कोर टीम के साथ गहन मंथन के बाद इशारों ही इशारों में ऐलान करवा दिया कि जद...

2018 में जारी रहेगा बिहार का सियासी ड्रामा  

2018 में जारी रहेगा बिहार का सियासी ड्रामा 

बिहार के लिए 2017 बनते-बिगड़ते सियासी समीकरणों का साल रहा. नीतीश का महागठबंधन से अलग होकर भाजपा के साथ गठजा़ेड ने बिहार की राजनीति में एक तरह से सियासी भूचाल ला दिया. लालू ने नीतीश को विश्‍वासघाती कहा, तो नीतीश...

नीतीश की मांग पर मोदी की ‘ना’

नीतीश की मांग पर मोदी की ‘ना’

नीतीश कुमार द्वारा महागठबंधन को रातोंरात बाय-बाय कह कर एनडीए के साथ सरकार बना लेने का ढाई महीने से भी कम समय गुजरा है. इन ढाई महीनों में नीतीश को पीएम मोदी से यह चौथी बड़ी मायूसी हाथ लगी है....

RJD ने दी JDU को धमकी, कहा – हमारे पास 80 विधायक, जो कहेंगे वही होगा!

RJD ने दी JDU को धमकी, कहा – हमारे पास 80 विधायक, जो कहेंगे वही होगा!

 नईा दिल्ली। बिहार की सियासत में आखिर में वो शब्द सुनाई दिए जिसका इंतजार बीजेपी लंबे अरसे से कर रही थी। आरजेडी और जेडीयू के विधायकों के बीच बयानबाजी की तलवारें खुलकर खींच गई हैं। आरजेडी विधायक भाई वीरेंद्र नीतीश...

दूर तक जाएगी यह मानव श्रृंखला

दूर तक जाएगी यह मानव श्रृंखला

बिहार ने 21 जनवरी को इतिहास रच डाला और यह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खाते में दर्ज हुआ है. सूबे की तीन करोड़ से अधिक आबादी ने मानव श्रृंखला में एक-दूसरे का हाथ थाम ‘नशा को ना’ कहा, नशा-मुक्त बिहार...

मोदी मैजिक पर एनडीए की नैया

मोदी मैजिक पर एनडीए की नैया

भाजपा के स्टार प्रचारक और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाओं में उमड़ रही भीड़ को अगर पैमाना मान लिया जाए, तो यह कहने में जरा भी हिचक नहीं होनी चाहिए कि 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए की नैया...

कहती है एडीआर रिपोर्ट कोई दल पाक-सा़फ नहीं

कहती है एडीआर रिपोर्ट कोई दल पाक-सा़फ नहीं

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) ने बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के उम्मीदवारों द्वारा दाखिल किए गए हलफनामों के आधार पर उनके वित्तीय, आपराधिक एवं अन्य विवरणों पर एक रिपोर्ट जारी की है. साथ में एडीआर ने अपना एक...

जुर्म से ज़्यादा सजा पर बवाल

जुर्म से ज़्यादा सजा पर बवाल

जदयू के बागी विधायकों को तारीख पर तारीख दी जा रही है. बागी नेता ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू का आरोप है कि विधानसभा अध्यक्ष जदयू प्रमुख के दबाव में काम कर रहे हैं. लगता है, उन्होंने यह मन पहले ही बना...

राजनीतिक विकल्प की मुश्किलें : तीसरा मोर्चा और नीतीश की दुविधा

राजनीतिक विकल्प की मुश्किलें : तीसरा मोर्चा और नीतीश की दुविधा

बात समता पार्टी के दिनों की है. तब नीतीश और उनकी समता पार्टी का बिहार में माले के साथ गठबंधन हुआ था. दोनों ने मिलकर चुनाव भी लड़ा था. छह सीटें हाथ लगी थीं. आशा के अनुरूप फल नहीं मिलने...

भ्रष्टाचार मुक्त बिहार का सपना खोखला साबित : हर तरफ़ लूट की खुली छूट

भ्रष्टाचार मुक्त बिहार का सपना खोखला साबित : हर तरफ़ लूट की खुली छूट

नीतीश सरकार भले ही सुशासन की दुहाई देकर भ्रष्टाचारियों की नाक में नकेल डालने के दावे करती हो, लेकिन हक़ीक़त यह है कि भ्रष्टाचारियों को लूट की छूट मिली हुई है. सड़क से लेकर सदन तक भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने...

नीतीश जी सुशासन कहां है

नीतीश जी सुशासन कहां है

बिहार को आगे बढ़ाने और संवारने का सपना न केवल नीतीश सरकार ने देखा है, बल्कि यह सपना हर एक बिहारी के दिल में पिछले छह सालों से पल रहा है. न्याय की पटरी पर तेजी से विकास की दौड़ती...

सुशासन बाबू की कहानी

सुशासन बाबू की कहानी

नीतीश कुमार की सरकार ने बिहार में अपने सुशासन के छह साल पूरे कर लिए. सूबे की जनता ने नीतीश के कामों को देखते हुए प्रचंड बहुमत से उन्हें दूसरी बार सूबे की सत्ता सौंप दी थी. नीतीश कुमार देश...

बिहार सरकार के सुशासन का सच

बिहार सरकार के सुशासन का सच

नीतीश कुमार की पहली सरकार को का़फी अच्छे अंक मिले, लेकिन अब पैमाना बदला है. एनडीए के लाख चाहने के बावजूद जनता नीतीश सरकार की दूसरी पारी की तुलना लालू-राबड़ी के शासनकाल से नहीं, बल्कि इस सरकार की पहली पारी...

गोधरा फ़ैसला: छलनी से ज्यादा छेद

गोधरा फ़ैसला: छलनी से ज्यादा छेद

बीती 22 फ़रवरी को सत्र न्यायालय ने गोधरा रेल आगज़नी मामले में अपना फैसला सुनाया. अदालत ने गुजरात सरकार के इस आरोप को सही ठहराया कि स्थानीय मुसलमानों ने साबरमती एक्सप्रेस के एस-6 कोच में आग लगाने का षड्‌यंत्र रचा...

दागी मंत्री जनादेश का अपमान

दागी मंत्री जनादेश का अपमान

बिहार की नीतीश सरकार में शामिल दागी मंत्रियों को लेकर विपक्ष का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया है. विपक्षी नेताओं का मानना है कि इस तरह की कैबिनेट जनादेश का अपमान है.

बीमार और खास्ताहाल

बीमार और खास्ताहाल

बिहार की सबसे बड़ी और सबसे अधिक राजस्व देने वाली गुलाबबाग मंडी नीतीश के शासन में भी बदइंतजामी की मिसाल बनी हुई है. हालत यह है कि लोग गुलाबबाग मंडी जाने के नाम पर नाक-भौंह सिकोड़ने लगते हैं. बिहार सरकार...

सीमांचल:पब्लिक को सब मालूम है

सीमांचल:पब्लिक को सब मालूम है

अभी बिहारी जनता का मन बदल गया है. वह विकास, शांति और स्वास्थ्य व्यवस्था का अर्थ समझने लगी है. इस बार यहां केमतदाताओं ने खुलकर एनडीए के पक्ष में मतदान किया. लेकिन वहीं किशनगंज में तस्लीम फैक्टर जदयू को फायदा...

कहां गेलौअ तोर सुशासन ए नीतीश जी…

कहां गेलौअ तोर सुशासन ए नीतीश जी…

केना बनते पुआ-पुरी नै छै घर में राशन ए नीतीश जी...कहां गेलौअ तोर सुशासन ए नीतीश जी! अर्थात घर में राशन नहीं है, कैसे बनेंगे पकवान? कहां गया आपका सुशासन नीतीश जी! चर्चित गायक सुनील छैला बिहारी ने इस गीत...

नीतीश जी, यह खतरे की घंटी है

नीतीश जी, यह खतरे की घंटी है

नौ मई को बिहार के लोगों की निगाहें पटना के गांधी मैदान पर टिकी थीं. बटाईदारी को लेकर बुलाई गई महापंचायत में आने वाली भीड़ पर हर दल के नेताओं और राजनीतिक विश्लेषकों की नजर थी. महापंचायत में शामिल नेता...

नीतीश ने बिहारियों को धोखा दिया : पासवान

नीतीश ने बिहारियों को धोखा दिया : पासवान

रामविलास पासवान हाजीपुर से भले ही लोकसभा का चुनाव हार गए हों, लेकिन शायद ही कोई ऐसा दिन गुज़रता है जब उनके पटना स्थित आवास पर वहां के लोगों की भीड़ न देखी जाए. बात करने पर पता चला कि...

पेपर मिल चालू नहीं हो सकी

पेपर मिल चालू नहीं हो सकी

शासन और विकास को अमलीजामा पहनाने की कवायद करने वाली राज्य की नीतीश सरकार भी बैजनाथपुर पेपर मिल की चिमनी से धुआं उगलवाने में नाकाम साबित हो रही है. हालांकि खगड़िया के वर्तमान सांसद एवं सूबे के तत्कालीन उद्योग मंत्री...

गांधी जी और बटक मियां

गांधी जी और बटक मियां

लंदन से दक्षिण अफ्रीका लौटते व़क्त राष्ट्रपिता गांधी ने जो संवाद लिखा था, वह बाद में हिंद स्वराज के नाम से पुस्तकाकार भी छपा. इस पुस्तक के प्रकाशन के सौ साल पूरे होने पर बुद्धिजीवियों के बीच जमकर बहस-मुहाबिसा हुआ....

महारथी मात खा गए

महारथी मात खा गए

जनता का फैसला सुन सियासी दल और उनके रहनुमा हैरान- परेशान हैं. खंडित जनादेश न तो झारखंड की मांग थी और न ही नेता ऐसा चाहते थे. सभी दिग्गज नेताओं को लग रहा था कि पिछले नौ सालों से ठगे...

Input your search keywords and press Enter.