EVONEWS

Tag: Right to Information

जन्मदिन विशेष: 1991, जब मनमोहन सिंह को बलि का बकरा बनाना चाहते थे राव

जन्मदिन विशेष: 1991, जब मनमोहन सिंह को बलि का बकरा बनाना चाहते थे राव

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भारतीय अर्थव्यवस्था से जुड़े हर अहम पद पर रहे हैं. बतौर प्रधानमंत्री उनके दो कार्यकालों में भी काफी अंतर रहा है. एक तरफ जहां पहले कार्यकाल में सूचना के अधिकार (आरटीआई) जैसे कई बड़े फैसले लिए...

RBI का बड़ा फैसला, नहीं खुलेगा देश में इस्लामिक बैंक

RBI का बड़ा फैसला, नहीं खुलेगा देश में इस्लामिक बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने देश में इस्लामिक बैंक खोलने को लेकर एक फैसला किया है. RBI ने अपने फैसले में इस्लामिक बैंक खोलने से मना कर दिया है. सूचना के अधिकार (RTI) के तहत पूछी गई जानकारी के जवाब...

वज़ी़फा वितरण में हुई अनियमितता के बारे में जानें

वज़ी़फा वितरण में हुई अनियमितता के बारे में जानें

विद्यालयों में वजीफा वितरण में होने वाली अनियमितता और धांधली आम है. जिन जरूरतमंद बच्चों को इसका फायदा मिलना चाहिए उनमें से अधिकतर इससे वंचित रह जाते हैं और उन्हें मिलने वाली राशि भी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती है....

सूचना का अधिकार, आपका हथियार

सूचना का अधिकार, आपका हथियार

भारत एक लोकतांत्रिक देश है. लोकतांत्रिक व्यवस्था में आम आदमी ही देश का असली मालिक होता है. इसलिए जनता को ये जानने का हक़ है कि जो सरकार उसकी सेवा के लिए बनाई गई है, वो कैसे, कहां और क्या...

रोजगार गारंटी के तहत जॉब कार्ड के आवेदन का विवरण

रोजगार गारंटी के तहत जॉब कार्ड के आवेदन का विवरण

सेवा में, लोक सूचना अधिकारी (विभाग का नाम) (विभाग का पता) विषय : सूचना के अधिकार अधिनियम, 2005 के तहत आवेदन. महोदय, मैं…………………ग्राम का निवासी हूं. मैंने मनरेगा के तहत दिनांक……………..को जॉब कार्ड के लिए आवेदन किया था. इस सम्बंध...

सूचना के सिपाहियों का, क़ब्रगाह बनता जा रहा है ओड़ीशा

सूचना के सिपाहियों का, क़ब्रगाह बनता जा रहा है ओड़ीशा

जिस सूचना के अधिकार (आरटीआई) को सुशासन का सशक्त हथियार बताया जाता है, वही अब आरटीआई कार्यकर्ताओं के लिए जानलेवा बनता जा रहा है. अप्रैल 2016 मेें मिले एक आरटीआई जवाब में बताया गया था कि ओ़डीशा में अब तक...

दिल्ली का बाबू : उच्चपदों पर रिक्तियां

दिल्ली का बाबू : उच्चपदों पर रिक्तियां

नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो, पवन हंस हेलीकॉप्टर्स जैसी बिना प्रमुखों के चलने वाली हवाई संस्थाओं की संख्या में इज़ाफ़ा होता जा रहा है. नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) भी जल्दी ही इस सूची में शामिल...

एक नहीं, देश को कई केजरीवाल चाहिए

एक नहीं, देश को कई केजरीवाल चाहिए

साधारण पोशाक में किसी आम आदमी की तरह दुबला-पतला नज़र आने वाला शख्स, जो बगल से गुजर जाए तो शायद उस पर किसी की नज़र भी न पड़े, आज देश के करोड़ों लोगों की नज़रों में एक आशा बनकर उभरा...

सूचना क़ानून: कुछ अहम सवाल

सूचना क़ानून: कुछ अहम सवाल

सूचना कौन देगा सभी सरकारी विभागों के एक या एक से अधिक अधिकारियों को लोक सूचना अधिकारी नियुक्त किया गया है. आपको अपना आवेदन उनके पास ही जमा कराना है. यह उनकी ज़िम्मेदारी है कि वे आपके द्वारा मांगी गई...

समस्याएं अनेक समाधान एक

समस्याएं अनेक समाधान एक

आज देश में एक धारणा बन गई है कि किसी भी सरकारी कार्यालय में बिना रिश्वत दिए कोई काम नहीं कराया जा सकता है. बहुत हद तक यह विचार सही भी है, क्योंकि भ्रष्टाचार उस सीमा तक पहुंच गया है,...

घूस को मारिए घूंसा

घूस को मारिए घूंसा

चौथी दुनिया सूचना का अधिकार क़ानून अभियान के ज़रिए अपने पाठकों को बता रहा है कि कैसे आरटीआई क़ानून का इस्तेमाल कर आम आदमी भ्रष्ट तंत्र पर नकेल कस सकता है. कैसे यह क़ानून आम आदमी की रोज़मर्रा की समस्याओं...

Input your search keywords and press Enter.